रविवार, 12 मार्च 2017

देश के गरीबों की ताकत को समझता हूं : नरेंद्र मोदी



खास बातें

०१_'चुनाव में कौन जीता, कौन हारा, मैं इस दायरे में सोचने वालों में नहीं हूं'

०२-'जिन्होंने वोट दिया भाजपा सरकार उनकी भी, जिन्होंने नहीं दिया उनकी भी'

०३-'मैं ऐसा पीएम हूं जिससे पूछा जाता है, इतनी मेहनत क्यों करते हो'

देश के गरीबों की ताकत को समझता हूं, जीत के बाद और अधिक नम्र होना हमारी जिम्मेदारी : पीएम मोदी

सुनील कुमार सिरीज द्वारा लिखित, अंतिम अपडेट: रविवार मार्च 12, 2017

https://khabar.ndtv.com/news/assembly-polls-2017/pm-narendra-modis-assembly-elections-victory-speech-at-bjp-headqaurter-1668901



        नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के बाद बीजेपी हेडक्वार्टर में आयोजित अभिनंदन समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव सिर्फ सरकार बनाने के लिए नहीं होते हैं, बल्कि यह लोकशिक्षण का माध्यम भी है. उन्होंने कहा कि अकल्पनीय भारी मतदान के बाद अकल्पनीय भारी विजय होता है, यह पोलिटिकल पंडितों के लिए विचार करने को मजबूर करता है. भावनात्मक मुद्दों के अलावा विकास एक कठिन चुनावी मुद्दा होता है. पिछले 50 सालों में विभिन्न राजनीतिक दल इस मुद्दे से कतराते रहे हैं.

        प्रधानमंत्री ने कहा कि इस जीत के लिए बीजेपी की चार पीढ़ियां खप गईं. हर चुनाव के साथ हमारा समर्थन बढ़ता गया. यह बीजेपी का स्वर्णिम युग है. उन्होंने कहा, चुनाव में कौन जीता, कौन हारा, मैं इस दायरे में सोचने वालों में से नहीं हूं. चुनाव का नतीजा हमारे लिए जनता जनार्दन का पवित्र आदेश होता है. जीत के फल के बाद और अधिक नम्र होना हमारी जिम्मेदारी है. सत्ता जनता की सेवा करने का एक अवसर होती है. पीएम मोदी ने कहा, मैं देश की गरीबों की शक्ति को पहचान पाता हूं और राष्ट्र के निर्माण में गरीबों को जितना ज्यादा अवसर मिलेगा, देश उतना प्रगति करेगा. गरीब को अगर काम का अवसर मिला, तो वह देश के लिए ज्यादा काम करके दिखाएगा. मध्यम वर्ग का बोझ कम होना चाहिए. एक बार गरीब के अंदर खुद का बोझ उठाने की क्षमता आ जाएगी, तब मध्यम वर्ग का बोझ कम हो जाएगा.

       प्रधानमंत्री मोदी ने पांचों राज्यों की जनता का धन्यवाद देते हुए कहा कि जिन्होंने वोट दिया भाजपा की सरकार उनकी भी है, जिन्होंने नहीं दिया उनकी भी है. इसलिए वोट दिया कि नहीं दिया यह कोई मायने नहीं रखता. प्रधानमंत्री ने कहा सरकार सबकी होती है, सबके लिए होती है और सबको साथ लेकर चलने के लिए होती है. सरकार को कोई भेदभाव करने का हक नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा, मैंने कहा था कि हमसे गलती हो सकती है, लेकिन गलत इरादे से कोई काम नहीं करेंगे. देश से दूसरा वादा मैंने ये किया था कि कि हम परिश्रम की पराकाष्ठा करेंगे. तीसरी बात मैंने कही थी कि हम जो कुछ करेंगे, प्रामाणिकता के साथ करेंगे. उन्होंने अपने बारे में कहा कि मैं ऐसा पीएम हूं, जिससे पूछा जाता है कि इतनी मेहनत क्यों करते हो. इससे बड़ा जीवन का सौभाग्य क्या हो सकता है.

       पीएम नरेंद्र मोदी के भव्य अभिनंदन समारोह में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने लोगों को होली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ये होली देश और भाजपा दोनों के लिए अनोखा रंग लेकर आई है. उन्होंने कहा कि यूपी की जीत हर मामले में अप्रत्याशित रही. उत्तराखंड में भी प्रचंड बहुमत के साथ बीजेपी सरकार बनाने जा रही है. मणिपुर और गोवा में भी वहां की जनता ने भाजपा को भरपूर समर्थन दिया और हमारा प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा. पांचों राज्यों के चुनावों के नतीजे 2014 के लोकसभा चुनावों से भी दो कदम आगे है.

       बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि इस बार हमें 2014 से भी बड़ा समर्थन मिला है और देश का गरीब नोटबंदी के फैसले पर बीजेपी के साथ है. अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी आजादी के बाद सर्वाधिक लोकप्रिय नेता बनकर उभरे हैं. बीजेपी की विजय यात्रा हिमाचल, गुजरात होते हुए पूर्व और दक्षिण में भी पहुंचेगी.

        इस समारोह में शामिल होने के लिए पीएम मोदी ली मेरीडियन होटल से बीजेपी दफ़्तर तक पैदल पहुंचे. इस दौरान उन पर फूलों की बारिश की गई. बीजेपी दफ्तर पहुंचने के बाद पीएम ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर फूल चढ़ाए. बीजेपी के इस जश्न में बड़ी संख्या मेें पार्टी कार्यकर्ता और कई दिग्गज नेता मौजूद रहे. पार्टी दफ्तर में ढोल-नगाड़े की थाप पर बीजेपी कार्यकर्ता नाचते-गाते दिखे.

       बीजेपी मुख्यालय में पीएम मोदी के स्वागत की भव्य तैयारी की गई. वहां होली के रंगीन होर्डिंग के जरिये विधानसभा चुनावों में बीजेपी का समर्थन करने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया गया. ली मेरिडियन होटल से लेकर बीजेपी मुख्यालय तक के रास्ते के बीच लोगों की भीड़ के मद्देनजर पुलिस ने सुरक्षा के खास इंतजाम किए थे. पार्टी कार्यकर्ता पीएम मोदी के बड़े-बड़े कटआउट लेकर सड़कों के दोनों ओर खड़े दिखे. स्वागत समारोह में कई केंद्रीय मंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

      स्वागत समारोह के बाद बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक होनी है, जहां यूपी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्रियों के नाम तय किए जा सकते हैं. कहा जा रहा है कि यूपी में मुख्यमंत्री पद के लिए केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा का नाम सबसे आगे चल रहा है. वहीं अमित शाह के क़रीबी दिनेश शर्मा भी रेस में हैं.

      यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, महासचिव श्रीकांत शर्मा समेत कई और नामों की चर्चा चल रही है. वहीं उत्तराखंड में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क़रीबी त्रिवेंद्र सिंह रावत, सतपाल महाराज, प्रकाश पंत जैसे कई नाम रेस में हैं.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें