पोस्ट

नवंबर 1, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

मुझसे सवाल पूछने की बजाय जनता को जवाब दे कांग्रेस : नरेंद्र मोदी

चित्र
मुझसे सवाल पूछने की बजाय जनता को जवाब दे कांग्रेस: मोदी divyabhaskar network   |  Nov 01, 2013, http://www.bhaskar.com/article/GUJ-narendra-modi-in-pune-4422449-PHO.html पुणे। दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल के एक हिस्से का उद्घाटन करने के लिए पुणे पहुंचे बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर तीखे हमले किए। मोदी ने इस मौके पर कहा, 'देश के कई राज्यों और केंद्र में कभी गठबंधन सरकार बनी, कभी कांग्रेस की, कभी कम्युनिस्टों की सरकार तो कभी बीजेपी की सरकार बनी। आपने कई पार्टियों के शासन को देखा है। देश के राजनीतिक पंडितों, अर्थशास्त्रियों का आह्वान करता हूं। देश में कुछ पैरामीटर तय किए जाएं। किस दल ने क्या किया। अगर इसका तुलनात्मक नतीजा आए तो देश के सामने यह सवाल नहीं आएगा कि बीजेपी की सरकार आनी चाहिए या नहीं। जब-जब जहां-जहां बीजेपी की सरकार बनी है वहां जन आकांक्षाओं की पूर्ति का प्रयास हुआ है। यह देश गवाह है अटल बिहारी वाजपेयी और मोरारजी देसाई की सरकार में महंगाई कम थी। गरीब आदमी को दो वक्त खाना मिलता था। लेकिन जब का

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बनें-भारत रत्न लता मंगेशकर

चित्र
लता दीदी बोलीं, मैं चाहती हूं मोदी पीएम बनें आईबीएन-7 | 01 Nov 2013 http://khabar.ibnlive.in.com/news/111099/1 पुणे। भारत रत्न लता मंगेशकर ने कहा है कि उनकी इच्छा है कि नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बनें। उन्होंने कि हर कोई चाहता है कि मोदी देश का प्रधानमंत्री बनें। लता जी ने कहा कि हमारी शुभकामनाएं नरेंद्र मोदी के साथ है। मोदी पुणे में दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल के उद्घाटन समारोह में लता मंगेशकर के साथ मंच साझा कर रहे हैं। इस मौके पर लता मंगेशकर की छोटी बहन और मशहूर गायिका आशा भोसले भी मौजूद थीं। वहीं इस मौके पर नरेंद्र मोदी ने कहा कि लता जी ने जो सम्मान दिया इसके वो उनका सदा आभारी रहेंगे। मोदी ने कहा लता जी का आशीर्वाद ही उनके लिए सबसे बड़ा तोहफा है। वहीं जेडीयू और एनसीपी ने साफ कह दिया कि भले ही लता के गीत लोग सुनें लेकिन उनकी बात सुनकर मोदी को वोट नहीं मिलने वाले।

सरदार पटेल ने चीन की कूटनीतिक चाल के प्रति आशंका जाहिर की थी

चित्र
जब से गुजरात  मुख्यमंत्री और भाजपा की ओर से प्रस्तावित आगामी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने , भारत के पूर्व उपप्रधानमंत्री सरदार वल्ल्भ भाई पटेल को याद करना प्रारंभ् किया और उनकी विशाल प्रतिमा को स्थापित करने की योजना बनाई , तब से ही कोंग्रेस को अचानक पटेल याद आने लगे !!! अन्यथा सारी सरकारी योजनाएं सिर्फ नेहरू खान दान के इर्दगिर्द ही रखी गई हैं !!! गैर नेहरू कोंग्रेसी को इस तरह भुला दिया गया जैसे उनका कोई योगदान ही नही हो ॥ जवाहरलाल नेहरू और महात्मा गांधी की गलतियों को देश भुगत रहा है आने वाले समय में हमारी पीढ़ियां इन्हे क्या कहेंगी यह तो समय ही बतायेगा , मगर सरदार पटेल समय के साथ और बड़े कद के होनें वाले हैं यह सच हे ! क्यों कि उन्होंने देशहित से कभी समझोता नहीं किया , इसी कारण रियासतों का एकीकरण हुआ और वे चीन के प्रति कितने सतर्क और चिंतित थे इसका भी उदाहरण यह पत्र है !!!! नेहरू की गलती से तिब्ब्त चीन ने निगल लिया ! मगर पटेल का पत्र इतिहास को यह बताता रहेगा कि सावधानी रखी गई होती तो तस्वीर और होती। पटेल कोंग्रेसी होने से नहीं अपितु देशभक्त होने से आने वाले इतिह

देश को वोट बैंक वाला सेक्युलरिज्म नहीं चाहिए : नरेंद्र मोदी

चित्र
देश को सरदार पटेल वाला सेक्युलरिज्म चाहिए, वोट बैंक वाला नहीं: नरेंद्र मोदी आज तक वेब ब्यूरो [Edited By: सौरभ द्विवेदी] | भरूच, 31 अक्टूबर 2013 | बीजेपी के पीएम उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को पटेल जयंती पर कहा कि देश को सरदार पटेल के सेक्युलरिज्म की जरूरत है, वोट बैंक के सेक्युलरिज्म की नहीं. वह गुजरात के भरूच में 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' के शिलान्यास कार्यक्रम में बोल रहे थे. प्रस्तावित सरदार पटेल की मूर्ति दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति होगी. इसकी ऊंचाई 182 मीटर होगी और इसका चेहरा नर्मदा बांध की ओर होगा. यह अमेरिका की मशहूर 'स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी' से दोगुना ऊंची होगी. 2500 करोड़ के खर्च वाली इस योजना को मोदी ने बड़ी चालाकी से प्रदेश के विकास, आकर्षण, देश के गौरव और पटेल के सपने से जोड़ा. उन्होंने संकेतों में कहा कि सरदार पटेल की यह प्रतिमा भारत को वैसा स्थान दिला सकती है जैसा चीन को उसके विकसित शहर शंघाई ने या जापान को बुलेट ट्रेन ने दिलाया. उन्होंने जोर देकर कहा कि भारत को अब हल्के में लेने के दिन अब लद गए हैं. पढ़िए उनका भाषण ज्यों का त्यों. भाइयों-बहनों