पोस्ट

जून 23, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

डा. श्यामाप्रसाद मुखर्जी - राष्ट्रहित पर पहला बलिदान

इमेज
राष्ट्रहित पर पहला बलिदान - अरविन्द सिसोदिया लाखों भारतवासियों  के प्रेरणा पुंज और पथ प्रदर्शक ,   डा. श्यामाप्रसाद मुखर्जी महान शिक्षाविद, चिन्तक और भारतीय जनसंघ के संस्थापक थे, जो की भारतीय जनता पार्टी का प्रारंभिक नाम था  । भारतवर्ष की जनता उन्हें एक प्रखर राष्ट्रवादी के रूप में स्मरण करती है  । राष्ट्र सेवा की प्रतिव्धता में  उनकी मिसाल दी जाती है . एक प्रखर  राष्ट्र भक्त के रूप में, भारतीय इतिहास उन्हें सम्मान से स्वीकार करता है , उनका बलिदान स्वतंत्र भारत में राष्ट्रहित पर पहला बलिदान था , आज जो जम्मू और कश्मीर भारत का अंग हे वह उनके ही संघर्ष के कारण हे , उनके बलिदान के कारण हे .  भारतीय राजनीती में उन्होंने , एक जुझारू, कर्मठ, विचारक और चिंतक के रूप में, भारतवर्ष के करोड़ों  लोगों के मन में उनकी गहरी छबि अंकित है, वे एक निरभिमानी देशभक्त थे । बुद्धजीवियों और मनीषियों के वे आज भी आदर्श हैं  जब तक यह देश रहेगा तब तक उन्हें सम्मान के साथ २३ जून को हमेशा याद किया जायेगा ! - डा मुखर्जी देश के विभाजन के खिलाफ थे , उनकी धरना थी की जब हमारी सांस्क्रतिक प्रष्ठभूमि एक हे थो दो ट

अफजल को फ़ांसी , विनय कटियार के दबाव में

इमेज
अफजल को फ़ांसी , विनय कटियार के दबाव में - अरविन्द सिसोदिया अफजल गुरु जेसे आतंकवादी कांग्रेस के घरजमाई शीर्षक से १८-५-२०१० को में ने इसी  ब्लॉग पर अपनी  पोस्ट  लिखी थी , - भाजपा ने अम्बेडकर नगर जिले में आगामी 25 जून को ‘जागो जनता रैली’ आयोजित की है। रैली के लिए छपे एक पोस्टर में पूछा गया है कि संसद पर हमला करनेवाला अफजल गुरु किसका दामाद है, कांग्रेस का ? - कांग्रेस इस पर भड़की हुई हे , उसने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए , इसे दिमागी दिवालिया पन कहा हे . सच यही हे की भारत की जनता में दिमाग हे वह सहनशील हे उसमें धर्म  निरपेक्षता हे वह अपने से बड़ कर दूसरे को सम्मान देती हे ,  इसी  कारण से ही कांग्रेस हे ! इसी कारण से चाहे जो कहने वाले लोग हें , इस जनता ने जब भी  दिमागी दिवालिये पन से अपना हित  सोचना शिरू कर दिया उसी  दिन से पाखंड की राजनीती सुधर जायेगी.., लोग भारत में रहकर भारत का बुरा करना भूल जायेंगे, हिन्दुओं की सहनशीलता को उनकी कमजोरी मत मनो वह भी क्रोध में आ सकता हे , - में पूर्व संसद विनय कटियार को धन्यवाद दूंगा की उनने बजनदार  ढंग से देशा हित की बात उठाई , कांग्रेस अन्दर तक