बुधवार, 11 अप्रैल 2012

कीर्तन - राधे राधे, श्याम मिला दे



कीर्तन - राधे राधे
राधे राधे, श्याम मिला दे
गोवर्धन में, राधे राधे
वृन्दावन में, राधे राधे
कुसुम सरोवर, राधे राधे
हरा कुन्ज में, राधे राधे
गोवर्धन में, राधे राधे
पीली पोखर, राधे राधे
मथुरा जी में, राधे राधे
वृन्दावन में, राधे राधे
कुन्ज कुन्ज में, राधे राधे
पात पात में, राधे राधे
डाल डाल  में, राधे राधे
वृक्ष वृक्ष में , राधे राधे
हर आश्रम में, राधे राधे
माता बोले, राधे राधे
बहना बोले, राधे राधे
भाई बोले, राधे राधे
सब मिल बोलो, राधे राधे
राधे राधे,राधे राधे
राधे राधे, श्याम मिला दे
--
अरे
मथुरा जी में, राधे राधे
वृन्दावन में, राधे राधे
पीली पोखर , राधे राधे
गोवर्धन में, राधे राधे
सब मिल बोलो, राधे राधे
प्रेम से बोलो, राधे राधे
सब मिल बोलो, राधे राधे
अरे बोलो बोलो, राधे राधे
अरे गाओ गाओ, राधे राधे
सब मिल गाओ, राधे राधे
प्रेम से बोलो, राधे राधे
सब मिल बोलो, राधे राधे
जोर से बोलो, राधे राधे
--
राधे राधे,राधे राधे
राधे राधे, श्याम मिला दे

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें