बुधवार, 19 अक्तूबर 2011

आत्मा में खंजर की तरह उतरती है मंहगाई..




- अरविन्द  सिसोदिया , कोटा , राजस्थान - 09414180151 
आत्मा में खंजर की तरह घाव करती उतरती है मंहगाई...
आदमी को जीते जी मार देती है मंहगाई.....
मन मरता आशायें मरतीं,घर परिवार में होती मुरझााई..,
दर्द यह नहीं है कि बडती ही जा रही है मंहगाई...,
दर्द यह है कि..................................
सरकार खुद खडी हो कर, बडबा रही है मंहगााई...!!!


 भयानक मंहगाई....
दीपावली पर श्रीमति सोनिया गांधी,मनमोहनसिंह और मोंटेकसिंह को आम व्यक्ति की तरह बाजार में जाना चाहिये, एक किलो मावा की मिठाई और आध किलो नमकीन, कुछ फटाके और कुछ मोमबत्ती खरीदनी चाहिये ताकि इन्हे बाजार के भाव भी पता चल सकें...कि जनता कि किस तरह लुटाई हो रही है। यह मंहगााई का महा भ्रष्टाचार कांग्रेस सोनिया गांधी और मनमोहनसिंह को अब हर चुनाव में तीसरा नम्बर और जमानत जप्ति का आईना दिखायेगी।



पेट की भूखने साफ कर दिया कांग्रेस को .....
रोज रोज बडती मंहगाई...कभी डीजल..... कभी पैट्रोल.....कभी रसोई गैस..... और हाल ही में डीएपी खाद में बढाई भयंकर मंहगाई...निहत्थी जनता को एक ही अवसर वोट का....सौ सुनार की एक लुहार की....जनता अपना रंग दिखाया कांग्रेस को उनका ही दपर्ण बताया...कहीं जमानत जप्त तो कहीं तीसरे नम्बर पर....एक भी सीट नहीं मिली उसे उप चुनावों में.....चुल्लू भर पानी में डूब मरने लायक नहीं छोडा.......


कांग्रेस के ब्लेकवास का मुख्य कारण भयानक मंहगाई....
यह सच है कि सोमवार के उपचुनाव परिणामों में, कांग्रेेस का ब्लेकवास हो गया , दो जगह वह तीसरे स्थान पर रही, हिसार में जमानत जप्त करवा बैठी....इसका मुख्य कारण गरीबों की हाय है,,,सुबह उठते ही 30-35 रूपये किलो की दूध की खरीद से प्रारम्भ होने वाला यह सिलसिला रात को खाली जेब और खाली पेट पर जाकर खत्म होता है। यदि कांग्रेस सरकार ने मंहगाई कम करने के ठोस कदम नहीं उठाये तो..., अगले सभी चुनावों में उसे तीसरे चैथे नम्बर पर ही जाना होगा। जिस तरह जनता ने अभी उसका बोरिया बिस्तर बांध दिया उसी तरह...आगे और भी बुरा हाल होगा । यह कांग्रेस सरकार को संभलने का अवसर है। गरीबों का जीवन सुख लील चुकी मंहगाई को तुरंत कम करे....................

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें