पोस्ट

जनवरी 24, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

प्राचीन भारतीय विज्ञान पर चुप्पी टूटी

                                   प्राचीन भारतीय विज्ञान पर चुप्पी टूटीसौ साल बाद  -प्रशांत बाजपेई   स्त्रोत: पाञ्चजन्य http://vskjodhpur.blogspot.in/2015/01/blog-post_79.html  जिज्ञासा खोज तक पहुंचाती है। गहरे समुद्र में एक विशालकाय, मांसाहारी एवं बेहद आक्रामक जीव पाया जाता है। नाम है जाइंट स्क्विड। लंबाई 30 से 40 फुट तक। कभी-कभी ये छोटी नावों पर हमला भी कर देता है। ये जीव वास्तव में कैसा होता है, यह मानव ने अभी-अभी जाना है।आज से 2400 वर्ष पूर्व अरस्तू ने जाइंट स्क्विड के बारे में कुछ इशारा किया था। समय-समय पर इसके बारे में बातें होती रहीं परंतु वास्तविक प्रमाण मिला 19वीं शताब्दी में। विज्ञान की अनेक खोजों को पूर्व में कल्पना याअंधविश्वास माना गया। बहुत सी परिकल्पनाएं सदियों बाद सिद्धांत बनीं। इन अनुभवों से मानव की वैज्ञानिक चेतना विकसित हुई। आज विज्ञान कहता है कि बिना सिद्ध किए, बिना परीक्षण किए किसी बात को मान लेना अंधविश्वास है। पर उन लोगों को क्या कहेंगे जो बिना परीक्षण किए किसी बात को नकार देते हैं? भारतीय मूल के कैनेडियन-अमरीकन गणितज्ञ हैं 40 वर्षीय मंजुल भार्गव। गत व

हिंदू तन मन, हिंदू जीवन-अटल बिहारी वाजपेयी

इमेज
मेरा परिचय -अटल बिहारी वाजपेयी हिंदू तन मन, हिंदू जीवन, रग रग हिंदू मेरा परिचय॥ मै शंकर का वह क्रोधानल, कर सकता जगती क्षार-क्षार डमरू की वह प्रलयध्वनि हूं, जिसमें नाचता भीषण संहार रणचंडी की अतृप्त प्यास, मैं दुर्गा का उन्मत्त हास मै यम की प्रलयंकर पुकार, जलते मरघट का धुंआधार फिर अंतरतम की ज्वाला से जगती में आग लगा दूं मैं यदि धधक उठे जल थल अंबर, जड चेतन तो कैसा विस्मय हिंदू तन मन, हिंदू जीवन, रग रग हिंदू मेरा परिचय॥ मै आज पुरुष निर्भयता का वरदान लिए आया भू पर पय पीकर सब मरते आए, मैं अमर हुआ लो विष पीकर अधरों की प्यास बुझाई है, मैंने पीकर वह आग प्रखर हो जाती दुनिया भस्मसात, जिसको पल भर में ही छूकर भय से व्याकुल फिर दुनिया ने प्रारंभ किया मेरा पूजन मै नर नारायण नीलकण्ठ बन गया, न इसमें कुछ संशय हिंदू तन मन, हिंदू जीवन, रग रग हिंदू मेरा परिचय॥ मै अखिल विश्व का गुरु महान, देता विद्या का अमर दान मैने दिखलाया मुक्तिमार्ग, मैंने सिखलाया ब्रह्म ज्ञान मेरे वेदों का ज्ञान अमर, मेरे वेदों की ज्योति प्रखर मानव के मन का अंधकार, क्या कभी सामने सका ठहर मेरा स्वर्णाभा में गहरा-गहरा, सागर के जल में

सुभाषचंद्र बोस की हत्या रुस में : सुब्रह्मण्यम स्वामी

इमेज
बोले सुब्रह्मण्यम स्वामी, सुभाषचंद्र बोस की हत्या जवाहर लाल नेहरू ने करवाई थी By News Desk | Publish Date: Jan 24 2015 http://www.prabhatkhabar.com/news/national/subramanian-swamy-jawaharlal-nehru-subhash-chandra-bose-murder-stalin-conspiracy/292848.html मेरठ : भारतीय राजनीति में विवादित बातों को भी बेबाकी से रखने के लिए मशहूर सुब्रह्मण्यम स्वामी ने फिर एक ऐसा बयान दे दिया है, जो विवादों का कारण बनेगा. कल नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती के अवसर पर वे उत्तर प्रदेश के मेरठ में थे. नवभारत टाइम्स में छपी खबरों के अनुसार स्वामी ने यहां दावा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की हत्या रुस में स्टालिन ने करायी थी और इसमें जवाहर लाल नेहरू का हाथ था.  इस समारोह में उन्होंने दावा किया कि अगली बार वे जब नेताजी की जयंती पर मेरठ आयेंगे, तो इस बात के सबूत लेकर आयेंगे, जिससे यह साबित होता है कि नेहरू ने ही नेताजी की हत्या करवाई. इस मौके पर स्वामी ने एक बार फिर दोहराया कि सुनंदा पुष्कर की हत्या हुई है और इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी पूछताछ होनी चाहिए.  स्वामी ने कहा, द्वितीय विश्व