शुक्रवार, 1 अप्रैल 2016

श्रीमती वसुंधरा राजे : महत्वपूर्ण घोषणाएं :ग्रामीण विकास

cm-budget-slide




श्रीमती वसुंधरा राजे : महत्वपूर्ण घोषणाएं :ग्रामीण विकास 
विधानसभा में वित्त और विनियोग विधेयक पर जवाब देते हुए महत्वपूर्ण घोषणाएं
30 मार्च, 2016
‘‘हो दिल में जिसके जज्बा मंजिल छूने का, वो मुश्किलों से कभी घबराया नहीं करते’’
हमारा बजट प्रदेश के विकास और सब जन के कल्याण की भावना से प्रेरित बजट है, राजनीतिक लाभ से नहीं। हमने कोशिश की है जन भावना और स्थानीय मांगों के अनुरूप प्रस्ताव बजट में शामिल हों। बजट प्रस्तुत करने के बाद भी कुछ मांगें आई हैं, इनको मैं सकारात्मक रूप से देखती हूं।

उम्मीदों के दिए बुझाया नहीं करते,
दूर हो मंजिल पर पांव डगमगाया नहीं करते।
हो दिल में जिसके जज्बा मंजिल छूने का,
वो मुश्किलों से कभी घबराया नहीं करते।।

बजट के बाद प्राप्त मांगों में से कुछ मांगों के संबंध में मैं निम्न घोषणाएं करती हूं –
श्रीमती वसुंधरा राजे : महत्वपूर्ण घोषणाएं : सूचना एवं प्रौद्योगिकी
विधानसभा में वित्त और विनियोग विधेयक पर जवाब देते हुए महत्वपूर्ण घोषणाएं :- 


पेयजल
30. अटरू जिला बारां की पेयजल समस्या के समाधान हेतु 15 करोड़ रुपये की लागत से अटरू – खेड़लीगंज पेयजल योजना प्रारंभ की जायेगी।
31. Fluoride प्रभावित क्षेत्र में 2 हजार गांवों में 330 करोड़ रुपये की लागत से सामुदायिक आधार पर जल शोधन यंत्र (RO Plant) स्थापित किये जायेंगे।
जल संसाधन
32. जनजाति बाहुल्य बांसवाड़ा जिले की कुशलगढ़ तहसील के गंभीर रूप से जल अभावग्रस्त क्षेत्र में खांदू नदी जल ग्रहण क्षेत्र में वडलावाला नाका खजुरा एवं वडला की रेल खजुरा में 907 लाख रूपये की लागत से 2 Micro Storage Tanks का निर्माण किया जाएगा।
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य
33. एलोपेथी के चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति आयु अप्रेल 2016 से 60 से 62 वर्ष किये जाने की बजट घोषणा, अब मार्च 2016 से ही लागू।
34. पूर्व में स्वीकृत 7 मेडिकल काॅलेज के अलावा सीकर में भी भारत सरकार के सहयोग से एक नवीन मेडिकल काॅलेज की स्थापना की जायेगी। अलवर मेडिकल काॅलेज के लिए भी वर्तमान जेल परिसर में स्थान चिन्हित कर लिया गया है।

ग्रामीण विकास
35. MLA LAD योजना के तहत प्रत्येक विधायक के स्तर पर प्रत्येक वर्ष 2 करोड रूपए की राशि की सीमा को 25 लाख रूपए से बढ़ाते हुए अब वार्षिक 2 करोड 25 लाख रूपए का प्रावधान करने की घोषणा।
36. मैंने बजट में महात्मा गाँधी नरेगा से convergence के माध्यम से ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं को संचालित किये जाने पर विशेष बल दिया था। इसी क्रम में मैं निम्न घोषणायें करती हूँः-
– खाद्यान्न को सुरक्षित किये जाने हेतु ग्रामीण क्षेत्रों में 2 हजार खाद्यान्न भंडार निर्मित किये जायेंगे।
– पशुओं के लिए स्वच्छ वातावरण एवं छाया-पानी की उचित व्यवस्था हेतु लगभग 50 हजार परिवारों के लिए cattle shed, जिसमें पशुओं के लिए छाया, चारा एवं पानी की खेळी का निर्माण करवाया जायेगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें