पोस्ट

जुलाई 1, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कांग्रेस का अराष्ट्रीय चेहरा : तरुण विजय

इमेज
[तरुण विजय: लेखक राज्यसभा के सदस्य हैं] कांग्रेस का अराष्ट्रीय चेहरा -  कांग्रेस के मूल स्वभाव और चरित्र को समझे बिना वर्तमान राजनीति के पतन का विश्लेषण संभव नहीं। विडंबना यह है कि कांग्रेस के सत्ता केंद्रित अहंकारी स्वभाव का प्रसार भारत की राजनीति में घर कर चुका है। सत्ता के लिए किसी भी सीमा तक जाना तथा राजनीति में वोट लाभ के लिए अनुपयोगी जनकल्याण को छोड़ देना इसका स्वभाव बन  गया है। सत्ता की आतुरता और संघर्ष से घबराहट के कारण ही कांग्रेस ने 1947 में पाकिस्तान का प्रस्ताव स्वीकार करके भारत का विभाजन कराया। पचास के दशक में चीन के हाथ तिब्बत खोया और 1.25 लाख वर्ग किलोमीटर भूमि चीन तथा पाकिस्तान के कब्जे में जाने दी। लेडी एडविना माउंटबेटन के प्रभाव में नेहरू कश्मीर का मामला सरदार पटेल की सहमति के बिना राष्ट्रसंघ में ले गए जिस कारण धारा 370 का ऐसा संवैधानिक विधान लागू करवाया जो बाद में अलगाववाद तथा आतंकवाद के पोषण का सबसे बड़ा कारण बन गया। कांग्रेस की इसी सत्ताभोगी मानसिकता के कारण 1962 में चीन का हमला हुआ। 1965 में हम जीतकर भी हारे तो 1971 में इंदिरा गांधी को मिले अभूतपूर्व सर्वदलीय

भाजयुमो : 9 अगस्त 2011 को संसद की और मार्च कर "संसद घेराव"

इमेज
भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनुराग सिंह ठाकुर ने घोषणा की कि भाजयुमो के लाखो कार्यकर्ता देश में बड़ते हुए भ्रष्टाचार, काले धन और लोकतंत्र के पूरी तरह से विफल हो जाने के विरुद्ध अपने आन्दोलन के रूप में 9 अगस्त 2011 को संसद की और मार्च कर "संसद घेराव" करेंगे | महात्मा गाँधी ने ब्रिटिश साम्राज्य को 9 अगस्त को भारत छोड़ो का नारा दिया था, उसी 9 अगस्त को विरोध के रूप में भाजयुमो ने कांग्रेसनीत संप्रग सरकार के दिवालियेपन का पर्दाफाश करने एवं सत्ता छोड़ने के लिए एक राष्ट्रव्यापी अभियान चलाने का निर्णय लिया है | श्री अनुराग ठाकुर ने नई दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में एक विशेष संवाददाता सम्मलेन में कहा की देश के लोग और विशेषकर युवा देश में लोकतंत्र को पहुची अपार हानि से दुखी एवं आश्चर्यचकित है और वे इस काल में उजागर हुए भ्रष्टाचार के लिए स्पष्टीकरण चाहते है | "हम चाहते है की सरकार इसके लिए नैतिक जिम्मेदारी ले |" भाजयुमो ने निष्प्रभावी शासन का विरोध करने के लिए "चलो दिल्ली " का आह्वान किया है | देश के सभी भागो से लाखो युवा देश में भ्रष्ट शासन पर अपना क्रोध और आ