सोमवार, 1 अगस्त 2011

3 अगस्त : भाजपा किसान मोर्चा की ओर से नई दिल्ली में संसद पर प्रदर्शन किया जाएगा


कोटा | भाजपा किसान मोर्चा की ओर से किसानों की समस्याओं और कृषि भूमि अवाप्ति को लेकर नई नीति बनाने की मांग को लेकर 3 अगस्त 2011को नई दिल्ली में संसद पर प्रदर्शन किया जाएगा। मोर्चा के राजस्थान प्रदेश उपाध्यक्ष डा.एल. एन. शर्मा ने पत्रकार वार्ता में बताया कि इस प्रदर्शन में हाडोती से भी कार्यकर्ता शामिल होंगे हैं। वार्ता में मौजूद भाजपा कोटा जिला उपाध्यक्ष अरविन्द सिसोदिया , मोर्चा के प्रदेश मंत्री ब्रजराज सिंह गावड़ी,प्रदेश प्रवक्ता केवलकृष्ण बांगड़ ,मोर्चा अध्यक्ष रामलाल माली , मोर्चा महामंत्री मुकुट  नागर , मोर्च के जिला उपाध्यक्ष डा. आर. सी. गौतम इत्यादि !   



इस रैली को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतिन गडकरी, लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज, किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश धनकड़ सहित वरिष्ठ नेता संबोघित करेंगे।
शिमला— बीज विधेयक-भूमि अधिग्रहण बिल पारित करने को देश भर के किसान दिल्ली में जुटेंगे। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक भाजपा प्रदेश कार्यालय दीपकमल में प्रदेशाध्यक्ष प्यारे लाल शर्मा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश धनकड़, प्रदेश महामंत्री चंद्रमोहन ठाकुर, प्रदेश भाजपा प्रवक्ता गणेश दत्त, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुरेश चंदेल, राष्ट्रीय सचिव सुखमिंद्रपाल सिंह ग्रेवाल, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष बलदेव भंडारी विशेष रूप से उपस्थित थे। बैठक के बारे में जानकारी देते हुए किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री सुभाष शर्मा ने बताया कि बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष ओपी धनकड़ ने कहा कि प्रदेश किसान मोर्चा बहुत अच्छा काम कर रहा है और किसानों के ज्वलंत मुद्दों बीज बिल विधेयक और भूमि अधिग्रहण बिल को इसी मानसून सत्र में देश की संसद में पारित करवाने के लिए जो जिला स्तर पर धरना व प्रदर्शन किए, वे काफी प्रभावी रहे। इसी बीज तथा भूमि अधिग्रहण बिल विधेयक को इसी सत्र में पारित करवाने के लिए तीन अगस्त को दिल्ली के जंतर-मंतर पर देश भर से हजारों किसान धरना देंगे और प्रदेश से भी काफी संख्या में किसान इस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि किसान मोर्चा को अपनी अलग पहचान बनाने के लिए किसानों की समस्याओं को हल करवाने के लिए सरकार से सामंजस्य बिठाकर बातचीत करनी चाहिए। किसान मोर्चा यह लक्ष्य ले कि प्रदेश भर से एक लाख किसानों को टोपी पहनाए, ताकि किसान मोर्चा का संदेश आम किसानों तक पहुंच सके तथा यह सुनिश्चित करें कि प्रत्येक मतदान केंद्र पर अपना किसान प्रहरी नियुक्त हो और उनका एक सम्मेलन नवंबर माह तक प्रदेश में आयोजित होना चाहिए तथा एक बड़ी किसान रैली का आयोजन किसान मोर्चा को करना चाहिए। प्रदेशाध्यक्ष प्यारे लाल शर्मा ने कहा कि किसान मोर्चा को यह गर्व है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री एक किसान हैं और उन्होंने प्रदेश के किसानों के लिए 1096 करोड़ रुपए की सबसिडी की व्यवस्था की है। बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश भाजपा महामंत्री चंद्रमोहन ठाकुर ने कहा कि इस बार किसान मोर्चा ने सही मायने में धरातल पर जाकर काम किया है तथा प्रदेश में किसान मोर्चा का एक संगठनात्मक ढांचा खड़ा हुआ है। किसान मोर्चा को प्रदेश के किसानों की ऐसी मांग को मुख्यमंत्री प्रो प्रेम कुमार धूमल के पास रखना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें