पोस्ट

जनवरी 25, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कांगेस का सरकारी तंत्र दुरूपयोग, भाजपा के राष्ट्रिय अध्यक्ष चुनाव प्रभावित करने हेतु

इमेज
- अरविन्द सिसोदिया भाजपा के लिए शिंदे के भगवा आतंकवाद के मुद्दे के साथ यह भी याद रखना चाहिए कि , कांगेस ने सरकारी तंत्र का दुरूपयोग भाजपा के राष्ट्रिय अध्यक्ष पद के चुनाव को प्रभावित करने के लिए किया है । 22 जनवरी मंगलवार 2013 को यह तय था कि , 23 को भाजपा अपना नया अध्यक्ष नितिन गडकरी को पुनः चुन रही है , तब भारत का आयकर विभाग , भारत की दूसरी बड़ी पार्टी के अध्यक्ष पद को प्रभावित करने में जूट गया ? क्यों?? एक दो दिन बाद भी यह कार्यवाही हो सकती थी ! गडकरी भारत से भाग कर तो कहीं जा नहीं रहे थे ? इस घटना पर पार्टी की बड़ी प्रतिक्रिया होनी चाहिए थी ? ताकी आगे इस तरह का षड्यंत्र कांग्रेस न कर पाए , मगर भाजपा के बड़े नेता इस पर अपना कर्तव्य नहीं निभा पाए ? क्यों.....?  याद  रहे आज गडकरी को कोंग्रेस ने चक्रव्यूह रच कर राजनैतिक हत्या की है तो कल वे नेता भी होंगे इसी तर्ज पर शिकार जो आज चुप हैं...................! दुर्भाग्यपूर्ण यह भी रहा की भारत के मिडिया को इस दखलंदाजी पर सत्य के साथ खड़ा होना चाहिए था , मगर वह विज्ञापन के साथ खड़ा हुआ.................... 22 जनवरी 2013 मंगलवार की दो खबरें

Santoshi mata's KATHA in English - Neena Sharma

इमेज
Santoshi mata's KATHA in English - Neena Sharma (If you want in Hindi Katha.... please see after that in Roman) There was an old woman, she had seven sons. Six of them were working hard and one was lazy and not working. The old woman would make food and feed the six sons, whatever remnants were there she would serve the seventh son. The younger son was innocent and was not aware of this. One day he told his wife - "See, how much my mother loves me?" She said - "Why not, she gives you the remnants of everyone to eat." He said, "What, how can such a thing be? Till the eyes see, I cannot believe what you say. The wife laughed and said, " Will you believe once you see yourself?" After a few days there was a festival in the house. Seven types of food and laddoo [sweet dish] were prepared. To check out the truth he made an excuse of headache and went to the kitchen and laid down covering his face with a thin cloth, through which he was watching eve