पोस्ट

फ़रवरी, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

राष्ट्रगान का सच ??

राष्ट्रगान का सच ??  - Nirupama Varma स्वजनों, हम स्वतन्त्र देश भारत के नागरिक हैं परन्तु आज भी परतंत्रता, गुलामी की मानसिकता से भरे हैं, तभी तो हम आज भी अपने राष्ट्रीय पर्वों पर ब्रिटिश शासन के गुणगान करने वाले गीत “जन गण मन” को बड़ी शान से गाते हैं ।   कुछ तत्थ्य आपके सामने रख रहा हूँ.........   भारतीय जनमानस ब्रिटिश शासन के खिलाफ था । देश की आजादी के लिये क्रांतिवीर कदम-कदम पर ब्रिटिश शासन को चुनौती दे रहे थे । ब्रिटिश शासन हिल चुका था, घबडा गया था । सन 1905 में बंगाल विभाजन को लेकर अंग्रेजो के खिलाफ बंग-भंग आन्दोलन में पूरे देश का जनामानस अंग्रेजों के विरोध में उठ खडा हुआ । उस वक्त तक भारत की राजधानी बंगाल का प्रसिद्ध नगर कलकत्ता थी । अंग्रेजों ने अपनी जान बचाने के लिए 1911 में कलकत्ता को राजधानी न रखकर दिल्ली को राजधानी घोषित कर दिया । पूरे भारत में उस समय लोग विद्रोह से भरे हुए थे । अंग्रेजो ने अपने इंग्लॅण्ड के राजा को भारत आमंत्रित किया ताकि भारत के लोगों का ध्यान बाटे और विद्रोह शांत हो जाये ।   इंग्लैंड में उस समय शासन कर रहे किंग जार्ज पंचम ने 1911 में भारत का दौरा किया ।

महाशिवरात्रि - रजनी भारद्वाज

इमेज
महाशिवरात्रि - रजनी भारद्वाज , जयपुर महाकाल शिव की आराधना का महापर्व है ---शिवरात्रि। प्रत्येक मास के कृष्णपक्ष की चतुर्दशी शिवरात्रि कहलाती है लेकिन फाल्गुन माह की कृष्ण चतुर्दशी महाशिवरात्रि कही गई है। इस दिन शिवोपासना भक्ति एवं मुक्ति दोनों देने वाली मानी गई है, क्योंकि इसी दिन अर्धरात्रि के समय भगवान शिव लिंगरूप में प्रकट हुए थे ईशान संहिता के अनुसार इस दिन ज्योतिर्लिग का प्रादुर्भाव हुआ जिससे शक्तिस्वरूपा पार्वती ने मानवी सृष्टि का मार्ग प्रशस्त किया। फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी को ही महाशिवरात्रि मनाने के पीछे कारण है कि इस दिन क्षीण चंद्रमा के माध्यम से पृथ्वी पर अलौकिक लयात्मक शक्तियां आती हैं जो जीवनीशक्ति में वृद्धि करती हैं। यद्यपि चतुर्दशी का चंद्रमा क्षीण रहता है, लेकिन शिवस्वरूप महामृत्युंजय दिव्यपुंज महाकाल आसुरी शक्तियों का नाश कर देते हैं। यह काल वसंत ऋतु के वैभव के प्रकाशन का काल है। ऋतु परिवर्तन के साथ मन भी उल्लास व उमंगों से भरा होता है। यही काल कामदेव के विकास का है और कामजनित भावनाओं पर अंकुश भगवद् आराधना से ही संभव हो सकता है। भगवान शिव तो स्वयं काम निहंता

नरेन्द्र मोदी : प्रधानमंत्री बनकर हर हफ्ते एक कानून हटाएंगे

इमेज
प्रधानमंत्री बनकर हर हफ्ते एक कानून हटाएंगे मोदी भाषा | Feb 27, 2014, नई दिल्ली बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि देश में कानून बहुत ज्यादा हैं और ऐसा लगता है कि सरकार व्यापारियों को चोर समझती है। उन्होंने व्यापारी समुदाय से कहा कि वे वैश्विक चुनौतियों से भागने की बजाय उनका सामना करें। साथ ही ऐसे अनावश्यक कानूनों को हटाने का वादा किया जो आभास देते हैं कि सभी चोर हैं। नरेंद्र मोदी ने व्यापारियों की इस चिंता को सही बताया कि देश में बहुत अधिक और बहुत पेचीदा कानून हैं। उन्होंने कहा, 'कानूनों का एक जाल है। आप हमें शक्ति दीजिए कि (सत्ता में आने पर) हम हर हफ्ते एक कानून को निरस्त कर सकें।' नरेंद्र मोदी ने शासन के तरीकों में बड़े बदलाव का पक्ष लेते हुए कहा कि दिल्ली से देश के मामलों को चलाने के चलन को बंद किया जाना चाहिए और राज्यों पर शासन चला सकने का भरोसा करना चाहिए। मोदी ने कहा, 'मैं नहीं जानता कि इसका मुझे राजनीतिक रूप से लाभ मिलेगा या नहीं लेकिन व्यापारी समुदाय को वैश्विक चुनौतियों से भागना नहीं चाहिए। उन्हें यह नहीं मानना चाहिए कि व्यापार

अमेरिका में हुआ सर्वे, बीजेपी के पक्ष में हैं 63 फीसदी भारतीय

इमेज
अमेरिका में हुआ सर्वे, BJP के पक्ष में हैं 63 फीसदी भारतीय भाषा [Edited By: अभिजीत श्रीवास्तव] | वाशिंगटन, 27 फरवरी 2014 अमेरिका में किए गए एक प्रमुख सर्वेक्षण में बताया गया है कि आगामी लोकसभा चुनाव में करीब 63 फीसदी भारतीय मतदाता विपक्षी दल बीजेपी के पक्ष में हैं जबकि 20 फीसदी से भी कम लोग सत्तारूढ़ कांग्रेस के पक्ष में हैं. पीईडब्ल्यू रिसर्च ने कहा है, भारतीय संसदीय चुनाव कुछ ही सप्ताह दूर बचे हैं. कांग्रेस के खिलाफ करीब 63 फीसदी वोटर हिंदू राष्ट्रवादी पार्टी बीजेपी को अगली सरकार को कमान थमाना चाहते हैं. हालांकि इस सर्वे में यह कहा गया है कि 63 फीसदी मतदाता बीजेपी के पक्ष में और 19 फीसदी कांग्रेस के पक्ष में हैं लेकिन दोनों पार्टियों को मिलने वाली सीटों के बारे में कुछ नहीं कहा गया है. लेकिन इसमें इतना जरूर कहा गया है कि प्रधानमंत्री पद के लिए बीजेपी के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी कांग्रेस के उम्मीदवार राहुल गांधी से कहीं अधिक लोकप्रिय हैं. यह सर्वे 7 दिसंबर 2013 से 12 जनवरी 2014 के बीच किया गया है और इसमें विभिन्न राज्यों में जाकर 2,464 वयस्क लोगों से आमने सामने साक्षात्कार किया गय

हिंदू हमारी राष्ट्रीयता की पहचान:सरसंघचालक परम पूज्य डा. मोहन भागवत

इमेज
हिंदू हमारी राष्ट्रीयता की पहचान: राष्ट्रीय स्वयंसेवक  संघ के सरसंघचालक परम पूज्य डा. मोहन राव भागवत                नई दिल्ली, 24 फरवरी. राष्ट्रीय स्वयंसेवक  संघ के सरसंघचालक डा. मोहन राव भागवत ने हिंदू शब्द को संकुचित मानने के लिये हिंदुओं को समान रूप से दोषी मानते हुए कहा है कि यह स्थिति आत्मविस्मृति के कारण पैदा हुई है. उन्होंने कहा कि हिंदुत्व हमारा राष्ट्र-तत्व और हिंदू हमारी राष्ट्रीयता की पहचान है. विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन में पूर्व राजनयिक ओपी गुप्ता की पुस्तक ‘डिफाइनिंग हिंदुत्व’  का विमोचन करने के बाद अपने उद्बोधन में परमपूज्य सरसंघचालक ने कहा कि वस्तुत: हिंदू शब्द अपरिभाष्य है, क्योंकि यह वह जीवन पद्धति है, जो परम सत्य के अन्वेषण के लिये सतत तपशील रहती है. इसकी विशेषता यह है कि यह सबको अपना मानता है. साथ ही, उन्होंने कहा कि शास्त्र विस्मरण के बाद हिंदू समाज रूढ़ि से चलने लगा, अतएव अब हिंदू शब्द के सर्वार्थ से समाज को परिचित कराना आवश्यक है. उन्होंने हिंदी के प्रसिद्ध साहित्यकार पं. हजारी प्रसाद व्दिवेदी को उद्धृत करते हुए कहा कि हिंदू शब्द यहीं से संसार के कोने-को

मोदी पीएम बने तो सेना की स्थिति में सुधार संभव - पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह

इमेज
यह सच हे कि एक राष्ट्रवादी सरकार जब अटलजी के नेतृत्व में बनी थी तो देश ने परमाणु बम की शक्ती प्राप्त की ! नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनाते ही सेना और सीमायें मजबूत होंगी ! ------------------------- मोदी पीएम बने तो सेना की स्थिति में सुधार संभव Mon, 24 Feb 2014 http://www.jagran.com भोपाल, नई दुनिया। पूर्व सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह का कहना है कि अगर गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बनते हैं तो सेना की स्थिति में सुधार संभव है। संप्रग सरकार सेना को उस प्रकार की तवज्जो नहीं दे रही है जैसी उसे देनी चाहिए। वे सोमवार को बरकतउल्ला विश्वविद्यालय में अपनी पीएचडी का वाइबा (मौखिक परीक्षा) देने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। वे प्रो. कैलाश त्यागी के गाइडेंस में सैन्य विज्ञान में 'जियोस्ट्रेटजी ऑफ वखान' विषय पर पीएचडी कर रहे हैं। वखान अफगानिस्तान का एक इलाका है जिस पर चीन और पाकिस्तान दोनों अपना अधिकार जताते हैं। वीके सिंह ने खुलकर तो किसी राजनीतिक पार्टी का समर्थन नहीं किया लेकिन इशारों-इशारों में मोदी को प्रधानमंत्री पद का सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवार बताते

चीन ने नरेंद्र मोदी के बयान को खारिज किया

इमेज
असल मे भारत का चीन के साथ  कोई सीमा ही नही मिलती है , भारत की सीमा पर तो तिब्बत हे नेपाल हे भूटान हे ! चीन ने अनधिकृत रूप से तिब्बत को हथिया लिया है । जिस सीमा को चीन अपनी बता रहा है वह उसकी कभी भी थी ही नही न वह आधिकारिक टूर से है । वह तो उसका विस्तारवाद है जो तिब्बत को निंगल कर प्राप्त किया है । =========== चीन ने नरेंद्र मोदी के बयान को खारिज किया पीटीआई | Feb 24, 2014 चीन ने नरेंद्र मोदी के 'विस्तारवादी मानसिकता' वाले बयान को खारिज कर दिया है। चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि उसने कभी किसी की एक इंच जमीन हड़पने के लिए भी हमला नहीं किया। बीजेपी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने अरुणाचल में अपनी रैली में चीन को चेतावनी देते हुए कहा था कि वह अपनी विस्तारवादी मानसिकता से बाज आए। मोदी ने कहा था कि अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न अंग है और चीन विस्तारवादी रवैये से दूर रहे। इसके जवाब में चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चिनयुंग ने कहा, 'आप चीन के विस्तारवाद की बात कर रहे हैं। आप देख सकते हैं कि चीन ने कभी किसी मुल्क की एक इंच जमीन हड़पने के लिए भी हमला

पगड़ी की इज्जत, मुझे बढ़ाना है - नरेंद्र मोदी

इमेज
लुधियाना के जगराव में रैली के लिए पहुंचे भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया। -------------------- चौकीदार बनकर पंजे से तिजोरी को बचाऊंगा: मोदी आईबीएन-7 | Feb 23, 2014 लुधियाना। बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी आज पंजाब के लुधियाना में रैली की। रैली के दौरान मोदी कांग्रेस पर जमकर बरसे। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस की पहचान बन गया है भष्टाचार। ये पार्टी सिर्फ एक आदमी की पार्टी रह गई है। खुद के प्रधानमंत्री बनने पर मोदी ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नहीं चौकीदार बनकर बैठूंगा और देश की तिजोरी पर पंजा नहीं पड़ने दूंगा। मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी की दोस्ती से कांग्रेस परेशान है। यहां उसकी बांटों और राज करो की नीति फल रही है। मोदी ने कहा, कि पूरी एबीसीडी, कांग्रेस के भ्रष्टाचार की पहचान बन गई है। ए से आदर्श घोटाला, बी से बोफोर्स घोटाला, सी से कोयला घोटाला। कांग्रेस के प्रधानमंत्री रहे राजीव गांधी ने कहा

नेता और जनता दोनों के मन में निस्वार्थ भाव से, देश का भाग्य बदल सकता है -प.पू. सरसंघचालक श्री मोहन जी भागवत

इमेज
भोपाल, दिनांक 23 फरवरी 2014 प.पू. सरसंघचालक श्री मोहन जी भागवत द्वारा मॉडल स्कूल भोपाल में दिए उद्बोधन के अंश - आज का समता व शारीरिक कार्यक्रम बहुत अच्छा हुआ | किन्तु यदि संतोष हो जाए तो उसका अर्थ होता है विकास पर विराम और अच्छा होने की क ोई सीमा रेखा नहीं होती | किसी व्यक्ति, संस्था अथवा देश की सफलता के लिए भी यही द्रष्टि आवश्यक है | नेता के अनुसार चलने वाले अनुयाई भी आवश्यक हैं | रणभूमि में ताना जी मौलसिरे की मृत्यु के बाद यदि अनुयाईयों में शौर्य नहीं होता तो क्या कोंडाना का युद्ध जीता जा सकता था ? नेता और जनता दोनों के मन में निस्वार्थ भाव से बिना किसी भेदभाव के देश को उठाने का भाव हो तो ही देश का भाग्य बदल सकता है | संघ ने शाखा के माध्यम से घर घर, गाँव गाँव में शुद्ध चरित्र वाले, सबको साथ लेकर चलने वाले निस्वार्थ लोग खड़े करने का कार्य हाथ में लिया है | समाज का चरित्र बदले तो ही देश का भाग्य बदलेगा | शारीरिक कार्यक्रम कोई शक्ति प्रदर्शन नहीं है, हिन्दू समाज को शक्ति संपन्न बनाने के लिए हैं | आवश्यक गुण संपदा इन्हीं कार्यक्रमों से प्राप्त होती है | राष्ट्र उन

भारत की आजादी का अश्वमेध - रामबहादुर राय

अंग्रेजों के तीसरे मोर्चे को नाकाम किया था पटेल ने - रामबहादुर राय अंग्रेज भारत को आजाद करने से पहले एक कुटिल नीति पर चल रहे थे। उनकी योजना थी कि आजाद करने से पहले भारत को तीन हिस्से में बांट दें। हिन्दुस्तान, पाकिस्तान और प्रिंसतान। रजवाड़े और रियासतों को वे प्रिंसतान बनाना चाहते थे।उस समय 565 ऐसे अलग-अलग देशभर में फैले रजवाड़े थे। उनका आकार विभि था। कोई तो यूरोप के देशों के बराबर थे। तो किसी का आकार पहाड़ी पर किसान की जो जोत होती है, उतना ही था। 1935 के भारत सरकार अधिनियम में इन रजवाड़ों को सीधे वायसराय के अधीन कर दिया गया था। उन राजे-महाराजों को ब्रिटिश सम्राज्य के प्रतिनिधि की उपाधि दी गई थी। उनके मामले को देखने के लिये वायसराय के अधीन एक राजनीतिक विभाग बनाया गया था। उन्हें संवैधानिक संरक्षण प्राप्त था। अनेक रियासतों की अपनी फौज थी, जिन्हें ब्रिटिश सेना ने प्रशिक्षित कर रखा था। असंभव को संभव ये रियासतें भारत को विखंडित करने के खतरों से भरी हुई थी। उन्हें अंग्रेजों का संरक्षण प्राप्त था। इस कारण आजाद भारत में पहले दिन से ही गृह युद्ध का खतरा मंडरा रहा था। उसे देख-समझ कर,परवाह न

कम्बोदिया में भी हैं शंकराचार्य

इमेज
कौंडिन्य ने बसाया था कम्बोदिया को कम्बोदिया में भी हैं शंकराचार्य - पाथेयकण से https://www.facebook.com/pages/Patheykan भारत में आदि शंकराचार्य ने भारत के चारों कोनों में मठ स्थापित कर उनमें अपने प्रतिनिधि नियुक्त किये थे। उनके अतिरिक्त कांची मठ के पूज्य शंकराचार्य भी हिन्दू समाज के सर्वाधिक प्रतिष्ठित धर्माचार्यों में से हैं। भारत ही की तरह कम्बोदिया में भी शंकराचार्य हैं और उनका भी पूरे देश में वही सम्मान और प्रतिष्ठा है, जो भारत में पूज्य शंकराचार्यों का है। गत दिनों कम्बोदिया और थाईलैण्ड की यात्रा पर गये वनवासी कल्याण आश्रम के प्रतिनिधिमण्डल में शामिल मेजर एस.एन.माथुर ने उक्त जानकारी दी। मेजर माथुर कल्याण आश्रम के विदेश विभाग के प्रभारी हैं। उन्होंने बताया कि कम्बोदिया में शंकराचार्य को "शंकराज' कहा जाता है और उनकी भारत-भूमि का दर्शन करने की बड़ी तीव्र इच्छा है। उनका शिष्य समुदाय भी हैजिसकी शिक्षा संस्कृत में हुई है। देश के सभी राज्याधिकारी उनका सम्मान करते हैं तथा उनसे परामर्श लेते हैं। कम्बोदिया में सैकड़ों मन्दिर हैं। विश्व का सबसे बड़ा मन्दिर अंगकोरवाट भी इसी द

'मोदी मैजिक' से एनडीए को 10 सीटों का फायदा एक महीने में ही ,,,,

इमेज
जैसे - जैसे लोकसभा के चुनाव पास आयेंगे , बीजेपी की सीटों में निरंतर बढ़ोतरी होती जाएंगी , चुनाव के बाद परिणाम आश्चर्यजनक होंगे ३०० पल्स का आंकड़ा पार होगा ! एक महीने में ही 'मोदी मैजिक' से एनडीए को 10 सीटों के फायदा का  मोदी तोड़ेंगे अटल का रिकॉर्ड, ममता की टीएमसी होगी तीसरे नंबर पर agency | Feb 22, 2014, http://www.bhaskar.com/article नई दिल्ली. आगामी लोकसभा चुनावों के परिणाम में नरेंद्र मोदी का जलवा साफ नजर आएगा। मोदी बीजेपी को बहुमत तो नहीं दिला पाएगे लेकिन वह अटल बिहारी वाजपेयी का रिकॉर्ड तोड़ देंगे। बीजेपी अकेले 217 सीटें जीतेगी जबकि वाजपेयी के नेतृत्व में पार्टी को 186 सीटें मिली थीं। ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस 29 सीटों के साथ सपा और बसपा को पछाड़ते हुए तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी। तेलंगाना बिल को भी कांग्रेस को फायदा होता हुआ नहीं दिख रहा है और आंध्र प्रदेश की वाईएसआर कांग्रेस पार्टी को  22 सीटे मिल सकती हैं। एबीपी-नील्सन के चुनाव पूर्व सर्वे में यह बात सामने आई है। एनडीए को मिलेगी  236 सीटें सर्वे के मुताबिक, बीजेपी अकेले 217 सीटें जीत सकती है, ज

भाजपा को मिलेगी ऐतिहासिक सफलता : आडवाणी

इमेज
------------------- लोकसभा चुनाव में भाजपा को मिलेगी ऐतिहासिक सफलता : आडवाणी  February 22, 2014 http://www.newsview.in/national/14664 नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को पक्का भरोसा है कि इस वर्ष अप्रैल/मई में होने जा रहे आम चुनावों में उनकी पार्टी को अपार सफलता मिलने जा रही है। उनका कहना है कि चुनावों के बाद त्रिशंकु संसद बनने का सवाल ही नहीं उठता। बकौल आडवाणी, ‘भाजपा लोकसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरेगी। वह अब तक के अपने इतिहास में सर्वाधिक सीटें जीतेगी।’ उन्होंने कहा कि चुनावों में कांग्रेस की दुर्गति होने जा रही है। देश पर सर्वाधिक समय तक राज करने वाली पार्टी सबसे कम सीटें पाने जा रही है। आडवाणी शनिवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उनके अनुसार, ‘मौजूदा समय में भाजपा को अपार समर्थन मिल रहा है। ऐसा माहौल मैंने कभी नहीं देखा। इस बार पार्टी रिकार्ड बनाएगी। भाजपा अपने इतिहास में सर्वाधिक सीटें हासिल करने जा रही है।’ भ्रष्टाचार और कुशासन के लिए उन्होंने कांग्रेस की जमकर आलोचना की। आडवाणी का कहना था, ‘आजादी के बाद से देश पर सबसे ज्यादा समय तक राज करने वाली

अगर हिंदुओं पर जुल्म होगा तो वो आखिर कहां जाएगा :नरेंद्र मोदी

इमेज
अगर हिंदुओं पर जुल्म होगा तो वो आखिर कहां जाएगा: मोदी ibnkhabar.com | Feb 22, 2014 नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी अपने मिशन के तहत उत्तर पूर्व के दौरे पर ताबड़तोड़ रैलियां कीं। नरेंद्र मोदी ने सबसे पहले अरुणाचल में रैली को संबोधित किया और फिर असम के सिलचर पहुंचे। अरुणाचल में मोदी ने विकास के मुद्दे को ही तरजीह दी, लेकिन सिलचर में केंद्र सरकार और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस के अंतकाल का आरंभ हो गया है। चुनाव बाद कांग्रेस मुक्त भारत की शुरुआत होगी। कांग्रेस किसी कोने में नजर नहीं आगही। मोदी ने कहा कि वोटबैंक की राजनीति में डूबी असम की सरकार ने डिटेंशन कैंप के नाम पर मानवाधिकारों का हनन किया। यहां कांग्रेस ने साजिश के तहत लोगों पर डी-वोटर का ठप्पा लगाया है। चुनाव आयोग इन्हें वोट का अधिकार दे। मोदी ने भीड़ से पूछा बांग्लादेश से जो घुसपैठिए आए हैं, उन्हें बार भेजना चाहिए या नहीं। बांग्लादेश से दो तरह के लोग आए हैं। एक तरह लोग राजनीतिक साजिश के तहत आए हैं। दूसरे ऐसे लोग हैं जिनक

चीन के विरोध के बावजूद दलाई लामा से मिले, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा

इमेज
चीन न जानें क्यों भूल जाता है कि तिब्बत एक स्वतंत्र राष्ट्र है, सदियों से यह देश स्वतंत्र था और ब्रिटिश शासन में भी यह स्वतंत्र था, कुछ शर्तों के अन्तगर्त । भारत के पंडित जबाहरलाल नेहरू के चीन प्रेम के कारण तिब्बत चीन के सिकंजे में फंस गया । चीन ने उस पर नाजायज कब्जा कर लिया है। तिब्बतियों के सर्वोच्च धर्म गुरु दलाई लामा वहां की निर्वासित सरकार के सर्वेसर्वा थे। भारत सरकार ने उन्हे सही सम्मान दे रखा है। अमरीका ने भी सही सममान दिया है। चीन को अपनी भूभाग हडपनीति छोडनी चाहिये। ------------------------------- चीन के विरोध के बावजूद दलाई लामा से मिले ओबामा 22-02-2014 http://hindi.cri.cn/1153/2014/02/22/1s148599.htm चीन के जबरदस्त विरोध की अनदेखी करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 21 फरवरी को ह्वाइट हाउस में दलाई लामा से मुलाकात की। राष्ट्रपति बनने के बाद ओबामा ने तीसरी बार दलाई लामा से भेंट की। वहीं चीनी उप विदेश मंत्री चांग येश्वे ने चीन स्थित अमेरिकी दूतावास के कार्यवाहक राजदूत डैनियल क्रिटेंब्रिंक को बुलाकर गंभीर रूप से मामला उठाते हुए कहा कि अमेरिका के इस कदम से चीन

चीन को छोड़नी होगी विस्तारवादी नीति : नरेंद्र मोदी

इमेज
------------ क्या देश में है कोई दूसरा दबंग राजनेता जो चीन से इस सीधी भाषा में बात कर सके। ------------ चीन को छोड़नी होगी विस्तारवादी नीति : नरेंद्र मोदी ज़ी मीडिया ब्यूरो February 22, 2014, पासीघाट (अरुणाचल प्रदेश) : भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि इस बार देश में विकास का सूर्योदय अरुणाचल प्रदेश से होगा। मोदी ने कहा कि गुजरात का अरुणाचल प्रदेश से गहरा रिश्ता है। अपने भाषण के दौरान मोदी ने नीडो तानिया की मौत का भी जिक्र किया। अरुणाचल के पासीघाट में हुई रैली को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी ने कहा कि विकास ही पूर्वोत्तर की समस्याओं का समाधान है। मोदी ने कहा, 'पूर्वोत्तर के 8 राज्यों में इस बार कमल जरूर खिलेगा। मोदी ने कहा कि अरुणाचल वीरों की भूमि है। यहां के लोग अकेले दम पर चीन की दादागिरी का डजटकर मुकाबला करते हैं और शान से जयहिंद बोलते हैं। ' अरुणाचल प्रदेश में नरेन्द्र मोदी इससे पहले विजय संकल्प रैली को संबोधित कर चुके हैं। आज तय कार्यक्रम के अनुसार मोदी सबसे पहले अरुणाचल प्रदेश में पूर्वी सियांग के जिला मुख्यालय पासीघाट पहुंचे। वि

मायावती , सीबीआई , मोदी : वाह राजनीती

अंतरिम बजट पर कांग्रेस की आलोचना  करने  वाली मायावती पर , कांग्रेस ने फिर से सीबीआई का इस्तेमाल अपने हित साधने के लिये किया है, सीबीआई का नाम सुनते ही अकूत दौलत बटोरने वाली मायावती थर - थर कांपने लगती हें । उन्होने कांग्रेस को खुश करने के लिये तुरंत नरेन्द्र मोदी पर हमला बोल दिया है। क्यों कि बे जानती हैं कि उनके पास अकूत दौलत  राजनीती से ही आई है ----! ------------------------- मायावती ने अंतरिम बजट को जमकर कोसा Monday, February 17, 2014 नई दिल्ली : संप्रग सरकार के अंतिम बजट को खारिज करते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि इसमें कुछ भी नया नहीं है और केवल संप्रग सरकार की पिछली 10 वर्ष की उपलब्धियों को गिनाने का काम किया गया है। मायावती ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने (चिदंबरम) हालांकि इसे चुनावी बजट बनाने का प्रयास किया लेकिन इससे उनको कोई फायदा होने वाला नहीं है। -------------- मायावती घिरीं: मनरेगा घपलों की होगी सीबीआई जांच  20/02/2014  नई दिल्ली। आम चुनाव से पहले बसपा के लिए नयी परेशानी ख़डी करते हुए सीबीआई उत्तर प्रदेश के सात जिलों में मायावती के श

कांग्रेस के हमले, देश सेवा से नहीं रोकते : नरेंद्र मोदी

इमेज
कांग्रेस के हमले मुझे देश सेवा से नहीं रोकते: मोदी अहमदाबाद, एजेंसी प्रधानमंत्री पद के भाजपा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी के नेता कीचड़ उछाल सकते हैं और उनके पीछे सीबीआई को लगा देते हैं लेकिन इससे उन्हें देश की सेवा करने से नहीं रोका जा सकता। युवाओं तक पहुंच बनाने के लिए भावनात्मक लहजे में गुजरात के मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने किसी पद या प्रसिद्धि के लिए अपना घर नहीं छोड़ा था। शहर में एक विशाल युवा रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि अगर मैं सच बोलता हूं तो संप्रग सरकार के सभी मंत्री नाखुश हो जाते हैं, उन्हें बुरा लगता है और उदास हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि इसकी एक वजह है। पिछले 60 साल से किसी ने उन्हें चुनौती नहीं दी है। उन्हें लग रहा है कि एक चाय बेचने वाला इतनी बड़ी सल्तनत को चुनौती कैसे दे सकता है जिसने लगातार कई साल तक निर्बाध देश में शासन किया। मोदी ने कहा कि कांग्रेस उन पर निशाना साधने के अवसर तलाशती रहती है। उन्होंने कहा कि मैं हर जन्म में देश की सेवा करने के लिए यहां आया हूं। अगर इस जन्म में मुझे यह अवसर नहीं मिला तो मैं अ

जहां की संस्कृति में है आशावाद - वी मिशेल {अमरीका }

इमेज
भारत पर एक अमेरिकी का लेख हुआ इंटरनेट पर वायरल आज तक वेब ब्यूरो [Edited By: कुलदीप मिश्र] | नई दिल्ली, 19 फरवरी 2014 http://aajtak.intoday.in/story/this-is-india-a-positive-comment-by-an-american-goes-viral-on---internet-1-755265.html 2009 में जब भारत में चुनाव होने वाले थे, न्यूयॉर्क टाइम्स की पत्रकार सोमिनी सेनगुप्ता ने एक लेख लिखा था. शीर्षक था, 'एज इलेक्शन्स नियर, टाइटरोप अवेट्स इन इंडिया'. इस पर न्यूयॉर्क के वी मिशेल ने एक कमेंट किया था. इस बात को 5 साल बीत चुके हैं, लेकिन हाल ही में यह कमेंट इंटरनेट पर वायरल हो गया. हम इस टिप्पणी का अनुवाद आपके लिए यहां रख रहे हैं. चूंकि यह पुरानी टिप्पमी है, इसलिए इसमें कुछ संदर्भ और आंकड़े पुराने हो सकते हैं. 'यह सच में दुनिया का सबसे बड़ा शो है. लोकतांत्रिक और विविधता की अनूठी मिसाल. जहां 70 करोड़ से ज्यादा लोग वोट करते हैं और इस तरह इस प्राचीन सभ्यता को भविष्य की ओर ले जाने में अपनी छोटी भूमिका अदा करते हैं. पाकिस्तान, चीन और बर्मा (म्यांमार) जैसे अस्थिर और हिंसक पड़ोसियों के होते हुए यह कम प्रभावशाली नहीं है. इसकी चुनौतियां

नरेंद्र मोदी विरोधी प्रस्ताव से, अमेरिकी सांसद ने हाथ खींचे

इमेज
नरेंद्र मोदी विरोधी प्रस्ताव से अमेरिकी सांसद ने हाथ खींचा Bhasha, फ़रवरी 19, 2014 http://khabar.ndtv.com/news/world/us-parliamentarian-withdrew-support-to-anti-narendra-modi-proposal-381097 वाशिंगटन: भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को वीजा जारी नहीं करने की नीति को बरकरार रखने की मांग को लेकर अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों द्वारा लाए जा रहे नए प्रस्ताव का समर्थन कर रहे एक सांसद ने इससे खुद को अलग कर लिया है। इससे पहले भी एक सांसद प्रस्ताव से दूर हुआ था। हिंदू अमेरिकी फांउडेशन (एचएएफ) के अनुसार पेंसिलवेनिया से रिपब्लिकन सांसद स्कॉट पेरी ने प्रतिनिधि सभा के प्रस्ताव 417 से अपना सह प्रायोजन वापस ले लिया है। अब तक इस प्रस्ताव पर 42 सांसदों ने हस्ताक्षर किए हैं।इस प्रस्ताव से हाथ खींचने वाले दोनों सांसद पेरी और स्टीव कैबट प्रतिनिधि सभा विदेश मामलों की समिति के सदस्य भी हैं। ऐसे उनके फैसले की खासी अहमियत है। कैबट कई सप्ताह पहले ही इस प्रस्ताव से अलग हुए थे, वहीं पेरी ने पिछले सप्ताह भारत में अमेरिकी राजदूत नैंसी पावेल की मोदी के साथ हुई मुलाकात के बाद फैसला किया। एचए

केजरीवाल ने मेरी चिट्ठी का जवाब नहीं दिया : अन्‍ना

इमेज
अरविंद केजरीवाल ने मेरी चिट्ठी का जवाब नहीं दिया : अन्‍ना http://aajtak.intoday.in/story/anna-hazare आज तक वेब ब्‍यूरो [Edited By: सौरभ द्विवेदी] | नई दिल्‍ली, 19 फरवरी 2014 अरविंद केजरीवाल के राजनीतिक गुरु अन्‍ना हजारे ने आखिरकार आम आदमी को बड़ा झटका दे दिया. अन्‍ना ने बुधवार को ममता बनर्जी के साथ एक साझा प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में ममता को राजनीतिक समर्थन की घोषणा कर दी. हालांकि उन्‍होंने यह भी स्‍पष्‍ट किया कि उनका समर्थन किसी पार्टी को नहीं बल्कि ममता के विचारों को है, वहीं सीपीएम ने इसे महज एक तमाशा बताया है. नई दिल्‍ली में समर्थन की घोषणा करते हुए अन्‍ना ने कहा, 'मैंने 17 मांगों की चिट्ठी हर पार्टी को भेजी थी. अरविंद केजरीवाल ने मेरी चिट्ठी का जवाब नहीं दिया. ममता ने दिया. मैं जो दीदी को सपोर्ट किया. वो व्यक्ति या पार्टी समझकर नहीं किया है. समाज और देश के प्रति जो उनके विचार हैं, उस विचार को मैं सपोर्ट कर रहा हूं.' ममता सच नहीं झूठ का प्रतीक दूसरी ओर अन्‍ना के समर्थन को सीपीएम की सांसद ऋताब्रत बनर्जी ने महज तमाशा करार दिया है. उन्‍होंने कहा, 'मुझे इस पर कोई टिप्‍पणी नह

वोट ठगने के लालसा से तेलंगाना निर्माण गलत.....

इमेज
वोट ठगने के लालसा से तेलंगाना निर्माण गलत..... हमारे देश में बडे राज्यों से कहीं बेहतर जन सेवा छोटे राज्यों ने साबित की है। उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र बडे राज्य हैं, यहां असमानता और अव्यवस्था चरम पर है। जेलंगाना का विरोध अनुचित है। कांग्रेस ने इस पर सियात की है, इस कारण मामला और ज्यादा गडबडा गया । छोटे प्रदेश जनेसवा की आवश्यकता है। इसे वोट ठगने के लालच से नहीं किया जाना चाहिये था। ----------- तेलंगाना बिल लोकसभा में पास प्रकाशित Wed, फ़रवरी 19, 2014 पर 09:02  |  स्रोत : CNBC-Awaaz http://hindi.moneycontrol.com/mccode/news/article.php?id=95813 वॉकऑउट और ब्लैकआउट के बीच आखिरकार मंगलवार को लोकसभा से तेलंगाना बिल पास हो गया लेकिन लोकसभा टीवी का प्रसारण रुकवाने और बिल पास करने के तरीके पर सियासी बवाल खड़ा हो गया है। लोकसभा की मंजूरी के बाद आंध्र प्रदेश का बंटवारा हो जाएगा। तेलंगाना को आंध्र प्रदेश से अलग एक राज्य का दर्जा देने वाला बिलआज राज्यसभा में पेश हो सकता है। सरकार ने बीजेपी को बिल पास करने के लिए आखिरी वक्त में मना लिया। दरअसल सरकार ने बीजेपी की सीमांध्र के लिए विशेष पैकेज की म

नकली गांधी चला रहे हैं कांग्रेस - नरेंद्र मोदी

इमेज
मोदी ने कहा-नकली गांधी चला रहे हैं कांग्रेस एबीपी न्यूज/एजेंसी / मंगलवार, १८ फ़रवरी २०१४ दावंगेरे. नरेंद्र मोदी आज कर्नाटक के दावणगेरे में हुई रैली के दौरान कांग्रेस पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए जमकर बरसे. लेकिन बीजेपी के इसी मंच पर भ्रष्टाचार के आरोपी बी एस येदुरप्पा मोदी के कंधे से कंधा मिलाकर खड़े थे. मोदी और येदुरप्पा का ये साथ विरोधियों को जवाबी हमले का बड़ा मौका दे सकता है. मोदी के साथ खड़े ये वही येदुरप्पा हैं जिन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं. यहां तक कि भ्रष्टाचार के आरोपों की वजह  से इन्हें कर्नाटक के सीएम की कुर्सी गंवानी पड़ी और बीजेपी का साथ भी. येदुरप्पा के जाने के बाद बीजेपी कर्नाटक में बुरी तरह हारी औऱ अब जीत के जुगाड़ में इन्हें बीजेपी ने फिर अपने साथ खड़ा कर लिया. मोदी ने अपने भाषण में येदुरप्पा की जमकर तारीफ भी की. गुजरात के मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस पर एक परिवार का नियंत्रण है और पार्टी में कोई लोकतंत्र नहीं है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की दो दिवसीय गु

केजरीवाल को केवल सत्ता की फिक्र : अन्ना हजारे

इमेज
------ केजरीवाल को केवल सत्ता की फिक्र : अन्ना  हजारे  17 Feb 2014 http://www.prabhatkhabar.com/news/90609-Anna--Kejriwal-country-and-society-concerned-about-power.html         नयी दिल्ली:अन्ना हजारे ने दिल्ली के पूर्व मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि अब उन्हें देश और समाज की चिंता नहीं है. उन्हें केवल अब सत्ता की फ्रिक्र है. वे जनलोकपाल को लेकर गंभीर नहीं हैं. यदि ऐसा रहता तो जनलोकपाल पर वे भाजपा और कांग्रेस से बात कर सकते थे. लेकिन ऐसा उन्होंने करना उचित नहीं समझा. उन्हें केवल सत्ता प्राप्त करने की फिक्र है. अन्ना हजारे ने कहा कि केजरीवाल ने जनता के सामने सबूत रखना चाहिए, जनता को जानकारी देने चाहिए कि कोई नेता भ्रष्टाचारी क्यों है. आम आदमी पार्टी द्वारा जारी की गई भ्रष्ट अधिकारियों की लिस्ट पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में अन्ना ने यह कहा. अन्ना ने कहा कि आप पार्टी द्वारा जारी लिस्ट से सहमत नहीं है. उन्होंने कहा कि हवा में आरोप लगाने से कुछ होने वाला नहीं है. वहीं, हाल ही में आप पार्टी द्वारा अन्ना हजारे से आशीर्वाद मिलने की बात पर अन्ना

सोनिया से अपमानित होते थे पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव?

इमेज
**सोच समझी चाल** लोकसभा चुनाव के ठीक पूर्व यह छपवाया जाना कि राजीव गांधी की हत्या की जांच के प्रति  असंतुष्टता से तत्कालीन प्रधान मंत्री नरसिंह राव को सोनिया  गांधी ने डांटा था । यह बात गले उतरती नही है । क्यों की इस हत्याकांड में सब कुछ साफ़ तो था , मगर जो छुपा था वह सामने आता तो बहुत गड़बड़ होती। हत्याकांड की जांच में कुछ खोजना होता तो अभी भी दस साल से सरकार सोनिया गांधी के हाथा में ही है । यह सही है कि राव से सोनिया जी नाराज थीं , उन कारणों की पड़ताल बहुत दूर तक जायेगी । अभी तो यह विषय मात्र चुनावी दौर में वोटो का लाभ उठाने के लिए बहार निकला गया है । सोनिया जी ने उस समय करुणा निधि की पार्टी को भी दोषी मानता और फिर उसके साथ सरकार भी बनाई ? ये खबर बहार निकल बाना एक सोच समझी चाल  है ! ============ सोनिया से अपमानित होते थे पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव? एजेंसियां | Feb 16, 2014 नई दिल्ली क्या पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के हाथों अपमानित होते थे? पिछले दिनों पूर्व केंद्रीय मंत्री नटवर सिंह के एक अखबार में लिखे लेख में किए गए इस दावे के

मनमोहन ने सबसे भ्रष्ट सरकार का नेतृत्व किया: आडवाणी

इमेज
 बिना लोक सभा चुनाव जीते, दो बार प्रधान मंत्री बनाने की यह क़ाबलियत है। ------------ मनमोहन ने सबसे भ्रष्ट सरकार का नेतृत्व किया: आडवाणी नवभारत टाइम्स | Feb 16, 2014, http://navbharattimes.indiatimes.com/articleshow/30527131.cms नई दिल्ली बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी ने रविवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर करारा हमला बोला। ब्लॉग में आडवाणी ने लिखा कि मनमोहन सिंह का एक दशक का कार्यकाल खत्म होने को है और उन्होंने स्वतंत्र भारत की सबसे भ्रष्ट सरकार का नेतृत्व किया। आडवाणी ने लिखा, मनमोहन ने अपने कार्यकाल की शुरुआत साफ निजी छवि के साथ की। लेकिन अब जब उनका एक दशक लंबा कार्यकाल खत्म होने के करीब है, वह अपने पीछे स्वतंत्र भारत की सबसे भ्रष्ट सरकार का नेतृत्व करने का रेकॉर्ड छोड़ जाएंगे। आडवाणी ने यूपीए सरकार पर आरोप लगाया कि उसने संसद की गरिमा को सबसे निचले स्तर पर पहुंचा दिया है। बीजेपी नेता ने इसके लिए लोकसभा में 13 फरवरी को घटी उस घटना का जिक्र किया जिसमे तेलंगाना के विरोध में एक सांसद ने लोकसभा में मिर्च स्प्रे कर दिया था। इस वाकये को कैश फॉर वोट से जोड़ते हुए आडवाणी ने लिखा कि मिर