मंगलवार, 27 जनवरी 2015

ओबामा : भारत और अमरीका विविधता में एकता वाले देश


 ओबामा के भाषण की 12 ख़ास बातें


 अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने दिल्ली के सीरी फ़ोर्ट ऑडिटोरियम में शहर के युवाओं और अन्य निवासियों को संबोधित करते हुए अमरीका को भारत का बेस्ट पार्टनर बताया. उन्होंने भारत में विविधता का ज़िक्र करते हुए ज़ोर देकर कहा कि अमरीका और भारत की सबसे बड़ी ताकत दोनों की अनेकता में एकता है.

भारत और अमरीका विविधता में एकता वाले देश हैं और दोनों देशों को इसे बचाना और बढ़ाना चाहिए.

1 . अमरीका के मार्टिन लूथर किंग गांधी जी से प्रेरित थे. ये बात दोनों देशों को जोड़ती है.

2 . भारत और अमरीका विविधता में एकता वाले देश हैं और दोनों देशों को इसे बचाना और बढ़ाना चाहिए.

3 .   एक और संपर्क है. एक समय विवेकानंद आए थे अमरीका..वो भी मेरे शहर शिकागो में और हिंदू धर्म का संदेश दिया था. उनके शब्द थे अमरीका के भाईयो और बहनो. मैं वो शब्द दोहराता हूं...भाइयो और बहनो

4 . हर धर्म का सम्मान होना चाहिए और धर्म के प्रचार प्रसार की आज़ादी भी.

5 . अमरीका चाहता है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार हो और भारत को स्थायी सीट मिले.

6 . भारत और अमरीका में ही ये हो सकता है कि एक कुक का बेटा राष्ट्रपति बन सकता है और एक चाय बेचने वाला प्रधानमंत्री.

7 . किसी भी देश के बारे में इससे ज्यादा पता चलता है कि वो अपनी महिलाओं को कैसे ट्रीट करता है. भारत में मेरा स्वागत एक महिला कमांडिंग अधिकारी ने स्वागत किया.

8 . हम चाहते हैं कि ऐसी दुनिया बने जहां परमाणु हथियार न हों और इसमें भारत को भी भूमिका निभानी होगी.

9 . भारत में अधिकांश आबादी 30 साल से कम की है. नई दुनिया कैसी होगी ये तय करने की ज़िम्मेदारी इन्हीं युवाओं की है

10 . हम पिछली बार आए थे तो मुंबई में हमने दीवाली मनाई थी. डांस वगैरह भी किया था. इस बार डांस का कार्यक्रम नहीं हो सका.

11 .गणतंत्र दिवस में मुझे मुख्य अतिथि बनाने के लिए मैं यही कहूंगा...बहुत धन्यवाद.

1 2 . ओबामा ने अपने भाषण का अंत भी हिंदी में - जय हिंद - से किया.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें