शुक्रवार, 1 अप्रैल 2016

श्रीमती वसुंधरा राजे : महत्वपूर्ण घोषणाएं : स्कूल शिक्षा

cm-budget-slide
श्रीमती वसुंधरा राजे : महत्वपूर्ण घोषणाएं : स्कूल शिक्षा
विधानसभा में वित्त और विनियोग विधेयक पर जवाब देते हुए महत्वपूर्ण घोषणाएं
30 मार्च, 2016
‘‘हो दिल में जिसके जज्बा मंजिल छूने का, वो मुश्किलों से कभी घबराया नहीं करते’’
हमारा बजट प्रदेश के विकास और सब जन के कल्याण की भावना से प्रेरित बजट है, राजनीतिक लाभ से नहीं। हमने कोशिश की है जन भावना और स्थानीय मांगों के अनुरूप प्रस्ताव बजट में शामिल हों। बजट प्रस्तुत करने के बाद भी कुछ मांगें आई हैं, इनको मैं सकारात्मक रूप से देखती हूं।

उम्मीदों के दिए बुझाया नहीं करते,
दूर हो मंजिल पर पांव डगमगाया नहीं करते।
हो दिल में जिसके जज्बा मंजिल छूने का,
वो मुश्किलों से कभी घबराया नहीं करते।।

बजट के बाद प्राप्त मांगों में से कुछ मांगों के संबंध में मैं निम्न घोषणाएं करती हूं –
स्कूल शिक्षा
19. राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय मण्डली चारणा, कजनऊ (बावड़ी), जिला जोधपुर को निर्धारित मापदण्ड के अनुसार माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत करने की घोषणा।
20. विद्यालय सहायक की नियुक्ति के विभिन्न प्रकरण माननीय सर्वोच्च न्यायालय में विचाराधीन होने से इनकी भर्ती प्रक्रिया पूर्ण नहीं की जा सकी। इस समस्या के समाधान के लिए मंत्रीमण्डल की उप समिति विभिन्न पहलुओं पर विचार कर रही है। उप समिति द्वारा रिपोर्ट राज्य सरकार को प्रस्तुत करने पर उस पर विचार किया जाएगा।
21. तृतीय श्रेणी अध्यापक भर्ती परीक्षा – 2012 से संबंधित षिक्षकगण के नियमित वेतनमान की समस्या का पंचायती राज विभाग ने विधिवत निराकरण कर लिया है।
22. सीकर स्थित राजकीय महाविद्यालय में स्नातक स्तर पर भौतिक शास्त्र विषय खोले जाने की घोषणा को संशोधित करते हुए इस विषय को स्नातकोत्तर स्तर पर खोले जाने की घोषणा। इसी महाविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर पर प्राणी शास्त्र, वनस्पति विज्ञान, भूगोल, समाजशास्त्र विषय प्रारंभ किये जाने की घोषणा। साथ ही, इसी महाविद्यालय में 50 लाख रुपये की लागत से आॅडिटोरियम बनाये जाने की घोषणा।
23. राजकीय कन्या महाविद्यालय, सादुलशहर में बजट भाषण में गृह विज्ञान विषय प्रारंभ किये जाने की घोषणा के बाद अब स्नातक स्तर के पंजाबी विषय को प्रारंभ किये जाने की घोषणा।
24. राजकीय महाविद्यालय, होद (खण्डेला) में भूगर्भ शास्त्र विषय प्रारंभ करने की बजट घोषणा को संशोधित करते हुए इसके स्थान पर गृह विज्ञान विषय प्रारंभ करने की घोषणा।
25. राजकीय धर्मचन्द महाविद्यालय, बहरोड़ में छात्रों की मांग को देखते हुए स्नातक स्तर पर विज्ञान संकाय खोलने की घोषणा।
26. नागौर के माड़ी देवी मिर्धा महाविद्यालय में विज्ञान संकाय-वनस्पति शास्त्र, प्राणी शास्त्र एवं रसायन शास्त्र प्रारंभ किये जाने की घोषणा।
27. राजकीय महाविद्यालय चूरू में भौतिक शास्त्र, प्राणी शास्त्र और गणित में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम प्रारंभ किये जाने की घोषणा।

28. मंगलाना तहसील परबतसर जिला नागौर में एक राजकीय महाविद्यालय प्रारंभ किये जाने की घोषणा।

29. चैमहला – जिला झालावाड़, गोगून्दा – जिला उदयपुर तथा मांगरोल – जिला बारां में राजकीय महाविद्यालय खोले जाने की घोषणा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें