शुक्रवार, 1 जनवरी 2016

हिंदुस्तान भगवान राम की धरती है : अजीज कुरैशी


पैगंबर ने भी माना था हिंदुस्तान भगवान राम की धरती है : अजीज कुरैशी


News18 | Fri Jan 01, 2016 

http://hindi.news18.com/news/uttarakhand/former-governor-aziz-qureshi-says-india-is-a-land-of-ram-1209346.html


उत्तराखंड से मिजोरम स्थानांतरित राज्यपाल डॉक्‍टर अजीज कुरैशी एक बार फिर अपने बयान को लेकर चर्चा में हैं। अजीज कुरैशी ने हिन्‍दुस्‍तान को भगवान राम की धरती बताया है। कहा कि इस्लाम के पैगंबर ने भी हिंदुस्‍तान को भगवान राम की धरती बताया है। भगवान राम का वजूद मनवाने के लिए किसी के आदेश की जरूरत नहीं है। विश्व में वह बदनसीब व्यक्ति हैं जो भगवान राम के वजूद को नहीं मानते हैं।

राज्‍यपाल ने यहां तक कह डाला कि भगवान राम के आदर्शों को अपनाए बिना विश्‍व का कल्‍याण संभव नहीं है। महामहिम ने ये बातें हरिद्वार के प्रेमनगर आश्रम में आयोजित कार्यक्रम और उसके बाद राजभवन में पत्रकारों से बातचीत में कही।

अजीज कुरैशी ने कहा कि उत्तराखंड के लिए उनकी कई योजनाएं थीं, लेकिन उन योजनाओं को धरातल पर उतारने के ख्वाब पूरे नहीं हो सके। इस पर अफसोस जताते हुए उन्होंने कहा कि वे मिजोरम में जाकर गाय, गंगा व हिमालय के लिए काम करेंगे।

राज्यपाल कुरैशी ने कहा कि चारधाम के विकास तथा इन चारों धामों को वेद धाम बनाने का उनका प्रमुख ख्वाब था। देव भूमि उत्तराखंड के इन धामों से ही गंगा यमुना निकल रही है। बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री में घंटियों की आवाज तथा शंख की गूंज गंगा यमुना की जलधारा में गीत संगीत घोल रही है। जल धारा की इसी आवाज से विश्व में मानवता, प्रेम, भाईचारे का संदेश पहुंच रहा है। यही संदेश चार वेद देते हैं। अगर वैदिक मान्यताओं पर चला जाए तो दुनिया में कहीं पर भी दंगे-फसाद न हों।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें