शनिवार, 28 दिसंबर 2013

मोदी की रांची रैली 29 दिसंबर को : जेवीएम नेता सहित दर्जनों भाजपा में शामिल



मोदी की रांची रैली 29 दिसंबर को
पहले जेवीएम नेता सहित दर्जनों भाजपा में शामिल
 Sat, Dec 28th, 2013

रांची. नरेंद्र मोदी विजय संकल्प रैली को संबोधित करने 29 दिसंबर को रांची पहुंचेंगे. श्री मोदी का विशेष विमान सुबह 12.45 बजे बिरसा मुंडा एयरपोर्ट उतरेगा. यहां से वह हेलीकॉप्टर से सीधे जेएससीए स्टेडियम पहुंचेंगे. एयरपोर्ट से उड़ान भरने के बाद हेलीकॉप्टर दो मिनट में जेएससीए स्टेडियम पहुंचेगा. इसके बाद मोदी व उनके साथ आये अतिथि कार से सभा स्थल पर पहुंचेंगे.

इससे पहले जेवीएम नेता उदय भान सिंह समेत आदिवासी छात्र संघ के कई नेता शुक्रवार को भाजपा में शामिल हुए. प्रदेश कार्यालय में अध्यक्ष डॉ रवींद्र राय ने स्वागत किया. श्री राय ने बताया कि उदय भान सिंह का संबंध रामगढ़ के राजघराने से है. इनके आने से पार्टी और मजबूत होगी. इधर आदिवासी छात्र मोरचा के बेलरस कुजूर के नेतृत्व में ईसाई समुदाय के दर्जनों लोग पार्टी में शामिल हुए. श्री कुजूर इससे पहले चमरा लिंडा की पार्टी से जुड़े हुए थे. पार्टी की सदस्यता ग्रहण करनेवालों में सतीश एक्का, कुंदन टोप्पो, शेफाली खलखो समेत कई लोग शामिल हैं.

सरकार ने की हेलिकॉप्टर की व्यवस्था
उनका काफिला जेएससीए स्टेडियम के सात नंबर गेट से निकलेगा. सरकार ने नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को लेकर एयरपोर्ट से स्टेडियम तक हेलीकॉप्टर (यूरो कॉप्टर विमान डॉल्फिन 365 एन-2) की व्यवस्था की है. यहां बता दें कि गुरुवार को भाजपा ने सरकार को पत्र लिख कर हेलीकॉप्टर दिलाने का आग्रह किया था. इसलिए सरकार की ओर से हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की गयी है.

हुई मॉक ड्रिल
शुक्रवार को मॉक ड्रिल कर जेएससीए स्टेडियम में हेलीकॉप्टर उतारा गया. रैली को लेकर नरेंद्र मोदी रांची में लगभग ढाई घंटे रहेंगे. सभा स्थल पर दो घंटा रहने के बाद श्री मोदी शाम 3.15 बजे रवाना होंगे. इधर, सुरक्षा-व्यवस्था की कमान संभाल रहे पुलिस अधिकारियों को तब राहत मिली, जब यह फैसला हो गया कि मोदी हेलीकॉप्टर से सभास्थल पहुंचेंगे. इससे पहले पुलिस अधिकारी एयरपोर्ट से धुर्वा स्थित प्रभात तारा मैदान तक उनके कारकेड को ले जाने को लेकर परेशान थी.

वीआइपी के लिए होगा जगन्नाथपुर मंदिर जानेवाला रास्ता
नरेंद्र मोदी की रैली के दौरान वीआइपी (एमएलए, एमपी व अन्य गणमान्य) शहीद मैदान के सामने से जगन्नाथपुर मंदिर जानेवाले रास्ते से जेएससीए स्टेडियम होते हुए रैली स्थल तक पहुंचेंगे. ट्रैफिक एसपी राजीव रंजन सिंह ने बताया कि यह व्यवस्था नरेंद्र मोदी के चौपर से सभा स्थल तक आने का कार्यक्रम तय होने के बाद की गयी. अब रामगढ़ की ओर से आनेवाले वाहन कांटाटोली चौक से मुड़ कर नामकुम सदाबहार चौक , घाघरा पुल, डोरंडा होकर धुर्वा की ओर जायेंगे. पहले रामगढ़ की ओर से आनेवाले वाहनों को शहर के भीड़ को देखते हुए खेल गांव से टाटीसिलवे, नामकुम, घाघरा पुल होते हुए धुर्वा की रूट तय की गयी थी. भाजपा के नेताओं ने रामगढ़ की ओर से रैली में आनेवाले लोगों को होनेवाली असुविधा को देखते हुए जिला प्रशासन से आग्रह किया, उसके बाद यह व्यवस्था की गयी है. नया सराय की ओर से आनेवाले लोग तिरिल रोड होते हुए जेएससीए मोड़ तक आ पायेंगे. कुछ विशेष वाहनों के लिए जिला प्रशासन की ओर से पास जारी किया गया है. पास धारक वाहनों को रैली स्थल से कुछ पहले तक पार्किग करने की व्यवस्था होगी.

एचइसी से सभास्थल तक 12 तोरण द्वार
रैली को लेकर शहर को सजाने-संवारने का काम जारी है. लगभग सभी मार्गो पर भाजपा के झंडे, पोस्टर, बैनर और बड़े-बड़े फ्लैक्स लगाये गये हैं. एचइसी गेट से जगन्नाथ सभा स्थल तक 12 तोरण द्वार बनाये गये हैं. महामंत्री सुनील कुमार सिंह ने बताया कि स्वागत द्वार झारखंड की ऐतिहासिक और बलिदानी परंपरा की याद ताजा करायेंगे.

जरूरी दवाओं के साथ तैनात रहेंगे सिविल सर्जन
मोदी के आगमन से पूर्व सिविल सर्जन को भी एक एंबुलेंस और आवश्यक दवाओं के साथ उपलब्ध रहने का निर्देश दिया गया है. नरेंद्र मोदी का ब्लड ग्रुप ए पॉजिटिव है, इसलिए एसएसपी ने सार्जेट मेजर से ए पॉजिटिव वाले पुलिसकर्मियों को सिविल सजर्न के पास रिपोर्ट करने को कहा है. इधर, भाजपा चिकित्सा व्यवस्था के प्रभारी डॉ समर सिंह व डॉ जीतू चरण राम ने बताया कि रैली स्थल पर 40 चिकित्सक टीम के साथ तैनात रहेंगे.  25 एंबुलेंस, तीन मोबाइल मेडिकल वैन व दवाओं की व्यवस्था है.

9 ज़ोन में बंटा स्टेडियम से लेकर सभा स्थल का इलाका
गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को लेकर डीसी विनय चौबे और एसएसपी भीम सेन टूटी ने समाहरणालय में शुक्रवार को संयुक्त रूप से बैठक की. इसमें सिटी एसपी, एसडीओ, डीएसपी और ट्रैफिक पुलिस और स्पेशल ब्रांच के अधिकारी शामिल थे. डीसी और एसपी ने मोदी की सुरक्षा को लेकर जेएससीए स्टेडियम, धुर्वा से लेकर सभा स्थल तक के विभिन्न क्षेत्रों को नौ जोन में बांटा गया है. सभी जोन की सुरक्षा के लिए अलग से पुलिस अधिकारी हैं.

रैली से पूर्व हर वस्तु की जांच मेटल डिटेक्टर से
साथ ही ट्रैफिक व्यवस्था संभालने के लिए छह जोन निर्धारित किये है, जिनमें अलग से पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गयी है. रैली से पूर्व हर वस्तु की जांच मेटल डिटेक्टर से होगी. सभा स्थल से 500 मीटर की परिधि में निगरानी की विशेष व्यवस्था होगी. एयरपोर्ट और सभा स्थल पर हर वस्तु की स्क्रीनिंग होगी. फोटोग्राफरों के कैमरे में लगे फ्लैश की जांच होगी. इसके साथ ही विभिन्न स्थानों पर सीसीटीवी और और दूरबीन लगाने की भी व्यवस्था की गयी है. डीसी ने कहा कि सुरक्षा में जितने भी अधिकारी तैनात हैं, सबको उनके कार्य से अवगत करा दिया गया है. मोदी की रैली के दौरान सुरक्षा- व्यवस्था में कहीं कोई चूक नहीं होगी.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें