शनिवार, 8 फ़रवरी 2014

दुनिया बदलने के लिए 5 साल ही काफी होते हैं: नरेंद्र मोदी



दुनिया बदलने के लिए 5 साल ही काफी होते हैं: नरेंद्र मोदी
नवभारतटाइम्स.कॉम | Feb 8, 2014  इंफाल

बीजेपी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन पर नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों को विकास से महरूम रखने का आरोप लगाया। मोदी ने मनमोहन पर वार करते हुए कहा कि भारत के मौजूदा प्रधानमंत्री 23 साल से यहां से चुनकर संसद में जाते हैं, लेकिन इतने साल में उन्होंने इस क्षेत्र के लिए क्या किया? उन्होंने कहा, 'हमारे प्रधानमंत्री इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं, लेकिन उन्होंने इस क्षेत्र के विकास के लिए क्या किया।' प्रधानमंत्री पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा, 'दुनिया बदलने के लिए 5 साल ही काफी होते हैं, लेकिन यहां तो 23 साल में भी कोई बदलाव नहीं आया।'

मोदी ने नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों को देश के विकास के लिए बेहद महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि जब नॉर्थ-ईस्ट का भला होगा, तभी हिंदुस्तान का भी भला होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकारों की नीतियों के अभाव के कारण हर्बल मेडिसीन को बढ़ावा नहीं दिया जा सका और इससे नॉर्थ ईस्ट के राज्य काफी तरक्की करने से महरूम रह गए, क्योंकि यहां औषधियों का खजाना है। उन्होंने कहा, 'कांग्रेस ने नॉर्थ-ईस्ट में करप्शन के सारे रेकॉर्ड तोड़ दिए हैं। जब हम सत्ता में आएंगे, एक-एक पैसे का हिसाब मांगेंगे।'

2014 के चुनाव में बीजेपी की जीत की तरफ इशारा करते हुए ​उन्होंने कहा कि अब ज्यादा दिन बाकी नहीं है। अब मुसीबतों के लिए ज्यादा से ज्यादा 100 दिन और सहन करने होंगे। देश के लिए अच्छे दिन आने वाले हैं। लोकसभा चुनाव में बीजेपी को इस क्षेत्र से सपोर्ट करने की मांग करते हुए मोदी ने कहा, 'आपने कांग्रेस को 60 साल दिए, हमें 60 महीने देकर देखिए।'

इस क्षेत्र के राज्यों की तारीफ करते हुए मोदी ने कहा कि पहले नॉर्थ ईस्ट के राज्यों को 'सेवन सिस्टर्स' कहा जाता था, लेकिन सिक्किम को मिला कर यह 8 राज्य हैं और इनमें भारत को बदलने का सामर्थ्य है। इसिलए इन्हें 'अष्ठलक्ष्मी' कहा जाना चाहिए।

मोदी यहां भी गुजरात के विकास की तारीफ करने से नहीं चूके और उन्होंने कहा कि नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में कोयले के बड़े भंडार हैं, लेकिन गुजरात की तरह उनका विकास के लिए पूरी तरह से इस्तेमाल नहीं हो पाया। साथ ही उन्होंने गुजरात और इस क्षेत्र के बीच संबंध होने की भी बात कही। मोदी ने कहा, 'भगवान कृष्ण की शादी नॉर्थ-ईस्ट में हुई थी और वह रहते थे गुजरात में। इस नाते हमारा नॉर्थ-ईस्ट से खास रिश्ता है।'

मोदी ने कहा कि मणिपुर देश का पावर हाउस हो सकता है और प्राकृतिक रूप से यह इसके लिए योग्य है। उन्होंने कहा कि बीजेपी अगर सत्ता में आई तो सिल्चर-इम्फाल रोड और दीमापुर-इम्फाल रोड बनाई जाएगी। इसके अलावा गुजरात को मणिपुर से हाइवे से जोड़ा जाएगा।

दिल्ली में अरुणाचल के छात्र नीदो तानियाम की पीट-पीट कर हत्या किए जाने के मामले में भी मोदी ने सरकार को आड़े हाथों लिया और कहा कि दिल्ली में सरकार की लापरवाही के कारण ही नीदो की मौत हुई। उन्होंने इसे राष्ट्रीय शर्म करार दिया मोदी ने कहा कि वह दिल्ली में नॉर्थ-ईस्ट के नौजवानों से मिले और उनके दर्द को सुना। उन्होंने कहा, 'मैंने उन्हें आश्वासन दिया कि पूरा देश आपके साथ है।'

उधर नरेंद्र मोदी के मणिपुर पहुंचने से कुछ समय पहले उग्रवादियों ने अर्द्धसैनिक बल के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला किया, जिससे 4 सुरक्षाकर्मी घायल हो गए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें