पोस्ट

नवंबर 8, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

ओबामा ; बहुत विश्व राजनीति के अनुभवी नहीं हैं

चित्र
-  अरविन्द सीसोदिया  हालिया चुनाव में  अपनी डेमोक्रैटिक पार्टी की हार और अमेरिका की डूबती  अर्थव्यवस्था को गति देने की उम्मीदों का बोझ लिए, अमरीकी  राष्ट्रपति बराक ओबामा ने मुंबई उनकी  पत्नी मिशेल के साथ पहुचे और २६/११ से प्रभावित ताज होटल में ठहरे..! उन्होंने यह सन्देश देने की कोशिश की है क़ी वह आतंकवाद के मामलों में आतंकवादियों के साथ नहीं है ...! मगर उसके ही देश ने २६/११ के मास्टर माइंड हेडली के सारे सच को छुपा रखा है...!! तमाम सबूतों के बावजूद वह पाकिस्तान को आतंकवादी  देश घोषित नहीं कर रहा.., यह जानते हुए भी क़ी पाकिस्तान आर्थिक मदद को दूरउपयोग  भारत के विरुद्ध करता है ; तब भी पाकिस्तान को किसी न किसी बहाने मदद देता रहता है | जब भारत ने अपने परमाणु बम परिक्षण किया था तब भी सबसे पहले आर्थिक प्रतिबन्ध लगाया था...! भारतीय वैज्ञानिकों को अमरीका छोड़ने को कहा था..! १९७१ में भी पाकिस्तान से भारत के युद्ध के समय वह पाकिस्तान के पक्ष में युद्धपोत भेज रहा था | १९४७ / ४८ के  दौर में भी वह पाकिस्तान के साथ था और हमारे विरुद्ध था..!   कुल मिला कर बात यह है कि अमरीका, ब्रिटेन या बड़े अन्य द