सोमवार, 2 जनवरी 2012

अंग्रेजी नया साल,'डर्टी डांस',३० - ३० युवक एक लड़की के पीछे ..ब्लेक 2012



- अरविन्द सिसोदिया 
ब्लेक 2012 , 
एक तरफ चैत्र माह में जब भारतीय नव वर्ष आता है .. मंदिरों में घंटे घड़ियाल बजते हैं .., आरतियाँ होतीं हैं , उगते सूर्य की आराधना होती है ,  ईश्वर के नाम का गुणगान होता है , मगर यह कैसा सन का आगमन कि ३० - ३० युवक ..वह भी भारतीय ...एक लड़की के पीछे पड़ जाते हैं पागलों की तरह...???? उन युवाओं के नैतिक  पतन कि यह वारदात सामान्य नहीं है......केंद्र सरकार को यह जबाव देना होगा कि वह समाज को कहाँ ले जा रही है..???  यह चारित्रिक पतन क्यों कर हुआ..??? स्वतंत्रता और स्वछंदता में कोई तो फर्क होगा ही..भारतीय संविधान कि विधान कि धज्जियां क्यों कर उडीं ...जबाव सरकार को ही देना है...वह देश को कहाँ ले जाकर छोड़ेगी ...??? हमारी शिक्षा प्रणाली और व्यवस्था में कोई गंभीर दोष  तो है ही न तब तो यह हुआ...
अंग्रेजी नया साल याने अय्याशी  , नशाखोरी , आपराधिकता ..भला क्यों ..??? क्यों कि आप इस भटको को रोकना  नहीं चाहते..इसलिए !! एक तरफ भारतीय संस्कृति नर से नारायण बनती है तो पाश्चत्य संस्कृति पवित्रता को पशुता में बदल देती है ..यह उदाहरण एक नही अनेकों हैं ...
-------


नए साल के स्वागत में ----------------
नशे में धुत 30 लड़के सरेराह लड़की पर टूटे
Source: Bhaskar news   |   Last Updated 04:13(02/01/12)
http://www.bhaskar.com/article
गुड़गांव. नए साल के स्वागत में शराब की मस्ती में चूर युवकों ने शनिवार रात एमजी रोड पर एक युवती के साथ सरेराह जबरदस्ती करने की कोशिश की। विरोध पर उसके दोस्त की पिटाई कर दी।पुलिस ने लाठियां भांजीं तो युवकों ने पुलिस पर पथराव कर दिया।पथराव में आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए।दो पुलिसकर्मियों की हालत गंभीर है। उन्हें आर्बिट अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
साइबर सिटी गुड़गांव के एमजी रोड पर करीब एक दर्जन मॉल हैं। न्यू इयर के मौके पर शनिवार की रात यहां लोगों के मनोरंजन की व्यवस्था की गई थी। मॉल्स में स्थित बार में खूब शराब भी चली।रात करीब साढ़े 11 बजे एक युवती अपने दोस्त के साथ एमजी रोड मैट्रो स्टेशन के पास सड़क पारकर रही थी। 
इसी बीच वहां मौजूद नशे में धुत करीब 30 युवकों ने युवती और युवक पर हमला बोल दिया। नशेबाज युवकों ने युवती के साथ जबरदस्ती की।विरोध पर उसके दोस्त को जमकर पीटा।शोरगुल सुनकर पास में मौजूद पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने युवकों पर लाठियां भांज किसी तरह युवती को छुड़ाया।लेकिन जवाब में युवकों ने भी पुलिस पर पथराव कर दिया।इस पथराव में आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए।  
-------------
दिल्ली में नए साल के जश्न में भरोसे का कत्ल!
नई दिल्ली: नए साल के जश्न के बहाने दिल्ली में हुई एक लड़की से बलात्कार की कोशिश. लड़की के दो दोस्तों ने पहले तो उसे नए साल पर पार्टी के लिए बुलाया और फिर उसके साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की.आरोप है कि नए साल की पार्टी के लिए इन लोगों ने अपनी एक दोस्त को हरियाणा से दिल्ली के रोहिणी  बुलाया. लड़की के मुताबिक इन लोगों ने उनसे जबरदस्ती करने की कोशिश की.
लड़की ने बचने के लिए छत से छलांग लगा दी जिसकी वजह से लड़की के दोनों हाथ टूट गए और पैरों में भी गंभीर चोट आई है.लडकी को गंभीर चोट लगने के बाद भी आरोपियों ने उसे कार में लेकर दूसरी जगह ले जाने की कोशिश की लेकिन भीड़ इकट्टा होने से वो अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सके.घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने दोनों आरोपी लड़कों को गिरफ्तार कर लिया है.इस बारे में आरोपियों का पक्ष जानने की भी कोशिश की जा रही है.
----------
नए साल के जश्न के दौरान नोएडा में फायरिंग
1 Jan 2012, 1151 hrs IST,नवभारत टाइम्स 
नोएडा / गुड़गांव।। नए साल के जश्न के दौरान हुड़दंगियों और मनचलों ने कई जगह बवाल कर दिया। नोएड में सेक्टर-18 के कॉफी हाउस में नए साल की पार्टी में लड़कियों की छेड़खानी और फायरिंग की खबर है, तो गुड़गांव में हुड़दंगियों ने एमजी रोड जाम करके आने जाने वाली लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करनी शुरू कर दी। हुड़दंगियों को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। 
नोएडा के कॉफी हाउस में लड़कियों की छेड़खानी का विरोध करने पर बदमाशों की फायरिंग में अमित और सुखविंदर नामक युवक घायल हो गए। दोनों को सेक्टर-27 के कैलाश हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।
गुड़गांव में भीड़ ज्यादा होने की वजह से मॉल्स और पब में एंट्री बंद कर दी गई। इसके बाद लोग सड़क पर ही जश्न मनाने लगे। कुछ मनचलों ने लड़कियों की छेड़खानी भी शुरू कर दी। जब लोगों की परेशानी बढ़ गई तब पुलिस ने इन हुड़दंगियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा।
-------- 
नए साल के जश्न पर गुड़गांव में बवाल
गुड़गांव/ब्यूरो। Monday, January 02, 2012 
नए साल के जश्न के मौके पर एमजी रोड पर खूब बवाल कटा। शनिवार की रात को नशे में धुत हुड़दंगियों ने जमकर उत्पात मचाया। पब एवं बार से बाहर निकालने पर हुड़दंगियों ने आधी रात में सड़क जाम कर पथराव शुरू कर दिया। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इस घटना में दो पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए। शनिवार की रात बारह बजते ही पुलिस ने पब एवं बार को खाली कराना शुरू कर दिया। इसके चलते नशे में धुत युवाओं ने उपद्रव मचाना शुरू कर दिया।
कुछ युवक बिना एंट्री कार्ड के ही पब में प्रवेश करने का प्रयास कर रहे थे। इसके बाद लोगों की भीड़ सड़क जमा हो गई। पुलिस ने जब इनको रोकने का प्रयास किया तो युवाओं ने अभद्र व्यवहार करना शुरू कर दिया। हुड़दंगियों ने अपने दोस्त के साथ आई रोहिणी (दिल्ली) निवासी एक युवती के साथ छेड़खानी करते हुए उसे जबरदस्ती उठाकर ले जाने का प्रयास भी किया।
मौके पर मौजूद आईआरबी के सिपाही रवि कुमार और प्रवीन ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो हुड़दंगी भीड़ में शामिल हो गए। इसके बाद भीड़ ने पुलिस पर पथराव शुरू किया तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इस घटना में सिपाही प्रवीन और रवि कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया है। सेक्टर 29 थाना पुलिस ने घायल सिपाही रवि कुमार के बयान पर अज्ञात के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने का मामला दर्ज किया है। 
-----

http://navbharattimes.indiatimes.com
रोड पर 'डर्टी डांस'
2 Jan 2012, 0554 hrs IST,नवभारत टाइम्स  
प्रदीप नरुला 
एमजी रोड ।। मॉल और बार में एंट्री बंद हो जाने के बाद नए साल के जश्न में हुड़दंगियों ने एमजी रोड पर जमकर बवाल किया। लड़कियां छेड़ने और गाड़ियां तोड़ने के बाद इन लोगों ने रोड पर जाम लगा दिया। इससे घंटों वाहन फंसे रहे। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने बवाल बढ़ता देख लाठीचार्ज किया, जिसमें कई युवक घायल हो गए। उधर, युवकों ने भी पथराव किया, जिसमें 2 पुलिसकर्मियों को चोटें आईं। पुलिस ने घायल पुलिसकर्मी की शिकायत पर अज्ञात युवकों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने बवाल के बाद सहारा मॉल को भी बंद करवा दिया। 
छेड़छाड़ से रोका तो बुरी तरह पीटा 
हाउसफुल होने के कारण रात करीब 12:30 बजे अधिकतर मॉल और बार में एंट्री बंद हो गई। इससे नाराज युवकों ने शराब पीकर सड़कों पर ही नाचना शुरू कर दिया। इस दौरान अंदर से भी बहुत सारे लोग बाहर आ चुके थे। कुल मिलाकर एक बड़ी भीड़ इकट्ठा हो गई सहारा मॉल के पास 15-20 युवकों ने एक युवती को पकड़ लिया। युवती के साथी ने जब विरोध किया तो उन्होंने उसकी जमकर धुनाई कर दी। मॉल के सामने पीसीआर में बैठे पुलिसकर्मी भी इस दौरान बेबस नजर आए। युवती ने काफी मशक्कत के बाद लोगों के सहयोग से अपने आप को बचाया। वह चिल्लाकर लोगों से बचाव की अपील कर रही थी। 
गाडि़यों में की जमकर तोड़फोड़ 
यहां पर कुछ ही देर में शराब के नशे में धुत युवकों ने गाडि़यों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसी प्रकार एमजी रोड मेट्रो स्टेशन के सामने भी युवकों ने पागलों की तरह खड़ी गाडि़यों के शीशे तोड़ने शुरू कर दिए। गाडि़यों का आवागमन रोक दिया। देखते ही देखते पूरे एमजी रोड पर हंगामा शुरू हो गया।
पुलिस ने किया लाठीचार्ज 
हंगामे के कारण सैकड़ों वाहन चालक जाम में फंस गए। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम में दी। सूचना पाकर सेक्टर -29, डीएलएफ फेज टू , फेज वन थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। एसीपी ट्रैफिक भी अपनी टीम के साथ एमजी रोड पर आए। पुलिस ने हुड़दंग कर रहे युवकों को समझाने का प्रयास किया लेकिन युवकों ने पुलिस की एक न सुनी। इसके बाद पुलिस ने युवकों पर लाठीचार्ज किया। कई युवक इसमें घायल हो गए। इसी दौरान पुलिस ने सहारा मॉल के सभी बार बंद करवाकर मॉल को बंद करवा दिया।
2 पुलिसकर्मी हुए घायल 
लाठीचार्ज के जवाब में युवकों ने पुलिस पर पथराव शुरू किया। करीब आधे घंटे तक चले इस पथराव में सोहन व पवन नामक पुलिसकर्मी घायल हो गए , जिन्हें सेक्टर -31 के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में दाखिल कराया गया है। दोनों आईआरबी में तैनात हैं। इन दिनों थाना मानेसर में रिजर्व फोर्स में ड्यूटी पर तैनात थे। रात 3 बजे तक हुए इस हुड़दंग के कारण एमजी रोड पुलिस छावनी में तब्दील हो गई। पूरी तरह भीड़ के जाने तक पुलिस मौके पर मौजूद रही।
एक कॉन्स्टेबल के बयान पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मारपीट , छेड़छाड़ व संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का केस दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शहर में प्रदेश के कई जिलों के अलावा यूपी व दिल्ली से भी लोग जश्न में शामिल होने आए हुए थे। 
- जगदीश प्रसाद , थाना इंचार्ज , डीएलएफ सेक्टर -29 

1 टिप्पणी: