शनिवार, 22 फ़रवरी 2014

अगर हिंदुओं पर जुल्म होगा तो वो आखिर कहां जाएगा :नरेंद्र मोदी



अगर हिंदुओं पर जुल्म होगा तो वो आखिर कहां जाएगा: मोदी
ibnkhabar.com | Feb 22, 2014

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी अपने मिशन के तहत उत्तर पूर्व के दौरे पर ताबड़तोड़ रैलियां कीं। नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले अरुणाचल में रैली को संबोधित किया और फिर असम के सिलचर पहुंचे। अरुणाचल में मोदी ने विकास के मुद्दे को ही तरजीह दी, लेकिन सिलचर में केंद्र सरकार और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।

नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस के अंतकाल का आरंभ हो गया है। चुनाव बाद कांग्रेस मुक्त भारत की शुरुआत होगी। कांग्रेस किसी कोने में नजर नहीं आगही। मोदी ने कहा कि वोटबैंक की राजनीति में डूबी असम की सरकार ने डिटेंशन कैंप के नाम पर मानवाधिकारों का हनन किया।

यहां कांग्रेस ने साजिश के तहत लोगों पर डी-वोटर का ठप्पा लगाया है। चुनाव आयोग इन्हें वोट का अधिकार दे। मोदी ने भीड़ से पूछा बांग्लादेश से जो घुसपैठिए आए हैं, उन्हें बार भेजना चाहिए या नहीं। बांग्लादेश से दो तरह के लोग आए हैं। एक तरह लोग राजनीतिक साजिश के तहत आए हैं। दूसरे ऐसे लोग हैं जिनका बांग्लादेश में जीना मुश्किल कर दिया गया है। उनकी बहन-बेटियों की इज्जत सुरक्षा नहीं है। क्या दोष है बांग्लादेश में रहने वाले उन लोगों का जिनका सब कुछ लूट लिया जाता है, उसे खदेड़ दिया जाता है। वो हिंदू जाएगा तो जाएगा कहां।
अगर फिजी के हिंदू पर जुल्म होता है तो वो कहां जाएगा। मारीशस-अमेरिका में हिंदुओं पर जुल्म होगा तो वो कहां जाएगा। दुनिया में किसी हिंदू को खदेड़ दिया जाएगा तो उसके लिए एक ही जगह बची है। क्या हमारी सरकार उन पर ऐसे ही जुल्म करेगी जैसा विदेशों और बांग्लादेश में हो रहा है।

अटल वाजपेयी ने पाकिस्तान से आए हिंदुओं के लिए योजना बनाई थी। अकेले किसी राज्य पर बोझ नहीं आया था। हम नहीं चाहते कि बांग्लादेश से आए हिंदुओं का बोझ सिर्फ असम उठाए। ये लोग देश के सभी राज्यों में जाएं। उन्हें रोजगार मिले, बच्चों को पढ़ाई मिले। इससे असम की समस्या भी कम होगी। जो घुसपैठिए राजनीतिक मकसद से आए हैं उन्हें तो वहीं वापस भेजना होगा। असम का नौजवान बेरोजगार है और बाहर से आए लोगों को रोजगार मिल रहा है।

पूर्वोत्तर में कमल जरूर खिलेगा- मोदी
आज मोदी सबसे पहले अरुणाचल पहुंचे और कहा कि इस बार पूर्वोत्तर में कमल जरूर खिलेगा। तय कार्यक्रम के अनुसार मोदी सबसे पहले अरुणाचल प्रदेश में पूर्वी सियांग के जिला मुख्यालय पासीघाट पहुंचे। यहां मोदी ने कहा कि इस बार पूर्वोत्तर के राज्यों में कमल जरूर खिलेगा। साथ ही कहा कि विकास ही यहां की समस्याओं का समाधान है। इस बार विकास का सूर्योदय अरुणाचल से ही होगा।

उन्होंने चीन से लोहा लेने के लिए भी अरुणाचल के लोगों की जमकर तारीफ की। मोदी ने कहा कि अरुणाचल के पास देने को बहुत कुछ है, यहां पानी बहुत मात्रा में है इसका शानदार इस्तेमाल किया जा सकता है। ये वाजपेयी जी ने कर दिखाया था, हम इसे आगे बढ़ाएंगे।

मोदी ने कहा कि नॉर्थ ईस्ट में सोलर एनर्जी, विंड एनर्जी की अपार संभावनाएं हैं। टूरिज्म की भी जबरदस्त संभावनाएं हैं। ये जमीन स्विट्जरलैंड से कम नहीं है। हम पूरी दुनिया से यहां पर्यटक ला सकते हैं। बुद्धिस्ट टूरिज्म की भी यहां अपार संभावनाए हैं।

सिलचर-अगरतला में भी रैली
इसके बाद मोदी असम के सिलचर में रैली करेंगे। इससे पहले मोदी असम में एक बड़ी रैली कर चुके हैं। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में स्वामी विवेकानंद स्टेडियम में मोदी की तीसरी रैली होगी। बीजेपी को रैली में भारी भीड़ उमड़ने की उम्मीद है।

इससे पहले भी मोदी अरुणाचल प्रदेश में विजय संकल्प रैली को संबोधित कर चुके हैं। उस वक्त मोदी ने दिल्ली में छात्र नीडो की मौत का मुद्दा जोर शोर से उठाया था। खास बात ये भी आज की रैली में अरुणाचल के पूर्व सीएम गेगांग अपांग विधिवत रूप से बीजेपी में शामिल होंगे।
-----------------


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें