पोस्ट

नवंबर 6, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

भंवरी: आधुनिक राजनैतिक भोग विलास

चित्र
भंवरी कांड पर अब बहुत जल्द, सारे पर्दे उठाने का दावा होने वाला है। मगर अभी तक तो इसी बात पर अधिक बल दिया जा रहा है कि.., भंवरी चरित्रहीन थी भंवरी ब्लेक मेल कर रही थी।  भंवरी के पास इतनी सम्पत्ती कहां से आई। भंवरी की सम्पती की आज कीमत इतनी है।  आदि आदि... भंवरी राजस्थानी एलबमों में काम करती थी सो पैसा तो उस पर पहले से ही था वह राजस्थान की एक क्षैत्रीय अभिनैत्री थी।। मगर यह कोई नहीं कह रहा कि राजस्थान के मंत्रियों को फिसलने को किसने कहा था ? राजस्थान के प्रसाशनिक अधिकारियों को किसने कहा कि तुम भंवरी के नजदीक जाओ ?? भंवरी ने मौज उडाई या उसे मजबूर किया.....??? भंवरी कौन है, कहां की है, किस तरह की है, यह तो सब पूर्व बिदित था!!!! उस पर मेहरवानी करने की अतिरिक्त चिंता मंत्रीजी ने क्यों की ......????? गिरेवान में आधुनिक राजवाडों को झांकना ही होगा कि हम तो मनोवृति से आज भी सामंतशाही से ही ग्रस्त हैं। ====== http://www.bhaskar.com 3 मंत्रियों,3 आईएएस अफसरों से हैं भंवरी के रिश्ते!  bhaskar news   |   06/11/2011 जोधपुर.करीब दो माह के अनुसंधान एवं चर्चाओं से यह साफ हो रहा है कि पूर