रविवार, 1 फ़रवरी 2015

जनता चुने दिल्ली में केंद्र के साथ काम करने वाली सरकार : नरेन्द्र मोदी



जनता चुने दिल्ली में केंद्र के साथ काम करने वाली सरकार: मोदी
नई दिल्ली, एजेंसी 31-01-15


आप पर कड़ा हमला करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज पार्टी को जनता की पीठ में छुरा घोंपने वाला बताया और दिल्ली की जनता से अरविंद केजरीवाल की पार्टी को वोट देने की भूल न दोहराने को कहा।

एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि एक साल पहले जिन लोगों ने सपना दिखाया था, उन्हीं लोगों ने आपकी (जनता की) पीठ में छुरा घोंपा, सपनों को चूर चूर कर दिया। दिल्ली की जनता ने लोकसभा चुनाव में दिल्ली को बर्बाद करने वालों को नहीं बख्शा। विधानसभा चुनाव में भी जनता दिल्ली को बर्बाद करने वालों को कभी पसंद नहीं करेगी।

दिल्ली में एक ईमानदार और विकासोन्मुखी सरकार देने का वादा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज विश्वास व्यक्त किया कि दिल्ली में आगामी विधानसभा चुनाव में जनता सपनों को तोड़ने, भ्रम फैलाने एवं प्रदेश को बर्बाद करने वालों को नकारते हुए पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार के पक्ष में जनादेश देगी।

आम आदमी पार्टी एवं उसके नेता अरविंद केजरीवाल का नाम लिये बिना प्रधानमंत्री ने कहा कि एक पार्टी, जिसके पिछले लोकसभा चुनाव में सर्वाधिक लोगों की जमानतें जब्त हुई, उस पार्टी को आप भलीभांति जानते हैं, फिर भी वह पार्टी लोगों को भ्रमित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।

आप पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि एक आध बार झूठ चल जाता है, लेकिन बार बार लोगों की आंखों में धूल झोंककर सफलता नहीं प्राप्त की जा सकती। किरण बेदी के नेतृत्व में भाजपा को दो तिहाई बहुमत देने की लोगों से अपील करते हुए मोदी ने कहा कि दिल्ली को स्थिर सरकार चाहिए। दिल्ली को सरकार चलाने का तर्जुबा वाले लोग चाहिए। किरण बेदी में वह अनुभव है जो दिल्ली को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा।

दुनिया में हिन्दुस्तान की छवि मजबूत होने का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि एक साल के बुरे दिन (दिल्ली में) गए। कुछ लोगों ने एक साल बर्बाद करने का काम किया है। दिल्ली में भाजपा के नेतृत्व में पूर्ण बहुमत की सरकार दें, दिल्ली भी विकास के तीव्र पथ पर आगे बढे़गी।

राजधानी के कड़कड़डूमा इलाके में आयोजित इस चुनावी रैली में करीब आधे घंटे के अपने भाषण में मोदी ने कहा दिल्ली की जनता से कहा कि वह मतदान अवश्य करें, यह दायित्व और जिम्मेदारी है, दिल्ली में पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनाएं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में चुनाव है लेकिन इस चुनाव में कौन विधायक बनेगा, कौन नहीं, कौन मुख्यमंत्री बनेगा, कौन नहीं। किसकी सरकार बनेगी, किसकी नहीं। इतने तक ही सीमित नहीं है। यह चुनाव दुनिया में हिन्दुस्तान की छवि कैसी हो, दुनिया हिन्दुस्तान को किस रूप में देखे, इससे संबंधित है।
  
उन्होंने कहा कि दुनिया हिन्दुस्तान को किस रूप में देखती है, उसे समझने के लिए दिल्ली से बढ़कर कोई और जगह नहीं हो सकती क्योंकि दिल्ली की हर घटना का पूरे भारत पर प्रभाव पड़ता है। इस चुनाव को उस रूप में देखा जाए कि हम पूरे विश्व में दिल्ली को किस रूप में प्रस्तुत करने जा रहे हैं।

मोदी ने कहा कि मैं दिल्ली को मुसीबतों से बाहर निकालने आया हूं। मुझे सिर्फ साउथ ब्लाक में बैठने का स्थान देना काफी नहीं है। आप मुझे दिल्ली के गली मोहल्ले में काम करने का मौका दें। आप ऐसे लोगों को जिताएं जिनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर सकूं। इसके लिए आपसे आर्शिवाद मांगने आया हूं।
दिल्ली की समस्याओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में पीने के पानी की समस्या हमने देखी है। पहले केंद्र में कांग्रेस की सरकार और हरियाणा में कांग्रेस की सरकार होने पर भी दिल्ली में पीने के पानी की समस्या रही। लेकिन केंद्र और हरियाणा दोनों स्थानों पर भाजपा सरकार बनने पर हरियाणा ने दिल्ली को पानी देना शुरू किया। यह प्रदर्शित करता है कि अगर अच्छी सोच वाले लोगों की सरकार बने तब अच्छे फैसले लिए जाते हैं।

भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान चलाने का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि मैंने भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ा अभियान शुरू किया है। मैं बयानबाजी कम करता हूं। लेकिन ऐसे कदम उठा रहा हूं कि इस पर नकेल लग रही है। इस सिलसिले में उन्होंने गैस सब्सिडी का पैसा सीधे लोगों के खातों में जमा करने, गरीबों का बैंकों में खाता खोलने और मेक इन इंडिया जैसी योजनाओं का जिक्र किया।

आप पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि गरीबों की सेवा केवल नारेबाजी ने नहीं होती है बल्कि एक के बाद एक कदम उठाने और सफलतापूर्वक समयसीमा के भीतर इन्हें लागू करने से होती है ताकि गरीबों को लाभ प्राप्त हो सके। केंद्र में भाजपा सरकार को गरीबों के लिए और गरीबों को समर्पित करार देते हुए उन्होंने कहा कि जब देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होंगे तब 2022 तक गरीबों को पक्का मकान मुहैया कराने का उनका इरादा है।

मोदी ने कहा कि देश के गरीबों को सम्मान के साथ अवसर मिलना चाहिए और इसकी शुरुआत दिल्ली से करना चाहते हैं। यमुनाजी दिल्ली की शान बन सकती हैं लेकिन आज इनकी क्या हालत है। हम इसे बदलना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैंने ठान लिया है, मुझे इसके लिए आपका आशीर्वाद चाहिए। मुझे दिल्ली के लोगों के जीवन को नई दिशा देनी है, गरीबों का कल्याण एवं यहां नौजवानों को रोजगार प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि हमारी 65 प्रतिशत आबादी 35 साल से कम आयु की है। ऐसे युवा देश दुनिया की तस्वीर बदल सकते हैं।
अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के बारे में आप की आलोचना का अप्रत्यक्ष जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि अगर ओबामा की यात्रा के संदर्भ में थोड़ी सी चूक हुई होती और यह केवल 26 जनवरी के कार्यक्रम तक की सीमित रहती, तो हमारे विरोधी हमें बदनाम करने में कोइ कोर कसर नहीं छोड़ते।
उन्होंने मतदाताओं से कहा कि जिस तरह से लोगों ने केंद्र में 30 साल बाद पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनाई है, उसी तरह से दिल्ली में भी पूर्ण बहुमत की भाजपा सरकार बनाएं। सभा को संबोधित करते हुए भाजपा उपाध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा जो कहती है, वह करती है, जबकि कांग्रेस सरकार का शासन घोटालों से भरा रहा और आम आदमी पार्टी ने अपनी बातों से हमेशा पीछे हटने का काम किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें