शनिवार, 4 फ़रवरी 2017

राजस्थान में भाजपा ‘विस्तारक’ होंगे नियुक्त


राजस्थान विधानसभा चुनाव की तैयारियों के लिए जुटी भाजपा : संगठन को मजबूत करने के लिए विस्तारक होंगे नियुक्त
 January 5, 2017 hellorajasthan
जयपुर। राजस्थान में अगले साल-2018 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने रोडमैप बनाना शुरू कर दिया है। इसके पहले चरण में संगठन की मजबूती के लिए विस्तारकों की नियुक्ति कर पिछले साल प्रदेशभर में बनाए गए 80 लाख सदस्यों तक पार्टी संपर्क करेगी। साथ ही प्रत्येक 50 बूथ पर एक मण्डल का गठन कर राज्य में नए मण्डलों का गठन कर सक्रिय कार्यकर्ताओं को भी मण्डल अध्यक्ष की जिम्मेदारी देकर उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा। इस संबंध में गुरूवार को भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों, जिलाध्यक्षों  एवं विभिन्न मोर्चों के अध्यक्षों की एक होटल में हुई बैठक में चुनावी रणनीति बनाई गई। बैठक के प्रारम्भ में पार्टी के राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री वी. सतीश, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना एवं प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी का भाजपा प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा, अभिषेक मटोरिया ने पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। इसके बाद वी.सतीश ने कार्यकर्ताओं से पण्डित दीनदयाल की जन्म शताब्दी वर्ष पर उनके द्वारा दिखाये गये पथ एवं एकात्म मानववाद के सिद्धान्त पर चलने का आह्वान किया। अशोक परनामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के नेतृत्व में जनहित व गरीब कल्याण के लिए ऐतिहासिक कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं के त्याग व परिश्रम की वजह से आज हम कांग्रेस मुक्त भारत का निर्माण करने के किनारे पर खड़े हंै। अविनाश राय खन्ना ने गुरू गोविन्द सिंह की 350वीं जयन्ती पर उन्हें नमन करते हुए उनके जीवन के अदभुत उदाहरणों को सबके सामने रखकर उससे सीख लेने को कहा।

15 जनवरी के बाद नए मण्डलों का होगा गठन
अशोक परनामी ने कहा कि प्रदेश में ऐसे कार्यकर्ताओं को विस्तारक की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी जो पार्टी के लिए कार्य करने में पूरा समय दे पाएंगे। उन्होंने बताया कि संगठन में कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं को ही विस्तारक बनाया जाएगा। इस दौरान परनामी से कांग्रेस के नोटबंदी को लेकर लगाए गए आरोपों के सवालों के जवाब में कहा कि मोदी ने भ्रष्टाचार, आतंकवाद समाप्त करने के लिए यह कार्य किया। जनता सर्वोपरी है, कांग्रेस के आरोपों का कोई मतलब नहीं, क्योंकि जनता साथ है।
----------------------------
जयपुर: भारतीय जनता पार्टी ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के ‘प्रचारक’ की तर्ज पर ‘विस्तारक’ तैयार करेगी. बीजेपी प्रदेश इकाई शुरूआत में पचास हजार विस्तारक तैयार करेगी. विस्तारक अपना जिला छोडकर अन्य जिले में पार्टी को मजबूती देने का काम करेंगे और यह जिम्मेदारी संभालते हुए चुनाव नहीं लडेंगे.

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी ने प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के बाद आज पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं को बताया कि यह विस्तारक पंद्रह दिन, एक महीने, दो महीने, छह महीने, एक साल और दो साल के लिए बनाये जायेंगे. तय समय अवधि के दौरान अपना गृह जिला छोड़कर अन्य जिलों में जाकर पार्टी और सरकार की नीतियों को बूथस्तर तक पहुंचाने का काम करेंगे. विस्तारक के चयन का काम शुरू हो गया है.

परनामी ने इस मौके पर बताया कि कार्यसमिति की बैठक में पारित राजनैतिक प्रस्ताव की जानकारी देते हुए बताया कि जीएसटी विधेयक पारित करवाकर देश में सहमति के साथ फैसला लेने की तथा एक सूत्र में बांधने की पहल की है.

उन्होंने दावा किया कि देश भर में नकारी जा चुकी कांग्रेस अनावश्यक मुद्दे उठाकर संसद में होने वाली चर्चा से लगातार भाग रही है. विभिन्न गुटों में बंटी कांग्रेस, सरकार के विरोध में मुद्दा विहीन होकर तथ्यहीन प्रचार कर अस्तित्व की लडाई लड रही है.

उन्होंने कहा कि तीन साल पूरे होने पर बीजेपी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के दूरदर्शीतापूर्ण नेतृत्व में विकास के पथ पर अग्रसर है. राज्य के विकास के लिए जहां संरचनात्मक ढाचे के विकास का मार्ग सुनिश्चित हो चुका है.

वहीं समावेशी विकास के लिए विकास का लाभ अन्तिम आदमी तक पहुंचाने के सार्थक प्रयास किये जा रहे है. बैठक में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी, प्रदेश कार्यसमिति के पदाधिकारी, सदस्य और आमंत्रित सदस्य मौजूद थे.

First Published: Monday, 23 January 2017

---------------------

जयपुर। राजस्थान बीजेपी ने संगठन को मजबूत करने के लिए नई पहल की शुरुआत की है। RSS की तर्ज पर बीजेपी ‘विस्तारक’ टीम का गठन करेगी। पार्टी के विस्तारक अपने जिले को छोड़कर दूसरे जिले में जाएंगे और पार्टी का विस्तार करेंगे। विस्तारक टीम में जो कोई होगा वो चुनाव नहीं लड़ेंगे। बीजेपी पूरे प्रदेश में 50 हजार विस्तारकों को काम पर लगाएगी।

राजस्थान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी ने मीडिया से कहा कि विस्तारक की टीम कुछ वक्त के लिए बनाए जाएंगे। तय अवधि के दौरान में पार्टी के विस्तार का काम करेंगे। बीजेपी का मकसद बूथ स्तर पर अपनी पकड़ मजबूत करने की है। परनामी ने कहा कि विस्तारक के लिए कार्यकर्ताओं का चयन शुरू हो गया है।

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए परनामी ने कहा कि कांग्रेस की साख लगभग खत्म हो चुकी है। वह नाकामी के बोझ तले दब चुका है। इसलिए संसद में जान बूझकर चर्चा नहीं करने देती है। कांग्रेस तो अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है।

-----------------------------

BJP इलेक्शन मैनेजमेंटशुरू, तैनात हुए ‘विस्तारक’
On Date : 06 January, 2017, 2:08 PM

उज्जैन में दी गई दो दिनी ट्रेनिंग, तीन साल के लिए होंगे तैनात
राजनीतिक ., भोपाल : चौथी बार सरकार बनाने के लिए भाजपा ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए न सिर्फ विस्तारकों की टीम तैयार की जा चुकी है बल्कि उसे काम करने के तरीके भी सिखाए जा चुके हैं। इन विस्तारकों को अभी से मैदान में उतारकर संगठन को मजबूत करने स्थानीय लेवल पर मौजूद गुटबाजी दूर करने और चुनावी रचना रचने के काम में लगाया जा रहा है।
भाजपा के चुनाव में संघ की पाठशाला से निकले पूर्णकालिक हमेशा से ही लीड रोल अदा करते आए हैं। पार्टी ने संगठन के विस्तार और आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए अभी से तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए हाल ही में उज्जैन में विस्तारकों का दो दिनी प्रशिक्षण शिविर उज्जैन में आयोजित किया गया था। इसमें सीएम शिवराज सिंह के अलावा . संगठन प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे, .ाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान, संगठन महामंत्री सुहास भगत समेत संघ के . से जुड़े वरिष्ठ नेता शामिल हुए थे। इन विस्तारकों को दिनी दिनी प्रशिक्षण वर्ग में छह सत्रों में संगठन को विस्तार देने के गुर सिखाए गए। विस्तारकों से कहा गया है कि उनकी पहली प्राथमिकता क्षेत्र में फैली गुटबाजी को दूर करना है। जब संगठन बढ़ेगा तो जनता के बीच जनाधार अपने आप बढ़ जाएगा।

तीन साल के लिए होंगे तैनात
संघ की पृष्ठभूमि से आने वाले इन विस्तारकों को अधिकांश स्थानों पर तीन साल के लिए तैनात किया जाएगा। अभी से तैनात होने वाले ये विस्तारक लोकसभा चुनाव तक उसी क्षेत्र में रहेंगे और संगठन मंत्रियों को अपने काम की हर महीने रिपोर्ट देंगे।

सीनियरों ने किया किनारा, जूनियरों पर दांव
सूत्रों की माने तो विस्तारकों के इस प्रशिक्षण वर्ग में सीनियर पूर्णकालिकों को बुलाया गया था पर उन्होंने विस्तारक बनने से इंकार कर दिया जबकि वे इसके पहले इसे लेकर . कार्यालय में हुई छह दिसम्बर की बैठक में शामिल हुए थे। गौरतलब है कि भाजपा ने तीन दर्जन से ज्यादा जिला और संभागीय संगठन मंत्रियों को मुक्त कर दिया है। संगठन अब इन्हें विस्तारक की जिम्मेदारी देना चाहता था पर इन सभी पूर्व संगठन मंत्रियों ने इस प्रशिक्षण वर्ग में हिस्सा लेने से इंकार कर दिया। लिहाजा संगठन ने कम अनुभव वाले लोगों को ही जिम्मेदारी सौंप दी है।

----------------------------
लो जीः BJP की Ticket घर पर मिलेगी, विस्तारक बनाएंगे Report

Feb 4, 2017  

कुल्लू। विधानसभा चुनावों में बीजेपी की टिकट तय करने का जिम्मा अब विस्तारकों पर होगा। बीजेपी हाईकमान ने इसके लिए वकायदा विस्तारक नियुक्त कर दिए हैं, जो सीधे आम कार्यकर्ता और लोगों से संवाद कर उनकी नब्ज टटोलेंगे। यानी बीजेपी में अब विस्तारक की रिपोर्ट के आधार पर ही टिकट तय होंगें। पार्टी ने प्रदेश के हर जिला के लिए विस्तारक नियुक्त कर दिए हैं जो चुनाव से पहले घर नहीं जाएंगे, बल्कि जनता की नब्ज टटोलेंगे।

विस्तारक कार्यकर्ताओं के घर पर रुकेंगे, जानेंगे किसी भी दावेदार का हाल

 बाकायदा रिपोर्ट तैयार कर देंगे हाईकमान को, हर जिला में विस्तारक तैनात
यह विस्तारक हर बूथ पर जाएंगे और बीजेपी का प्रचार करने के अलावा यह देखेंगें कि किस उम्मीदवार का जनाधार है। यह विस्तारक पूरी रिपोर्ट तैयार करेंगे और हाईकमान को रिपोर्ट भेजेंगे कि कौन जिताऊ उम्मीदवार है।

याद रहे कि पहले टिकट के लिए हाईकमान के पास उम्मीदवारों के चक्कर लगे रहते थे, लेकिन अब हाईकमान ने स्पष्ट कर दिया है कि टिकट के लिए कोई न आए और टिकट घर बैठे ही मिलेगा। क्योंकि आरएसएस के यह विस्तारक कार्यकर्ताओं के घर में प्रवास करेंगे न कि नेताओं के घर में। कहा जा रहा है कि ऊपर से सख्त मनाही है कि विस्तारक नेता के घर नहीं रहेगा। यही नहीं यह विस्तारक पार्टी की गुटबाजी पर भी शिकंजा कसेंगे। जो नेता पार्टी को अपने स्वार्थ के लिए या टिकट की चाहत में नुकसान पहुंचा रहा हो उस पर नकेल कसी जाएगी।

--------------------------------------------



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें