पोस्ट

सितंबर 26, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आतंक पालने-पोसने वाले देशों को अलग-थलग करें : सुषमा स्वराज

इमेज
आतंक पालने-पोसने वाले देशों को अलग-थलग करें : भारत पुनः संशोधित सोमवार, 26 सितम्बर 2016 http://hindi.webdunia.com संयुक्त राष्ट्र। भारत ने दुनिया के सभी देशों से आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने की अपील करते हुए सोमवार को कहा कि आतंकवाद को पालने-पोसने वाले देशों की पहचान करके उन्हें विश्व समुदाय से अलग-थलग किया जाना चाहिए। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में आतंकवाद को मानवाधिकारों का सबसे बड़ा उल्लंघन करार देते हुए कहा, सबसे पहले तो हम सबको यह स्वीकारना होगा कि आतंकवाद मानवाधिकारों का सबसे बड़ा उल्लंघन है, क्योंकि यह निर्दोष लोगों को निशाना बनाता है, बेगुनाहों को मारता है, यह किसी व्यक्ति या देश का ही नहीं, बल्कि मानवता का अपराधी है।       उन्होंने पाकिस्तान या किसी अन्य देश का नाम लिए बिना आतंकवादियों को पनाह देने वाले देशों की पहचान करने की भी आवश्यकता जताई। उन्होंने कहा, आतंकवादियों का न तो कोई अपना बैंक है, न हथियारों की फैक्ट्रियां, तो कहां से उन्हें धन मिलता है, कौन इन्हें हथियार देता है, कौन इन्हें सहारा देता है, कौन इन्हें संरक्षण दे

जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाने देंगे : पीएम मोदी

इमेज
हम जनता के कल्याण के लिए खुद को खपाने आए हैं बीजेपी की बैठक में पीएम मोदी प्रकाशित 25 सितम्बर  2016 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के साथ केरल के कोझिकोड में बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक खत्म हो गई है. अपने भाषण में पीएम मोदी ने कहा कि सत्ता हासिल करना हमारा लक्ष्य नहीं है, बल्कि हम सबका साथ और सबका विकास के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ रहे हैं. ऐसा तभी हो सकता है जब विकास की यात्रा में हर ग़रीब और दलित को साथ लिया जाए. पंडित दीन दयाल उपाध्याय जन्मशती वर्ष की शुरुआत का ज़िक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अल्पसंख्यकों का ध्यान रखना ज़रूरी है, लेकिन उन्हें वोट बैंक न समझा जाए. पाकिस्तान के हुक्मरान जान लें हम अपने 18 जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाने देंगे : पीएम मोदी २४ सितम्बर 2016 कोझिकोड: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पाकिस्तान पर तीखा प्रहार करते हुए पड़ोसी देश के नेतृत्व को चेताया कि भारत उरी हमले को कभी भूलेगा नहीं और 18 जवानों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी. उरी आतंकी हमले के बाद पहली सार्वजनिक रैली में पीएम मोदी ने कहा कि भारत, पाकिस्तान को कूटनीतिक स्तर पर अ

अमित शाह : राष्ट्रीय परिषद् कोझिकोड (केरल)

इमेज
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह द्वारा स्वप्ननगरी, कोझिकोड (केरल) में आयोजित भाजपा की राष्ट्रीय परिषद् में पंडित दीन दयाल उपाध्याय जन्मशती समारोह 'गरीब-कल्याण वर्ष' की शुरुआत पर दिए गए उद्बोधन के मुख्य बिंदु एकात्म मानववाद, एकात्म मानव दर्शन एवं अंत्योदय की विचारधारा हमारा आदर्श और गरीब-कल्याण हमारा एकमात्र लक्ष्य होना चाहिए: अमित शाह ********** अल्पकाल में ही कई सारे दायित्त्वों का निर्वहन करनेवाले पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी का जीवन सरलता, सादगी, विनम्रता, कर्मठता और आदर्शों का प्रतीक है: अमित शाह ********** युगद्रष्टा पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी ने राष्ट्र को एक वैकल्पिक विचारधारा देने का काम किया। पंडित जी की विचारधारा सत्ता प्राप्ति के लिए नहीं बल्कि राष्ट्र के पुनर्निर्माण के लिए थी: अमित शाह ********** आज जब हम पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी की जन्मशती मना रहे हैं तब हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम पंडित जी द्वारा दिखाए गए नीतियों पर चलकर देश को आगे ले जाने के लिए कृतसंकल्पित हों: अमित शाह ********** पंडित दीन दयाल जी ने कहा था, “जब तक हम समाज