पोस्ट

जनवरी 19, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

राजस्थान में सार्वजनिक वितरण प्रणाली को मार्च 2017 तक नगदी रहित बना दिया जायेगा

इमेज
राजस्थान में सार्वजनिक वितरण प्रणाली को मार्च 2017 तक नगदी रहित बना दिया जायेगा जयपुर, 19 जनवरी । खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री बाबूलाल वर्मा ने कहा कि राज्य सरकार सार्वजनिक वितरण प्रणाली के एण्ड टू एण्ड कम्प्यूटराइजेशन एवं नगदी रहित बनाने की दिशा में लगातार कार्य कर रही है और मार्च 2017 तक सम्पूर्ण राज्य की खाद्य वितरण प्रणाली को पूर्ण रूपेण नगदी रहित बना दिया जायेगा। श्री वर्मा गुरूवार को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में केंद्रीय उपभोक्ता मामलेे खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री श्री रामविलास पासवान की अध्यक्षता में आयोजित राज्यों के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्रियों केे राष्ट्रीय सम्मेलन में राजस्थान का पक्ष रख रहे थे। इस अवसर पर राजस्थान के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुबोध अग्रवाल भी मौजूद थे। श्री वर्मा ने कहा कि ‘नगदी रहित भुगतान’ की दिशा में किये जा रहे प्रयासों को देखते हुए सार्वजनिक वितरण प्रणाली में किए जा रहे सुधारों को भुगतान की डिजिटल पद्धतियों से यथाशीघ्र जोड़ने की आवश्यकता पर राजस्थान लगातार

पीएम मोदी बने सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले राजनेता

इमेज
पीएम मोदी बने सोशल मीडिया पर दुनिया में सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले राजनेता अमिताभ सिन्हा | News18India.com January 19, 2017 नई दिल्ली। आज जो बात भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को देश और दुनिया के बाकी नेताओं से अलग करती है, वो है डिजिटल दुनिया कि तमाम आधुनिक तकनीक की उनकी समझ और उसके इस्तेमाल मे उनका खुलापन. सत्ता संभाले ढाई साल हो रहे हैं और देश इस तकनीकी के प्रयोग का इतना आदी हो चला है कि लेसकैश इकोनॉमी में बदलने में मुश्किलें भी कम ही आ रहीं हैं. ये पीएम मोदी की कोशिशों का नतीजा है कि गरीबों के खातों में सब्सिडी और दूसरी सरकारी मदद सीधे खाताधारियों के खाते में पहुचीं. अब तक 1.5लाख करोड़ रुपये सीधे 32 करोड़ लोगों को खाते में ट्रांसफर किए जा चुके हैं.  देश भर में अब गरीब भी मोबाईल फोन के इस्तेमाल से भुगतान की तकनीकी जानने लगा है. गवर्नेंस में टेक्नोलॉजी का ऐसा इस्तेमाल अब से पहले शायद आजाद भारत में संभव नजर नहीं आ रहा था. जब पूरी दुनिया की निगाहें लगीं हैं राष्ट्रपति बराक ओबामा की विदाई और डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने पर चर्चा करने में, भारत के प्रधानमंत्री नरेन