शनिवार, 14 जनवरी 2017

गंगासागर मेले









12 लाख श्रद्धालु पहुंचे सागरदीप
By Prabhat Khabar | Updated Date: Jan 14 2017

गंगासागर से विकास गुप्ता
 में आस्था की डुबकी लगाने शुक्रवार शाम तक तकरीबन 12 लाख श्रद्धालु सागरदीप में पहुंच गये हैं. राज्य के पंचायतमंत्री सुब्रत मुखर्जी ने शुक्रवार को आधिकारिक तौर पर यह जानकारी दी.


उन्होंने बताया कि कुछ लोग रास्ते में हैं, शनिवार दोपहर तक और तीन लाख के करीब श्रद्धालु गंगासागर मेले में पहुंच जायेंगे. मौके पर सुब्रत मुखर्जी ने कहा कि मेला प्रांगण में अब तक कोई भी अनचाही घटना नहीं घटी है. सभी कार्य सुचारू रुप से चल रहा है. किसी भी श्रद्धालु के तबीयत बिगड़ने की भी खबर नहीं है. छोटे-मोटे बीमारी का प्राथमिक उपचार कर लोगों को स्वस्थ कर दिया जा रहा है. मौके पर राज्य के बिजली मंत्री शोभनदेव चटर्जी ने बताया कि मेला प्रांगण में बिजली की पर्याप्त व्यवस्था है. कहीं भी बिजली जाने की खबर नहीं है. मेला प्रांगण में स्वेच्छासेवक 24 घंटे निस्वार्थ भाव से सेवाकार्य कर रहे हैं. किसी भी स्थिति से निपटने के लिए सभी टीम को तैयार रहने को कहा गया है. किसी भी समस्या मिलने पर तुरंत उन्हें समाधान किया जा रहा है.

आज सुबह 5.48 से स्नान का मुहूर्त : प्रमुख महंत
मकर शंक्रांति के दिन शनिवार सुबह 5.48 बजे से लेकर रविवार सुबह छह बजे तक स्नान का मुहूर्त है. कपिलमुनि मंदिर के प्रमुख महंत श्री ज्ञानदास जी महाराज ने बताया कि सूर्य शनिवार दोपहर 1.48 बजे से मकर राशि में प्रवेश करेगा. इसके कारण दोपहर 1.48 के बाद भी स्नान करने का सबसे पुण्य मुहूर्त है. जो कि रविवार सुबह छह बजे तक रहेगा. लेकिन इसके छह घंटे पहले से स्नान करने का मुहूर्त शुरु हो जाता है. उन्होंने कहा कि वह मंदिर के अन्य पुरोहित के साथ शनिवार शाम चार बजे सागरदीप में गंगा में डुबकी लगायेंगे. सागरमेले में आने वाले श्रद्धालुओं को स्वस्थ घर पहुंचने की मंगलकामना उन्होंने की.

मेला परिसर से 33 लोगों को किया गया गिरफ्तार : मेला प्रांगण से पुलिस की टीम ने गुरुवार रात से लेकर शुक्रवार शाम तक कुल 33 बदमाशों को गिरफ्तार किया है. उनके पास से 17 मोबाइल फोन व कुछ नगदी रुपये बरामद किये गये हैं. सभी मेला प्रांगण में श्रद्धालुओं से मोबाइल फोन छीनकर फरार हो जाते थे. इसके अलावा मेला प्रांगण में लापता हुए कुल 752 लोगों में से 700 लोगों को परिवार से मिला दिया गया है. बाकी को मिलाने की कोशिश जारी है. 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें