पोस्ट

जून, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

राष्ट्रपति चुनाव : 2017

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर सोनिया गांधी का अहम बयान, जानिए- क्या कहा Date:Wed, 28 Jun 2017 सोनिया गांधी ने कहा कि यह चुनाव हमारे लिए एक विचार धारा, उसूलों अौर सच्चाई की लड़ाई है, हम लड़ेंगे। नई दिल्ली (एएनअाई)। राष्ट्रपति चुनाव को लेकर चल रहे गुणा-गणित के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का अहम बयान सामने अाया है। सोनिया गांधी ने कहा कि यह चुनाव हमारे लिए एक विचारधारा, उसूलों अौर सच्चाई की लड़ाई है, हम लड़ेंगे। इससे पहले ईद पर भी सोनिया गांधी ने कुछ इसी तरह से बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि 'विध्वंसकारी ताकतें, अनेकता में एकता और सांप्रदायिक समरसता के भारत के अनोखे चरित्र पर हमला करने का प्रयास कर रही हैं' लेकिन अपनी 'साजिशों' में वे कभी कामयाब नहीं होंगी। सोनिया गांधी ने कहा था कि भारत को दुनिया में एकमात्र ऐसा देश होने का विशेष दर्जा हासिल रहा है जहां विभिन्न धर्मों को मानने वाले लोग प्यार और समरसता के माहौल में एक साथ रहते आए हैं। उन्होंने कहा, 'विध्वंसकारी ताकतें विभिन्नता में एकता और सांप्रदायिक मेलमिलाप के भारत के खास चरित्र पर हमला करने का प्रयास

नीतीश कुमार : दो बार मौका था तब क्यों नहीं याद आई बिहार की बेटी मीरा कुमार ?

इमेज
बिहार के सीएम नीतीश का विपक्ष पर हमला,  पूछा-मीरा कुमार को हराने के लिए राष्ट्रपति उम्मीदवार क्यों बनाया नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: Jun 23, 2017 पटना आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव इफ्तार पार्टी में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का 'टेस्ट' बदलने में कामयाब नहीं रहे। राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के साथ मजबूती से खड़े नीतीश ने इफ्तार पार्टी से बाहर निकलते ही विपक्ष पर जोरदार निशाना साधा और पूछा कि क्या बिहार की बेटी का चयन हारने के लिए किया गया है? लालू ने नीतीश से फैसले पर पुनर्विचार करने और विपक्षी उम्मीदवार मीरा कुमार के समर्थन की अपील की थी। शुक्रवार को सभी की नजरें लालू की इफ्तार पार्टी पर ही टिकी हुईं थीं। इसमें नीतीश-लालू गले तो जरूर मिले, लेकिन राष्ट्रपति चुनाव पर दोनों की पसंद अलग ही रही। नीतीश ने मीडिया कर्मियों से कहा, 'मैं मीरा कुमार का बहुत सम्मान करता हूं, लेकिन क्या बिहार की बेटी का चयन हराने के लिए किया गया? जिताने के लिए क्यों नहीं किया गया? दो बार मौका था तब क्यों नहीं याद आई बिहार की बेटी? यदि सच में सम्मान करना है

रामनाथ कोविंद : राष्ट्रपति पद पर चुनना तय

इमेज
राष्ट्रपति चुनाव: कोविंद को मिला जदयू का साथ, नीतीश के मंथन के बाद हुआ ऐलान जदयू ने एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को आधिकारिक तौर पर समर्थन करने का ऐलान कर दिया है. पार्टी प्रवक्ता के सी त्यागी ने बुधवार को इसकी घोषणा की. केसी त्यागी ने कहा कि पार्टी के इस फैसले से महागठबंधन पर कोई असर नहीं पड़ेगा. इसके साथ ही त्यागी ने साफ कर दिया है विपक्ष की गुरुवार को होने वाली बैठक में जदयू के नेता शामिल नहीं होंगे. जदयू नेता ने कहा कि अब समर्थन देने के फैसले के बाद बैठक में भाग लेने का अब कोई औचित्य नहीं है. इस संबंध में कांग्रेस पार्टी को सूचित कर दिया गया है. त्यागी ने कहा कि माननीय कोविंद का बेहतरीन कार्यकाल के तौर पर रहा है. उन्होंने (कोविंद) ने किसी भी तरह का टकराव राजभवन से नहीं होने दिया. राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी पर सर्वसम्मति से ये फैसला किया गया है. गुरुवार की अन्य दलों की होने वाली मीटिंग में जदयू शिरकत नहीं करेगी. इसके बावजूद जदयू विपक्षी एकता के लिए हमेशा प्रयासरत रहेगा. नीतीश जी ने पहले ही अपने फैसले से सोनियाजी और लालूजी को अवगत करा चुके हैं. रा

आरती : ॐ जय जगदीश हरे

इमेज
आरती : ॐ   जय   जगदीश   हरे ॐ जय जगदीश हरे,स्वामी जय जगदीश हरे | भक्त जनों के संकट,दास जनों के संकट, क्षण में दूर करे | ॐ जय जगदीश हरे || जो ध्यावे फल पावे,दुःखबिन से मन का, स्वामी दुःखबिन से मन का | सुख सम्पति घर आवे,सुख सम्पति घर आवे, कष्ट मिटे तन का |ॐ जय जगदीश हरे || मात पिता तुम मेरे,शरण गहूं किसकी, स्वामी शरण गहूं मैं किसकी | तुम बिन और न दूजा,तुम बिन और न दूजा, आस करूं मैं जिसकी |ॐ जय जगदीश हरे || तुम पूरण परमात्मा,तुम अन्तर्यामी, स्वामी तुम अन्तर्यामी | पारब्रह्म परमेश्वर,पारब्रह्म परमेश्वर, तुम सब के स्वामी |ॐ जय जगदीश हरे || तुम करुणा के सागर,तुम पालनकर्ता, स्वामी तुम पालनकर्ता | मैं मूरख फलकामी मैं सेवक तुम स्वामी, कृपा करो भर्ता | ॐ जय जगदीश हरे || तुम हो एक अगोचर,सबके प्राणपति, स्वामी सबके प्राणपति | किस विधि मिलूं दयामय,किस विधि मिलूं दयामय, तुमको मैं कुमति |ॐ जय जगदीश हरे || दीन-बन्धु दुःख-हर्ता,ठाकुर तुम मेरे, स्वामी रक्षक तुम मेरे | अपने हाथ उठाओ,अपने शरण लगाओ द्वार पड़ा तेरे |ॐ जय जगदीश हरे || विषय-विकार मिटाओ,पाप हरो देवा,

किसानों के लिये स्वामीनाथन आयोग की अनुसंशाओं से बढ़कर काम किया है मप्र ने - मुख्यमंत्री श्री चौहान

इमेज
हजारों किसानों के आग्रह पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उपवास तोड़ा किसानों ने कहा शिवराज हमारा भाई किसानों के लिये स्वामीनाथन आयोग की अनुसंशाओं से बढ़कर काम किया है मप्र ने - मुख्यमंत्री श्री चौहान शांति भंग करने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा भोपाल : रविवार, जून 11, 2017, 17:48 IST मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को नारियल पानी पिलाकर उपवास समाप्त करवाते हुए पूर्व मुख्यमंत्री श्री कैलाश जोशी। इस दौरान केन्द्रीय पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचंद गेहलोत भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने हजारों किसानों के आग्रह पर आज यहाँ शांति बहाली के लिए चल रहे उपवास के दूसरे दिन अपना उपवास समाप्त किया। उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री श्री कैलाश जोशी एवं बुजुर्ग किसान श्री मोतीलाल ने नारियल पानी पिलाकर उपवास तुड़वाया। स्थानीय दशहरा मैदान में अनिश्चितकालीन उपवास का दूसरा दिन सुबह 11 बजे से महात्मा गांधी के प्रिय भजन 'वैष्णव जन' से शुरू हुआ। प्रदेश के विभिन्न जिलों से बड़ी संख्या में आये किसान मुख्यमंत्र