गुरुवार, 7 अप्रैल 2011

भ्रष्टाचार और गरीवी : फ़िलहाल बातें ही बातें ...

भ्रष्टाचार और गरीवी : फ़िलहाल   बातें  ही बातें ...
भ्रष्टाचार के विरुद्ध तब तक कोई भी कामयाब नहीं हो सकता , जब तक की हम हर व्यक्ति के १८ साल के (वयस्क )होनें पर संपत्ति को रिकार्ड करें ..,और हर साल दर साल  यह रिकार्ड होना चाहिए .., तभी यह नियंत्रण हो सकता है ..! वर्त्तमान में सरकार सम्पत्ति के रिकार्ड की पुख्ता व्यवस्था नहीं करती .., इसी कारण सारी चोर बजारी चल रही है ..! अन्ना हजारे की कोई भी मुहीम आम आदमी के काम की नहीं है .., क्यों की आम आदमी को चाहिए सम्पत्ति और संसाधनों में हिस्सेदारी .., जो क़ी उनकी मांग में शामिल नहीं है ..! देश के आम आदमी के लिए कुछ किये बिना देश की तक़दीर और तस्वीर नहीं बदल सकती ..!
अरविन्द सिसोदिया , कोटा, राजस्थान |
9414180151

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें