पोस्ट

जुलाई 5, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

पत्रकार मेहर तरार - शशि थरूर के चक्कर में सुनंदा की मौत ? SCसर्वोच्च अदालत में पहुंचा मामला

इमेज
मेहर के चक्कर में सुनंदा की मौत ? SC पहुंचा मामला अमर उजाला, नई दिल्ली ! 'सीबीआई या एनआईए करें जांच' सुप्रीम कोर्ट से शुक्रवार को कांग्रेस सांसद व पूर्व कानून मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की होटल के कमरे में हुई रहस्यमयी मौत के मामले की जांच की मांग की गई है। अदालत से किसी स्वतंत्र एजेंसी सीबीआई या एनआईए को जांच करने का निर्देश जारी करने और कोर्ट की ओर से निगरानी करने की मांग की गई है। सर्वोच्च अदालत में इस मसले पर वकील राजारमन की ओर से याचिका तब दायर की गई। जबकि इस मामले में एम्स के चिकित्सक सुधीर गुप्ता के एक बयान के बाद नया विवाद खड़ा हो गया। जो सुनंदा की लाश के पोस्टमार्टम करने वाली टीम का नेतृत्व कर रहे थे। मेहर के चक्कर में सुनंदा की मौत की आशंका हाल ही में सुधीर गुप्ता ने कहा कि जिस समय उन्होंने रिपोर्ट तैयार की वह दबाव में थे और उनपर रिपोर्ट बदलने का दबाव डाला गया। उनके अनुसार 52वर्षीय सुनंदा को दक्षिणी दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में 17 जनवरीकी रात को मृत पाया गया था। जबकि इससे ठीक एक दिन पहले उनकी ट्विटर पर पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार से

तथाकथित बुद्धिजीवी : किसके हितों को , किन हाथों में !

इमेज
अरविन्द सिसोदिया - ईराक़ में बर्बरता की इन्तः हो रही है , मासूम बच्चों तक की हत्याएं हो रहीं हैं , महिलाओं का क्या हाल  होगा ? मगर भारत के तथाकथित सेक्यूलर बुद्धिजीवी मौन हैं ! भारत में जरा जरा सी बात पर मिडिया में सर उठानेवालों का यह मौन यह सावित  करता है कि विदेशी मॉल खाने के कारण इनका वास्तविक जमीर तो मर चूका ये मात्र भाड़े के , विदेशी एजेंट हैं !  आवरण कथा : पाञ्चजन्य  - प्रशांत बाजपेई किसके हितों को साध रहे हैं , किन हाथों में खेल रहे हैं ! तारीख: 28 Jun 2014 ऐसे बुद्घिजीवियों की कतार पर्याप्त लंबी है, जो पाकिस्तान जाकर पाकिस्तान के प्रवक्ता बन जाते हैं और भारत की कश्मीर नीति से लेकर परमाणु नीति तक का विरोध करते हैं। चीनी घुसपैठ पर मौन रहते हैं और अपने वक्तव्यों से चीन की छवि को उदार बनाने का प्रयास करते हैं। 23 मई 2014 को जब भारत में नई सरकार के शपथ ग्रहण की तैयारियाँ चल रही थीं, और जनचर्चाओं से लेकर सोशल मीडिया तथा बाजार तक देश के उत्साह का प्रमाण दे रहे थे, तब पाकिस्तान के प्रसिद्घ समाचारपत्र डॉन में लेखिका अरुंधती रॉय का बयान छपा '़.़ उन्हंे (प्रधानमंत्री नरेंद

विदेशों से सहायता प्राप्त एन जी ओ - डॉलर से बंधे सरोकार

इमेज
अरविन्द सिसोदिया -   विदेशों से सहायता प्राप्त एन जी ओ की भारत में भरतमाता के प्रति क्या भूमिका है, इस पर देशवासियों को गहराई से विचार करना चाहिये। चाहे वह अरविन्द केजरीवाल हो, मनीष सीसौदिया हो, मेधा पाटकर हो, तीस्ता सीतलवाड हो, अरूधंती राय हो या प्रशांत भूषण हों।  आवरण कथा - पाञ्चजन्य पत्रिका  विकास रोकना और  सरकारों को अस्थिर करना मुख्य मकसद,  डॉलर से बंधे सरोकार तारीख: 28 Jun 2014 नई दिल्ली। स्वयंसेवी संगठन (एनजीओ) पर आई खुफिया ब्यूरो की रिपोर्ट के बाद विदेशी फंड पर चलने वाली एनजीओ ने लॉबिंग शुरू कर दी है। उनकी तरफ से एक सुर में कहा जाने लगा है कि मोदी सरकार का मकसद एनजीओ पर लगाम लगाना है। इसके लिए गुजरात के मुख्यमंत्री रहते हुए 9 सितंबर 2006 में एनजीओ को लेकर दिए गए नरेंद्र मोदी के भाषणों का उल्लेख किया जा रहा है, जिसमें उन्होंने एनजीओ संचालकों को 'नोबल पिपुल' और 'फाइव स्टार एक्टिविस्ट' कहा था और यह भी जोड़ा था कि देश में आज एक एनजीओ इंडस्ट्री खड़ी हो गई है, जिनकी इमेज बिल्डिंग के लिए बड़ी-बड़ी पीआर एजेंसियों की सहायता ली जा रही है। विदेशी पैसे

भगवान विष्णु के दस अवतार

इमेज
हिन्दू धर्म ग्रंथों में लिखे एक-एक लाइन का वैज्ञानिक आधार है.... बशर्ते उसे समझने की अक्ल होनी चाहिए.....! पुराणोँ को ध्यान से पढ़ने के पश्चात मालूम चलता है कि इसमेँ अधिकांश बातें वैज्ञानिक और प्राकृतिक है .. जिसे कहीं मानवीकरण के द्वारा तो कहीं रूप-अलंकार के द्वारा बताया गया है। उदाहरण के तौर पर... भगवान विष्णु के सभी अवतारों को हम आधुनिक क्रमिक विकास से संबंधित कर सकते हैं ...! विष्णु अवतार के ये विभिन्न अवतार हमें धरती पर प्रभुत्व वाले जीवोँ की जानकारी देते हैं ..... जो धरती पर विभिन्न कालों में राज किया करते थे । 1. प्रथम अवतार ......"मत्स्य"........एक जीव है जो केवल पानी में रहते हैं.. और, वैष्णव के अनुसार धरती पर जीव की उत्पत्ति समुद्र के झाग या मिनरल से हुई थी । 2. दूसरा अवतार....... "कुर्मा"...... एक जीव है ... जो पानी और भूमि ( उभयचर ) दोनों जगहों में रह सकता है... तथा, इसी प्रकार के जीवोँ से धरती पर अन्य जीवोँ की भी उत्पत्ति मानी जाती है । 3. तीसरा अवतार... "वाराह"....एक जीव है.. जो केवल जमीन पर रहते हैं ( स्विमिंग करने की क्षमत