पोस्ट

जून, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

अमरत्व के नाथ : बाबा अमरनाथ

इमेज
 श्रीनगर |                बम-बम भोले और हर-हर महादेव के जयघोष के बीच बुधवार सुबह पवित्र गुफा में प्रथम पूजन के साथ ही 13,500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पवित्र गुफा अमरनाथ की वार्षिक तीर्थ यात्रा शुरू हो गई। पहले दिन शाम पांच बजे तक करीब 9700 यात्री बाबा के दर्शन कर चुके थे। पहले दिन बाबा अमरनाथ के दर्शन करने वालों में अमरनाथ श्राइन बोर्ड के अध्यक्ष और राज्यपाल एनएन वोहरा, राज्य की प्रथम महिला ऊषा वोहरा व बोर्ड के सीईओ आरके गोयल भी थे। गुफा में जब वैदिक मंत्रोच्चारण व शंख की आवाज गूंजी तो पूरा वातावरण भक्तिमय हो उठा। मौसम की खराबी से अधिक यात्रियों को गुफा की ओर रवाना कर देने से बालटाल मार्ग पर कई यात्री फंस गए। आधार शिविर बालटाल पहुंचे कुछ श्रद्धालुओं ने बताया कि बराड़ी मल और संगम टाप के बीच सैकड़ों श्रद्धालु जिनमें बच्चे और बुजुर्ग शामिल हैं, मौसम खराब होने के कारण फंस गए हैं। खराब मौसम के कारण अमरनाथ यात्रा पर जा रहे वाहनों को ऊधमपुर व रामबन में रोक लिया गया। इस बीच, बालटाल से 19 हजार 498 और नुनवन से करीब 13 हजार 652 श्रद्धालुओं का पहला जत्था सुबह पवित्र गुफा के लिए रवाना ह

भयग्रस्त प्रधानमंत्री

इमेज
सच यह है की देश  के सबालों से यह प्रधानमंत्री डरा हुआ है |  - अरविन्द सिसोदिया  बहुत दिनों बाद एकबार फिर प्रधानमंत्री सच और झूठ मिला कर बोले , मानलो भई में ही प्रधानमंत्री हूँ ..! यह सच है कि मनमोहन सिंह जी को प्रधानमंत्री सोनिया गांधी ने ही बनाया है ! बस  एक बार सिंह सहाब लोकसभा चुनाव लड़े और हार गए , इसके बाद कभी भी लोकसभा चुनाव हार के डर से नहीं लड़े !! राज्य सभा से ही संसद में पहुचते हैं !! प्रधानमंत्री नरसिंह राव के कार्यकाल में वित्तमंत्री रहते हुए उन्होंने सोनिया जी कि बहुत सेवा की थी , उसकी मेवा उन्हें प्रधानमंत्री पद के रूप में मिली ! बहुमत तो सोनिया जी के पास है मनमोहन सिंह पर तो है नहीं और यह भी सच है कि जब तक सोनिया जी कि कृपा है तब तक ही वे प्रधानमंत्री हैं !! वे एक उच्चस्तरीय नौकरशाह ही तो रहे हैं , कभी राजनीती में थे भी नहीं सो वे इतने समय प्रधानमंत्री रह कर भी अपनी राजनैतिक जमीन तैयार नहीं कर सके ! सोनियाजी जब चाहें और कहें मूषक भवः तभी ये भूतपूर्व हो जायेंगे !! राजनैतिक स्वाभिमान या स्वभाव कभी था ही नहीं जो अब आये !   अब देखिये खजाना लुट रहा है तो लुट ही रहा है ...

पेड न्यूज वर्तमान मीडिया..???

इमेज
मीडिया के अंडरवर्ल्‍ड पर दिलीप मंडल की नयी किताब   प्रकाशक : राधाकृष्ण प्रकाशन | दिल्ली, पटना, इलाहाबाद पे ड न्यूज वर्तमान मीडिया विमर्श का सबसे चर्चित विषय है। समाचार को लेकर जिस पवित्रता, निष्पक्षता, वस्तुनिष्ठता और ईमानदारी की शास्त्रीय कल्पना है, उसका विखंडन हम सब अपनी आंखों के सामने देख रहे हैं। मीडिया छवि बनाता और बिगाड़ता है। इस ताकत के बावजूद भारतीय मीडिया अपनी ही छवि का नाश होना नहीं रोक सका। देखते-देखते पत्रकार आदरणीय नहीं रहे। लोकतंत्र का चौथा खंभा आज धूल धूसरित गिरा पड़ा है। खबरें पहले भी बिकती थीं। सरकार और नेता से लेकर कंपनियां और फिल्में बनाने वाले खबरें खरीदते रहे हैं। बदलाव सिर्फ इतना है कि पहले खेल पर्दे के पीछे था। अब मीडिया अपना माल दुकान खोलकर और रेट कार्ड लगाकर बेच रहा है। विलेन के रूप में किसी खास मीडिया हाउस को चिन्हित करना काफी नहीं है। सारा कॉरपोरेट मीडिया ही बाजार में बिकने के लिए खड़ा है। बहरहाल, मीडिया की बंद मुट्ठी क्या खुली, एक मूर्ति टूटकर बिखर गयी। यह किताब इसी विखंडन को दर्ज करने की कोशिश है। देश-काल की  बड़ी समस्याओं पर लिखी गयी किताबों में आमतौर पर

List of Anti Hindu Personalities and Their Intricate Connections

- अरविन्द सिसोदिया    यह आलेख विश्व संवाद केंद्र काशी की वेव साईट पर है .....  उपयोगी जानकारी है , इसे हर हिन्दू को अवश्य पढ़ना चाहिए ...........  सच को जानने के लिए यह जरुरी है हम पीछे छिपे सही तथ्यों को भी जानें......  List of Anti Hindu Personalities and Their Intricate Connections http://vskkashi.blogspot.com/2010/07/list-of-anti-hindu-personalities-and.html Suzanna Arundhati Roy is niece of Prannoy Roy (CEO of NDTV)   Prannoy Roy sits Council on Foreign Relations' International Advisory Board. Mukesh D. Ambani also sits on CFR's International Advisory Board. Mukesh is MD, Reliance Industries Ltd. Prannoy Roy married to Radhika Roy Radhika Roy is sister of Brinda Karat (CPI(M)) Brinda Karat married to Prakash Karat (CPI(M) - General Secretary) Prakash was part of debating club in Madras (Chennai). N.Ram, P.Chidambaram & Mythili Shivaraman were part of this group. This group started a magazine "Radical Review". CPI(M)'s senior member of Politbu