पोस्ट

मई 17, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

राज्यपाल पद का पार्टी हित में दुरूपयोग : हंसराज भारद्वाज Hansraj Bhardwaj

इमेज
- अरविन्द  सिसोदिया    कर्नाटक में राज्यपाल हंसराज भारद्वाज एक बार फिर कांग्रेस कार्यकर्त्ता के रूपमें सामनें आगये हैं .., यूं तो कुछ वर्ष से ही न्यायालयों के कारण राज्यपाल पद का दुरूपयोग रुका है ..अन्यथा कांग्रेस ने राज्यपाल पद का पार्टी हित  में दुरूपयोग के अनेकों कीर्तिमान स्थापित  किये हैं ..!! कांग्रेस पार्टी के राज्यपालों के कारण बहुतेरे मुख्यमंत्रियों को कुर्सी गंवानी पड़ी है |  - --- http://en.wikipedia.org/wiki/Hansraj_Bhardwaj Hansraj Bhardwaj   ( Kannada : ಹನ್ಸ್ರಾಜ್ ಭಾರದ್ವಾಜ್; born May 17, 1937) is an  Indian  politician, currently serving as the  Governor of Karnataka . He is a member of the  Indian National Congress . He holds the record of having the second longest tenure in Law Ministry since independence, after  Ashoke Kumar Sen . He was the minister of state for nine years and a cabinet minister for law and justice for five years. He has been accused of "petty politicking" as a loyalist of the Congress Party even when appointed to constitutional posts.  Con

पेट्रोल की कीमत बढानें से राज्य सरकारें मालामाल

इमेज
- अरविन्द सिसोदिया  पेट्रोल की ज्यादा कीमत चुकाते हुए आपका गुस्सा जायज है। लेकिन इस वृद्धि के लिए तेल कंपनियों के साथ सरकार भी जिम्मेदार है।  राज्य सरकार चाहे तो आम उपभोक्ता पर पड़ने वाले असर को कम कर सकती है। तेल के दाम में जितनी वृद्धि होती है, राज्य सरकार का खजाना भी उसी हिसाब से बढ़ जाता है, क्योंकि राज्य सरकारें पेट्रोल-डीजल के दाम पर प्रतिशत के हिसाब से टैक्स वसूल करती हैं। पेट्रोल के दाम में पांच रुपये लीटर बढ़ने से दिल्ली सरकार को करीब 80 पैसे और यूपी सरकार को करीब एक रुपया प्रति लीटर का फायदा हुआ है। दिल्ली में प्रति लीटर पेट्रोल पर 20 प्रतिशत, जबकि यूपी में 26.55 प्रतिशत वैट वसूला जाता है। दिल्ली पेट्रोल पम्प ऐसोसिएशन के अध्यक्ष अतुल पेशावरिया कहते हैं कि राजधानी में प्रतिदिन करीब 30 लाख लीटर पेट्रोल की बिक्री होती है। ऐसे में दिल्ली सरकार को रोजाना 24 लाख रुपये की अतिरिक्त आय होगी। वहीं, उत्तर प्रदेश में रोजाना करीब 65 लाख लीटर पेट्रोल बिकता है। लिहाजा यूपी सरकार को पेट्रोल के दाम बढ़ने से करीब 65 लाख रुपए प्रतिदिन का फायदा हुआ है। बिहार में पेट्रोल पर वैट 24.50, झारख