बुधवार, 18 फ़रवरी 2015

भारत सरकार ने डिजीटल लॉकर लांच किया




लिंक http://digitallocker.gov.in/

प्रिय साथियों  
अब आपको अपने जरूरी दस्तावेज साथ लेकर घूमने की जरूरत नही है।
इसके लिए सरकार ने डिजीटल लॉकर लांच कर दिया है। जहां आप
जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिnक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को
ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। यह सुविधा पाने के लिए बस आपके पास
आधार कार्ड होना चाहिए। आधार का नंबर फीड कर आप डिजीटल लॉकर
अकाउंट खोल सकते हैं। इस सुविधा की खास बात ये है कि एक बार लॉकर में
अपने दस्तावेज अपलोड करने के बाद आपको कहीं भी अपने सर्टिफिकेट की
मूल कॉपी देने की जरूरत नहीं होगा। इसके लिए आपके डिजीटल लॉकर का
लिंक ही काफी होगा। डिजिटल लॉकर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया
प्रोग्राम का अहम हिस्सा है। डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन
टेक्नोलॉजी (डीईआईटीवाई) ने डिजिटल लॉकर का बीटा वर्जन लॉन्च किया है।

कैसे मिलेगा डिजीटल लॉकर
डिजीटल लॉकर को खोलने के लिए आपको http://digitallocker.gov.in/ वेबसाइट
पर जाकर अपनी आईडी बनानी होगी। आईडी बनाने के लिए आपको अपना
आधार कार्ड नंबर से लॉगिन करना होगा। लॉगिन होने के बाद आपसे जो
इन्फॉर्मेंशन मांगी जाए उसे भरें। इसके बाद आपका अकाउंट बन जाएगा।
अकाउंट खुलने के बाद आप कभी भी अपने पर्सनल डॉक्युमेंट्स अपलोड कर सकेंगे।
क्या है खासियत
डिजिटल लॉकर की खासियत ये है कि आप कहीं भी और कभी भी अपने डॉक्युमेंट्स
इसके जरिए जमा कर सकते हैं। डिजिटल लॉकर स्कीम में हर भारतीय एजुकेशनल,
मेडिकल, पासपोर्ट और पैन कार्ड डिटेल्स को डिजिटल फॉर्म में रख सकता है।
वेबसाइट में कहा गया है, 'डिजिटल लॉकर अधिकृत उपभोक्ताओं/ एजेंसियों को
किसी भी समय और कहीं भी अपने दस्तावेजों को सुरक्षित तरीके से अपलोड
और साझा करने की सहूलियत देंगे
------------

आधार कार्ड से ऑनलाइन मिल जाएगा DIGITAL LOCKER, ये है प्रोसेस
 POLICY TEAM   Feb 14, 2015
नई दिल्ली. अब आपको अपने जरूरी दस्तावेज साथ लेकर घूमने की जरूरत नही है। इसके लिए सरकार ने डिजीटल लॉकर लांच कर दिया है। जहां आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। यह सुविधा पाने के लिए बस आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए। आधार का नंबर फीड कर आप डिजीटल लॉकर अकाउंट खोल सकते हैं। इस सुविधा की खास बात ये है कि एक बार लॉकर में अपने दस्तावेज अपलोड करने के बाद आपको कहीं भी अपने सर्टिफिकेट की मूल कॉपी देने की जरूरत नहीं होगा। इसके लिए आपके डिजीटल लॉकर का लिंक ही काफी होगा। डिजिटल लॉकर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम का अहम हिस्सा है। डिपार्टमेंट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (डीईआईटीवाई) ने मंगलवार को डिजिटल लॉकर का बीटा वर्जन लॉन्च किया है।
कैसे मिलेगा डिजीटल लॉकर
डिजीटल लॉकर को खोलने के लिए आपको http://digitallocker.gov.in/ वेबसाइट पर जाकर अपनी आईडी बनानी होगी। आईडी बनाने के लिए आपको अपना आधार कार्ड नंबर से लॉगिन करना होगा। लॉगिन होने के बाद आपसे जो इन्फॉर्मेंशन मांगी जाए उसे भरें। इसके बाद आपका अकाउंट बन जाएगा। अकाउंट खुलने के बाद आप कभी भी इस पर अपने पर्सनल डॉक्युमेंट्स अपलोड कर सकेंगे।
क्या है खासियत
डिजिटल लॉकर की खासियत ये है कि आप कहीं भी और कभी भी अपने डॉक्युमेंट्स इसके जरिए जमा कर सकते हैं। डिजिटल लॉकर स्कीम में हर भारतीय एजुकेशनल, मेडिकल, पासपोर्ट और पैन कार्ड डिटेल्स को डिजिटल फॉर्म में रख सकता है। वेबसाइट में कहा गया है, 'डिजिटल लॉकर अधिकृत उपभोक्ताओं/ एजेंसियों को किसी भी समय और कहीं भी अपने दस्तावेजों को सुरक्षित तरीके से अपलोड और साझा करने की सहूलियत देंगे।'
--------------------

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें