पोस्ट

जनवरी 25, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

तिरंगे से बड़ी सत्ता है कांग्रेस के लिए

इमेज
- अरविन्द सीसोदिया तिरंगा जम्मू - कश्मीर में पहलीबार फहराने की बात हो रही हो यह नहीं है ,पहले भी कई वार और लगातार हर साल वहां तिरंगा फहराया जाता रहा है ! तिरंगे में आग भी लगाई जाती रही है , आग लगाने वालों पर कोई कार्यवाही नहीं होती क्यों की तिरंगे के अपमान के विरुद्ध दंड देने वाला कानून जम्मू और कश्मीर में लागू नहीं होता !  मगर कांग्रेस के समर्थन पर टिकी सरकार तिरंगा फहराने से मना कर रही है यह आश्चर्य है ..! और उससे बड़ा आश्चर्य कांग्रेस के द्वारा तिरंगा फहरानें से रोकने वालों की होंसला अफजाई है ..! कांग्रेस  सत्ता के लिए इतनी गिर सकती है यह सोचा भी नहीं जा सकता ...! दूसरी बात यह है की भाजपा की जम्मू के लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिस राजनीति से प्रेरित है तो आप तिरंगा फहरा कर उसके राजनैतिक एजेंन्ड़े को फेल करदो या हथिया लो ..! देश में राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान भी कांग्रेस की कायरता का शिकार होता है तो यह स्थिति दुर्भाग्य    पूर्ण ही होगी!! उसकी  तमाम   विफलताओं  में  गिनती  बड़ाने  वालीं  होगी !    -  'राष्ट्रीय एकता यात्रा' जम्मू एवं कश्मीर की सीमा में प्रवेश      भारतीय ज