पोस्ट

जून 21, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सम्पूर्ण प्राणी जगत के कल्याण की सोच ही हमें “ विश्वगुरू” बनायेगी - दामोदर प्रसाद शांडिल्य

चित्र
विश्व योग दिवस के क्रम में कार्यक्रम सम्पूर्ण प्राणी जगत के कल्याण की सोच ही हमें “ विश्वगुरू” बनायेगी - दामोदर प्रसाद शांडिल्य 21वीं सदी विश्व में भारतीय संस्कृति के अभ्युदय की होगी- - दामोदर प्रसाद शांडिल्य 21 जून। सम्पूर्ण प्राणी जगत के कल्याण की सोच ही हमें “ विश्वगुरू” बनायेगी, हमारी भारतीय संस्कृति बिना किसी भेद के सम्पूर्ण प्राणी जगत के कल्याण और उन्नती के मार्ग पर चलती है। इसी आचार - विचार और भावना से ही विश्व का कल्याण होगा। अब 21 वीं सदी भारतीय संस्कृति के विश्वव्यापी अभ्युदय की होगी। यह उद्गार भारतीय जनता पार्टी, शहर जिला कोटा की ओर से विश्व योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम के मुख्य वक्ता एवं मुख्य अतिथि से रूप में दामोदर प्रसाद शांडिल्य ने व्यक्त किऐ। वे वरिष्ठ साहित्यकार , लेखक एवं जनसंघ कालिक भाजपा नेता हैं। ट्रैफिक गार्डन मौजीबाबा की गुफा के पास आयोजित कार्यक्रम ठीक प्रातः 6.15 बजे प्रारम्भ हुआ, प्रारम्भ में योग गुरू एवं जनसंघ कालिक भाजपा कार्यकर्ता सत्यनारायण सैन ने सभी को योग अभ्यास करवाया तथा विभिन्न बीमारियों से दूर रहने के तरीके बताये। स्वांस-प्रस्व