रविवार, 27 अक्तूबर 2013

नरेंद्र मोदी की रैली से पहले पटना में सीरियल ब्लास्ट



यह नितीश सरकार की सबसे बड़ी विफलता है !
दूसरे नितीश और कांग्रेस से निष्पक्ष जाँच की आशा नही की जा सकती।
पूरे मामले की जांच न्यायालय की देख रेख में होनी चाहिए ।
- अरविन्द सिसोदिया




नरेंद्र मोदी की रैली से पहले पटना में सीरियल ब्लास्ट
Published: October 27, 2013
नरेंद्र मोदी की हुंकार रैली से पूर्व रेलवे स्टेशन के परिसर में स्थित शौचालय में पहला धमाका हुआ, जहां घायल हुए शख्स ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। रैली के स्थान गांधी मैदान में एक के बाद एक पांच बम धमाके हए। सभी धमाके देसी बम से किए गए।
रविवार को बिहार में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभा से पहले हुए सीरियल बम ब्लास्ट ने प्रशासन में खलबली मचा दी। किसी अनहोनी की आशंका के चलते प्रशासन सतर्क हो गया। क्षेत्राधिकारी राजेश चौधरी के नेतृत्व में रोडवेज बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और शहर के प्रमुख मंदिर, मस्जिदों की चेकिंग कराई गई। मंदिर-मस्जिदों के बाहर पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया।

----------------------------
पटना विस्फोट की जांच एनएसजी, एनआईए के जिम्मे
Bhasha, अक्टूबर 27, 2013

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह ने रविवार को कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीमें पटना बम विस्फोट की जांच के लिए बिहार की राजधानी रवाना की जा रही हैं।
विस्फोटों को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए मंत्री ने संवाददाताओं से कहा, "गृह मंत्रालय ने विस्फोटों के पूरे परिदृश्य की जांच के लिए एनएसजी और एनआईए के दल बिहार भेजने का फैसला किया है।" उन्होंने कहा कि ये विस्फोट कम तीव्रता वाले थे। सिंह ने बिहार सरकार को भी आश्वासन दिया कि जांच में केंद्र सरकार पूरी मदद करेगी।
सिंह ने कहा कि सरकार के पास इन विस्फोटों के बारे में कोई खुफिया सूचना उपलब्ध नहीं थी, यद्यपि बड़े त्योहारों के समय किसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना की आशंका अवश्य थी। उन्होंने मोदी की रैली में और उसके पहले हुए बम विस्फोटों का राजनीतिकरण न करने का आग्रह किया।

==========

नीतीश ने शृंखलाबद्ध विस्फोटों की निंदा की, साजिश की जताई आशंका
Bhasha, Last Updated: अक्टूबर 27, 2013
पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की पटना में आयोजित रैली से पूर्व हुए शृंखलाबद्ध विस्फोटों की निंदा की और अपना मुंगेर का निर्धारित दौरा रद्द कर दिया।
यहां जारी एक आधिकारिक वक्तव्य के अनुसार कुमार ने पुलिस को तुरंत मामले की जांच शुरू करने का निर्देश दिया और कहा कि जांच में राष्ट्रीय जांच एजेन्सी (एनआईए) की सहायता ली जाएगी।

मुख्यमंत्री कार्यालय के सूत्रों के अनुसार कुमार को अंतरराष्ट्रीय योग सम्मेलन के लिए मुंगेर जाना था लेकिन पटना में हुए विस्फोटों को देखते हुए यह यात्रा रद्द कर दी गई। सूत्रों के अनुसार कुमार ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से भी फोन पर बात की और उन्हें विस्फोटों के बारे में जानकारी दी।

सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री का काफिला एक अणे मार्ग पर खड़ा था और उन्हें हवाई अड्डे के लिए रवाना होना था लेकिन उनकी यात्रा रद्द कर दी गई। मुख्यमंत्री को मुंगेर से नालंदा जिले के राजगीर जाना था और वहां सोमवार से शुरू हो रहे जनता दल (यू) के सम्मेलन में भाग लेना था।
---------------------

पीएम ने पटना विस्फोट की निंदा की, नीतीश से कड़ी कार्रवाई करने को कहा
Bhasha, Last Updated: अक्टूबर 27, 2013
नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी की रैली से पहले पटना में हुए सीरियल बम धमाकों की निंदा करते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की और राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों की तेजी से पहचान करने और उन्हें दंडित करने को कहा।

प्रधानमंत्री ने विस्फोट के तत्काल बाद नीतीश से बात की और स्थिति के बारे में जानकारी ली, साथ ही इस बारे में तत्काल ठोस कार्रवाई करने की जरूरत बताई।

मनमोहन सिंह ने बिहार के मुख्यमंत्री को विस्फोटों की जांच के सिलसिले में केंद्र की ओर से हर प्रकार की मदद का अश्वासन दिया। प्रधानमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री ने पटना में विस्फोट की निंदा की है और इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों की पहचान करने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए तत्काल कदम उठाने को कहा है।

बयान के अनुसार, उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। नीतीश से टेलीफोन पर बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ने उनसे तत्काल ठोस कार्रवाई करने को कहा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें