गुरुवार, 26 जनवरी 2012

मेरे देश की धरती,सोना उगले उगले हीरे मोती ......


गाना / Title: मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती -
mere desh kii dharatii, sonaa ugale ugale hiire motii
चित्रपट / Film: Upkaarसंगीतकार / Music Director:  कल्याणजी - आनंदजी-(Kalyanji-Anandji)
गीतकार / Lyricist:  इन्दीवर-(Indeevar) गायक / Singer(s):  Mahendra Kapoor  ,   chorus
----
मेरे देश की धरती सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती ...

बैलों के गले में जब घुंघरू जीवन का राग सुनाते हैं
ग़म कोस दूर हो जाता है खुशियों के कंवल मुस्काते हैं
सुनके रहट की आवाज़ें यूँ लगे कहीं शहनाई बजे
आते ही मस्त बहारों के दुल्हन की तरह हर खेत सजे,
मेरे देश ...

जब चलते हैं इस धरती पे हल ममता अंगड़ाइयाँ लेती है
क्यूँ ना पूजे इस माटी को जो जीवन का सुख देती है
इस धरती पे जिसने जनम लिया, उसने ही पाया प्यार तेरा
यहाँ अपना पराया कोई नहीं है सब पे है माँ उपकार तेरा,
मेरे देश ...

ये बाग़ है गौतम नानक का खिलते हैं चमन के फूल यहाँ
गांधी, सुभाष, टैगोर, तिलक, ऐसे हैं अमन के फूल यहाँ
रंग हरा हरी सिंह नलवे से रंग लाल है लाल बहादुर से
रंग बना बसंती भगत सिंह रंग अमन का वीर जवाहर से,
मेरे देश ...
-----------
mere desh kii dharatii sonaa ugale, ugale hiire motii
mere desh kii dharatii ...

bailo.n ke gale me.n jab ghu.ngharuu jiivan kaa raag sunaate hai.n
Gam kos duur ho jaataa hai khushiyo.n ke ka.nval muskaate hai.n
sunake rahaT kii aavaaze.n yuu.N lage kahii.n shahanaaI baje
aate hii mast bahaaro.n ke dulhan kii tarah har khet saje,
mere desh ...

jab chalate hai.n is dharatii pe hal mamataa a.nga.Daaiyaa.N letii hai
kyuu.N naa puuje is maaTii ko jo jiivan kaa sukh detii hai
is dharatii pe jisane janam liyaa, usane hii paayaa pyaar teraa
yahaa.N apanaa paraayaa koI nahii.n hai sab pe hai maa.N upakaar teraa,
mere desh ...

ye baaG hai gautam naanak kaa khilate hai.n chaman ke phuul yahaa.N
gaa.ndhii, subhaashh, Taigor, tilak, aise hai.n aman ke phuul yahaa.N
ra.ng haraa harii si.nh nalave se ra.ng laal hai laal bahaadur se
ra.ng banaa basa.ntii bhagat si.nh ra.ng aman kaa viir javaahar se,
mere desh ...

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें