पोस्ट

अगस्त 23, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बहन की सुरक्षा के लिये भाई रक्षाबंधन पर प्रधानमंत्री जीवन रक्षा बीमा पालिसी भेट करें

चित्र
बहन की सुरक्षा के लिये भाई रक्षाबंधन पर प्रधानमंत्री जीवन रक्षा बीमा पालिसी भेट करें। मात्र 12 रूपये प्रीमियम या 210 में आजीवन !! रक्षा बंधन पर बीमा योजना का उपहार दें : नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की है कि वे इस बार रक्षा बंधन के पहले ग़रीब महिलाओं को प्रधानमंत्री जन सुरक्षा बीमा योजना का उपहार दें. उन्होंने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा कि ऐसा करने से करोड़ों महिलाओं को बीमा का फ़ायदा मिलेगा और उनका जीवन सुरक्षित हो जाएगा. नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस साल रक्षा बंधन के मौके को महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से खास बनाने का खाका तैयार कर लिया है। उन्होंने कहा है कि इस मौके पर लोग समाज की महिलाओं को सुरक्षा बीमा योजना भेंट करें। उनकी इस अपील के बाद अब आम लोगों के साथ ही भाजपा विधायकों व सांसदों से लेकर मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों की ओर से भी ऐसे कार्यक्रम आयोजित किए जा सकते हैं। सुरक्षा बीमा योग दिवस की सफलता के बाद अब प्रधानमंत्री अगले दो महीने महिलाओं की सामाजिक सुरक्षा के लिए विशेष अभियान चलाना चाहते हैं। पिछले महीने उन्होंन

जिंदा सबूत से भागा पाकिस्तान

चित्र
दोटूक बोलीं सुषमा :  बातचीत नहीं,  Aug 23, 2015   विशेष प्रतिनिधि, नई दिल्ली भारत-पाकिस्तान के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) स्तर की बातचीत होने की उम्मीद शनिवार को उस समय लगभग टूट गई, जब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दोटूक कहा कि पाकिस्तान अगर कश्मीर पर चर्चा पर दबाव बनाएगा और कश्मीरी अलगाववादियों से संपर्क करेगा तो बातचीत नहीं हो पाएगी। इससे पहले, पाकिस्तानी एनएसए सरताज अजीज ने इस्लामाबाद में कहा कि कश्मीर पर चर्चा के बिना भारत के साथ कोई गंभीर वार्ता संभव नहीं है। दोनों तरफ से साफ संकेत दिए गए कि मौजूदा हालात में वार्ता संभव नहीं है, लेकिन खबर लिखे जाने तक किसी ने वार्ता रद्द करने का ऐलान नहीं किया। अगर सरताज आए तो आज दोपहर करीब 3 बजे दिल्ली उनका प्लेन दिल्ली में उतरेगा। शाम को पाकिस्तानी उच्चायोग में रिसेप्शन होगा। कल सुबह 10 बजे उनकी भारतीय एनएसए अजीत डोभाल से वार्ता प्रस्तावित है। शनिवार दोपहर को सरताज अजीज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि वह दिल्ली जाने को तैयार हैं, लेकिन भारत कोई शर्त न लगाए। भारत उनके रिसेप्शन की गेस्ट लिस्ट को सीमित करना चाह रहा है। हुर्रि