पोस्ट

मार्च 22, 2018 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

एक है हिन्दुत्व : परम पूज्य भागवत जी

चित्र
एक है हिन्दुत्व – राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक जी का साक्षात्कार रा.स्व.संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा यानी संघ से जुड़ा वर्ष का सबसे बड़ा आयोजन. समाज में संघ कार्य की स्वीकार्यता तेजी से बढ़ रही है. विविध क्षेत्रों में संघ के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानने की उत्कंठा है. 2018 के अवसर पर रेशिम बाग, नागपुर में सरसंघचालक परम पूज्य श्री मोहन भागवत जी ने देश के वर्तमान राजनीतिक – सामाजिक परिदृश्य तथा संघ के बढ़ते व्याप के संदर्भ में पाञ्चजन्य के संपादक हितेश शंकर तथा आर्गनाइजर के संपादक प्रफुल्ल केतकर से विस्तृत बातचीत की. प्रस्तुत हैं विशेष साक्षात्कार के संपादित अंश – आज संघ कार्य के लिए जो अनुकूलता दिखती है, इसे आप कैसे देखते हैं? संघ के स्वयंसेवक सर्वदूर समाज में जाते हैं. अन्यान्य क्षेत्रों में काम भी करते हैं. संघ की शाखा में भी जाते हैं. समाज में, विभिन्न संगठनों में काम करते हैं. कई ऐसे हैं जो ऐसा कुछ नहीं करते, अपनी घर-गृहस्थी के लिए ही काम करते हैं. इन सबके व्यवहार और आचरण से वह सब झलकता है. जो काम उन्होंने किया है, वह घर-गृहस्थी चलाने का काम हो या किसी संगठन