पोस्ट

मई 5, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

ओसामा जी : लखनवी अंदाज में दोस्ती वयां कर रही है कांग्रेस

इमेज
 = अरविन्द सिसोदिया     अपराधियों को प्रतिष्ठा प्रदान करने वाले शब्द शायद कांग्रेस की रणनीति का ही हिस्सा होगा .., यदि ये द्वितीय विश्व युद्ध के समय कोई प्रतिक्रिया दे रहे होते तो कहते .., हिटलर जी , मुसोलीन जी , अभी कहा ...ओसामा जी .......आगे कहेंगे ......हाफिज  सईद  जी  .., अफजल गुरु जी , दाऊद जी , कसाव जी ..., डेविड हेडली जी, तहव्वुर राणा जी , लिट्टे जी .., सिम्मी  जी , आईएसआई जी आदि आदि ..,  इस तरह के  उच्चारण उस पार्टी के नेता द्वारा किये  गए हैं .., जो देश पर सबसे ज्यादा  समय से राज कर रही है ..!! शायद अपराधियों से सांठ  -  गांठ और उन्हें सम्मान देना  ही इनके लम्बे राज का कारण है ..?    वाराणसी। कांग्रेस महासचिव और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री लादेन पर अपने बयानों के कारण फंसते जा रहे हैं। यहां एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सिंह ने कहा, "यह कैसे संभव है कि ओसामा जी पाकिस्तान में इतने सालों से रह रहे थे और पाक को इस बारे में पता न रहा हो?" इसके पहले सिंह ने कहा था, "कोई चाहे जितना बड़ा आतंकी हो लेकिन मरने के बाद उसका अंतिम संस्कार उसके धार्मिक रीति-रिवाज से ही