पोस्ट

सितंबर, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

SUICIDE BOMB : देश के खिलाफ

धर्मनिरपेक्षता को SUICIDE BOMB की तरह देश के खिलाफ सोनिया के सामंत उपयोग करेंगे इसकी कल्पना भी देश के लोगो ने नहीं की थी। आज गृह मंत्रालय ने जो सरकुलर जारी किया है जिसमे पुलिस को हिदायत दी गयी है कि मुसलमानों को दंगा के बाद या उसकी सम्भावना को देखकर गिरफ्तार तबतक नहीं किया जाए जबतक फुल प्रूफ प्रमाण नहीं हो। तो क्या किसी इसाई , सिख, बौद्ध, पारसी, जैन, वनवासी, दलित को पुलिस बेवजह गिरफ्तार कर सकती है? मै पुनः एक प्रसंग को दुहरा रहा हूँ .१९४७ के दिसंबर में अजमेर में ८०० दंगइयो को गिरफ्तार किया गया था तो नेहरु ने आपत्ति जताते हुए कहा था कि संतुलन बनाने के लिए हिन्दुओ को भी गिरफ्तार करना चाहिए। पटेल ने इसे नकार दिया था। आज सरकार के गृह मंत्री तो संतरी है. वे कैसे नकार सकते हैं? यह सरकुलर DAY LIGHT MURDER OF SECULARISM है। राज्य शांतिकाल के दंगइयो के सरंक्षण , संबल दे रही है।

केन्द्रीय गृहमंत्री का साम्प्रदायिक सोच उजागर

इमेज
केन्द्रीय गृहमंत्री का साम्प्रदायिक सोच उजागर कांग्रेस के नेतृत्व में केन्द्र सरकार का कितना भारी पतन हुआ है इसका उदाहरण यह समाचार है। कोई भी गृहमंत्री किसी धर्म, सम्प्रदाय,पंथ या जाती को लेकर कोई आदेश नहीं दे सकता । संविधान भी यही कहता है। मगर ये केन्द्रीय गृहमंत्री का आदेश है कि मुस्लिम युवकों को अवैध  हिरासत में मत रखो मतलब कि अन्ययुवकों को पुलिस अवैध हिरासत में रख सकती है। ...... मुस्लिम युवकों को गलत तरीके से न रखें हिरासत मेंर - शिंदे भाषा| 30,sep,2013, http://navbharattimes.indiatimes.com/articleshow/23301712.cms?google_editors_picks=true&google_editors_picks=true नई दिल्ली।। केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने सोमवार को सभी मुख्यमंत्रियों से यह तय करने को कहा कि कोई भी बेकसूर मुस्लिम युवक आतंक के नाम पर गलत तरीके से हिरासत में न लिया जाए। मुख्यमंत्रियों को लिखी एक चिट्ठी में शिंदे ने कहा है कि कानून से जुड़ी एजेंसियों द्वारा बेकसूर मुस्लिम युवाओं को कथित तौर पर प्रताड़ित किए जाने के बारे में केंद्र सरकार को विभिन्न प्रतिनिधित्वों के जरिए बताया जा रहा है। उन्होंने

चारा घोटाला: जानिए कब - कब, क्या हुआ

इमेज
टीम डिजिटल,सोमवार, 30 सितंबर 2013 पटना, अमर उजाला http://www.amarujala.com/news/states/bihar/fodder-scam-decision-today/ बिहार के बहुचर्चित चारा घोटाले के सबसे बड़े मामले आरसी 20 ए/96 पर सीबीआइ की विशेष अदालत ने लालू यादव समेत 45 लोगों को दोषी ठहरा दिया है। प्राथमिकी दर्ज होने के करीब 17 साल बाद इस मामले में फैसला सुनाया गया है। संयुक्त बिहार का चारा घोटाला एक ऐसा मामला है, जिसमें छह राजनीतिज्ञ, चार आइएएस अधिकारी, एक आइआरएस अधिकारी, आठ पशुपालन व एक ट्रेजरी अफसर और 25 सप्लायरों ने न्यायिक प्रक्रिया का सामना किया है। इस मामले में राजद प्रमुख लालू प्रसाद, जगन्नाथ मिश्र सहित कुल 56 आरोपी बनाए गे थे। संयुक्त बिहार में पशुपालन विभाग में हुए करोड़ों रुपये के चारा घोटाला मामले में आरोपी लालू प्रसाद, जगन्नाथ मिश्र बिहार के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। सुनवाई के दौरान सात आरोपियों की मौत हो गई, दो वायदा माफ गवाह बन गए और एक ने आरोप स्वीकार कर लिया। वहीं एक को आरोप मुक्त करार दिया गया। सभी पर झारखंड के चाइबासा जिले के कोषागार से 37.70 करोड़ रुपये की फर्जी निकासी करने का आरोप है। इस घोटाले में आर

चारा घोटाले में लालू दोषी, जेल भेजा , राजनैतिक फायदा नितिश को .......

इमेज
चारा घोटाले में लालू दोषी करार, बिरसा मुंडा जेल भेजा गया आईबीएन-7 | Sep 30, 2013 http://khabar.ibnlive.in.com/news/108987/12 नई दिल्ली। रांची की सीबीआई कोर्ट ने चारा घोटाले में राष्ट्रीय जनता दल अध्यक्ष लालू यादव को दोषी करार दिया है। इसके साथ ही कोर्ट ने 44 और आरोपियों को भी दोषी करार दिया है। इस फैसले के तुरंत बाद लालू को हिरासत में ले लिया गया है। लालू सहित 38 दोषियों की सजा पर फैसला 3 अक्टूबर को होगी। सात दोषियों को तीन-तीन साल की सजा सुनाई गई है। लालू यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने कहा है कि फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी जाएगी। वहीं कोर्ट के फैसले के बाद लालू को बिरसा मुंडा जेल ले जाया गया है। कोर्ट में 7 आरोपियों के वकील को कहा गया कि इनकी सजा पर बहस आज ही शुरू की जाए। इसमें दो नेता विद्यासागर निषाद, ध्रुव भगत और के अमुगम (आईएएस अफसर) और चार सप्लाइर हैं। कोर्ट ने इन्हें तीन-तीन साल की सजा सुनाई। बाकी 38 दोषियों में लालू यादव, जगन्नाथ मिश्रा, जगदीश शर्मा शामिल हैं। इन्हें तीन अक्टूबर को सजा सुनाई जाएगी वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए। इससे साफ है कि इन्हें तीन साल से ज्यादा की

मेरा धर्म ‘नेशन फर्स्ट इंडिया फर्स्ट’ है-नरेंद्र मोदी

इमेज
देश को कांग्रेस की ‘डर्टी टीम’ नहीं, भाजपा की ‘ड्रीम टीम’ चाहिए : मोदी http://zeenews.india.com/hindi/news Sunday, September 29, 2013 ज़ी न्यूज ब्यूरो/एजेंसी नई दिल्ली : उत्तरी दिल्ली के रोहिणी स्थित जापानी पार्क में भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने आज एक ऐतिहासिक रैली को संबोधित किया। मोदी समेत रैली को कई भाजपा नेताओं ने भी संबोधित किया। राहुल गांधी पर दागी सांसदों से जुड़े अध्यादेश को सार्वजनिक रूप से खारिज करके प्रधानमंत्री के अपमान का पाप करने का आरोप लगाते हुए नरेन्द्र मोदी ने कहा कि 2014 के आम चुनाव में कांग्रेस नीत संप्रग की ‘डर्टी टीम’ को केन्द्र सरकार से उखाड़ फेंकने और भाजपा की ‘ड्रीम टीम’ को लाने का आह्वान किया। कांग्रेस नीत संप्रग सरकार को सभी मोर्चे पर विफल रहने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि देश आज सरकारों के बोझ तले दब गया है, जिसके कारण देश का सम्पूर्ण विकास और आर्थिक वृद्धि प्रभावित हो रही है। गठबंधन की सरकार चल रही है लेकिन गठबंधन के दल अलग-अलग दिशा में चल रहे हैं। भ्रष्टाचार का बोलबाला है और इसकी व्यापकता के कारण देश के भविष्य के समक्ष संक

नवाज शरीफ ने कैसे की हमारे पीएम की 'बेइज्जती'- नरेंद्र मोदी

इमेज
  नरेंद्र मोदी गरजे, नवाज शरीफ ने कैसे की हमारे पीएम की 'बेइज्जती' NDTVIndia, Last Updated: सितम्बर 29, 2013 http://khabar.ndtv.com/news/show/delhi-rally-modi-says-how-dare-pak-pm-nawaz-sharif-insult-our-pm-40273 नई दिल्ली: दिल्ली में चुनावों से पहले भारतीय जनता पार्टी की रैली को संबोधित करते हुए के पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने कहा कि दिल्ली एक ऐसा प्रदेश है, जो सरकारों के बोझ के नीचे दब गया है। मोदी ने कहा कि दिल्ली में कई सरकारें हैं। मां की सरकार, बेटे की सरकार और दामाद की सरकार और इससे भी आगे गठबंधन की सरकार और गठबंधन में अपने दल...। दिल्ली का हाल यह है कि एक के सामने एक सरकार खड़ी है। उन्होंने कहा कि पीएम सरदार हैं, पर असरदार नहीं है। मोदी ने कहा कि गठबंधन की सरकार बनती है, अंकगणित के हिसाब से, लेकिन गठबंधन की सरकारें चलती हैं, कैमिस्ट्री के हिसाब से, लेकिन जिनकी कैमिस्ट्री नहीं मिलती, ऐसी सरकारें लोगों का भला नहीं कर पातीं। मोदी ने रैली में जुटी जनता को कहा कि दिल्लीवालों ने आज से पहले इतनी भीड़ नहीं देखी होगी। दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दी

मोदी को मिलेगा मुसलमानों का समर्थन: संघ

इमेज
  मोदी को मिलेगा मुसलमानों का समर्थन: संघ September 18, 2013, http://zeenews.india.com/hindi/news वाराणसी : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) का मानना है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार घोषित किए गए नरेंद्र मोदी को वर्ष 2014 में होने वाले आम चुनाव में देश के मुसलमानों का जोरदार समर्थन मिलेगा, जिससे उनके सुनहरे भविष्य का सपना आसानी से साकार हो सकता है। संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार ने बुधवार को वाराणसी में बातचीत के दौरान यह बात कही। वह दो दिवसीय प्रवास पर वाराणसी पहुंचे हुए हैं। उन्होंने कहा, `अमेरिका, ब्रिटेन सहित दुनिया भर की बड़ी ताकतों ने मोदी की छवि खराब करने के लिए पुरजोर कोशिश की, लेकिन उनकी लोकप्रियता व सुशासन छवि के कारण वे भी कुछ नहीं कर पाए।` क्या मोदी को मुसलमानों का समर्थन मिलेगा, इस सवाल पर इंद्रेश ने कहा कि सच्चा मुसलमान ऐसा राज चाहता है जिसमें सुरक्षा व विकास हो, जाति-मजहब के नाम पर भेद-भाव न हो। उन्होंने कहा कि मुसलमानों ने पिछले 60 वर्षों से कांग्रेस व अन्य दलों को परखकर देखा है, लेकिन उन्हें शक के न

संघ ने मोदी पर कभी वीटो नहीं लगाया : इन्द्रेश कुमार

इमेज
  संघ ने मोदी पर कभी वीटो नहीं लगाया : इन्द्रेश कुमार Saturday, September 14, 2013 http://zeenews.india.com/hindi/news राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ थिंक टैंक इंद्रेश कुमार से ज़ी रीज़नल चैनल्स के संपादक वासिंद्र मिश्र ने भाजपा-संघ के रिश्ते, हिन्दुत्व, नरेंद्र मोदी की पीएम पद की उम्मीदवारी आदि मुद्दों पर लंबी बातचीत की। पेश है सियासत की बात में उसके कुछ प्रमुख अंश। वासिंद्र मिश्र : नमस्कार, हमारे साथ हैं खास मेहमान इंद्रेश जी, इंद्रेश जी का सरोकार संघ परिवार से है, संघ के सीनियर मोस्ट अधिकारियों में से एक हैं। इनकी सबसे बड़ी पहचान है कि इन्होंने लगभग 10 वर्षों से अल्पसंख्यक समाज को संघ से जोड़ने के लिए बहुत बड़ा आंदोलन चला रखा है, इसमें काफी हद तक कामयाबी देखने को मिली है। आज हम इंद्रेश जी से ये जानने की कोशिश करेंगे, पिछले 10 सालों से इन्होंने जो आंदोलन चला रखा है, जिसको ये आगे बढ़ा रहे हैं, ये किस वजह से है? क्योंकि संघ के बारे में एक आम धारणा है संघ बहुसंख्यक समाज की बात करता है, हिन्दुत्व की बात करता है, तो ऐसे में अगर वो संगठन के जरिए अल्पसंख्यकों की बात करता है त

Shaheed Bhagat Singh:Most prominent faces of Indian freedom

इमेज
Shaheed Bhagat Singh Biography Born: September 27, 1907 { Wikipedia September 28, 1907} Martyrdom: March 23, 1931 http://www.iloveindia.com/indian-heroes/bhagat-singh.html Achievements: Gave a new direction to revolutionary movement in India, formed 'Naujavan Bharat Sabha' to spread the message of revolution in Punjab, formed 'Hindustan Samajvadi Prajatantra Sangha' along with Chandrasekhar Azad to establish a republic in India, assassinated police official Saunders to avenge the death of Lala Lajpat Rai, dropped bomb in Central Legislative Assembly along with Batukeshwar Dutt. Bhagat Singh was one of the most prominent faces of Indian freedom struggle. He was a revolutionary ahead of his times. By Revolution he meant that the present order of things, which is based on manifest injustice must change. Bhagat Singh studied the European revolutionary movement and was greatly attracted towards socialism. He realised that the overthrow of British rule should be accompa

देश में चल रही है भारतीय जनता पार्टी की आंधी : मोदी

देश में चल रही है भारतीय जनता पार्टी की आंधी : मोदी भोपाल : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस को ललकारा और चेताया भी। उन्होंने कहा कि देश में भाजपा की आंधी चल रही है, कांग्रेस ने अगर आपातकाल जैसा दमनचक्र चलाया तो देश की जनता उससे एक-एक कर हिसाब चुकता करेगी। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भाजपा के 'कार्यकर्ता महाकुंभ' में बुधवार को मोदी ने केंद्र की कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार पर जमकर हमले किए। उन्होंने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के दुरुपयोग की ओर इशारा करते हुए कहा कि कांग्रेस आगामी विधानसभा व लेाकसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार नहीं उतारने वाली है, बल्कि उसकी तरफ से तो सीबीआई चुनाव लड़ेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि की भाजपा की आंधी के आगे उसमें चुनाव लड़ने का साहस ही नहीं बचा है। उन्होंने कांग्रेस को चेताया कि अगर उसने आपातकाल जैसा दमनचक्र चलाया तो उसके नतीजे भी भुगतने होंगे। उन्होंने कहा कि तब जनता ने हिसाब किया था और अब ऐसा हुआ तो देश की जनता चुन-चुनकर हिसाब चुकता करेगी।

आधार कार्ड से इतनी मौहब्बत क्यों ? क्या इसमें भी कोई बडा घोटाला है।

इमेज
आधार कार्ड से इतनी मौहब्बत क्यों ? क्या इसमें भी कोई बडा घोटाला है। नरेंद्र मोदी ने आधार के लिए खर्च धन पर उठाए सवाल तिरुचिरापल्ली (तमिलनाडु) | आधार कार्ड परियोजना को लेकर संप्रग सरकार पर आज तीखा हमला बोलते हुए भाजपा के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेन्द्र मोदी ने इसके लिए बड़ा धन खर्च किये जाने पर सवाल उठाते हुए कहा कि इससे भ्रष्टाचार की गंध आती है। आधार कार्ड परियोजना को लेकर संप्रग सरकार के दावों का उपहास उड़ाते हुए उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस जन ऐसे नाच रहे हैं मानों यह सभी रोगों के इलाज की बूटी हो। उच्चतम न्यायालय द्वारा केन्द्र को आड़े हाथ लिये जाने के साथ लोग प्रधानमंत्री से जवाब मांग रहे हैं कि कितना धन खर्च किया गया, इसका खुलासा कौन करेगा।’ मध्य तमिलनाडु के इस शहर में भाजपा युवा रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘प्रधानमंत्री को जवाब देना चाहिए कि इस पर कितना धन खर्च किया गया, सारा धन कहां गया और उससे किसको लाभ पहुंचा।’ संप्रग पर हमला बोलते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री ने कहा, ‘वे केवल वही चीज करना चाहते हैं जहां भ्रष्टाचार हो। जनहित की चीजों में उनकी कोई रूचि नहीं है।’ विभि

सरहद की रक्षा जरूरी या दुश्मन से बात ? - नरेंद्र मोदी

इमेज
मोदी ने पूछा, सरहद की रक्षा जरूरी या दुश्मन के हुक्मरान से बात नवभारतटाइम्स.कॉम | Sep 26, 2013 http://navbharattimes.indiatimes.com तिरुचिरापल्ली।। बीजेपी के पीएम कैंडिडेट और गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली की रैली में पाकिस्तान से बातचीत को लेकर केंद्र सरकार पर तीखे हमले किए। उन्होंने पूछा कि आखिर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ऐसी क्या मजबूरी है कि वह आतंकवाद के बढ़ावा देने वाले देश के हुक्मरान से बातचीत टालने तक की नहीं सोच पाते? मोदी ने रैली में आए लोगों से सवाल करते हुए कहा कि पाक सैनिकों द्वारा हमारे जवानों और निर्दोष नागरिकों को मारा जाता है, आतंकवाद आए दिन परेशान करता रहता है, क्या ऐसे समय में भारत के प्रधानमंत्री को पाकिस्तानी पीएम से बातचीत करनी चाहिए? मोदी ने कहा, 'देश में ऐसी सरकार है, जिसके कारण न हमारी माताएं-बहनें सुरक्षित हैं, न सीमा पर तैनात हमारे जवान सुरक्षित हैं, न सीमा पर हमारी भूमि सलामत है, गुजरात हो या तमिलनाडु हो या केरल, न हमारे मछुआरे सुरक्षित हैं। इसलिए हमें ऐसी सरकार को उखाड़ कर फेंक देना चाहिए।' नरेंद्र मोदी ने रैली

राष्ट्र ही प्रथम और राष्ट्र ही अन्तिम- इन्द्रेश कुमार

इमेज
- अरविन्द सिसौदिया,कोटा युवा संगम कार्यक्रम दो संकल्प लो,गरीब से प्यार करो और देश से प्यार करो कोटा 25 सितम्बर। भारत की युवा शक्ति का लक्ष्य ‘‘राष्ट्र ही प्रथम-राष्ट्र ही अंतिम’’ होना चाहिए। ताकि हम अपने देश की सुरक्षा, उन्नति और स्वालम्बन के साथ-साथ विश्व सभ्यता को सुसंस्कार और मानवता से परिपूर्ण कर सकें। यह विचार युवाओं को प्रेरक सम्बोधन करते हुए अन्तर्राष्ट्रीय विचारक एवं प्रखर वक्ता इन्द्रेश कुमार ने, ‘‘युवा संगम ’’ कार्यक्रम में मुख्यवक्ता के तौर पर सम्बोधित करते हुए कहे। यह कार्यक्रम स्वामी विवेकानन्द जी की 150 वीं जयन्ति वर्ष पर आयोजित हो रहे कार्यक्रमों की श्रंखला में ‘‘युवा आयाम’’ द्वारा आयोजित किया गया। आयोजन कर्ता स्वामी विवेकानन्द सार्ध शती समारोह समीति, कोटा महानगर के तत्वाधान में श्रीराम रंगमंच दशहरा मैदान, कोटा में सायं 5.00 बजे प्रारंभ हुआ। इन्द्रेश कुमार ने अपना प्रेरक उद्बोधन छोटे-छोटे उद्धरणों के रूप में बोला जिससे कार्यक्रम स्थल बार-बार तालीयों से गुंजायमान होता रहा। उन्होंने राष्ट्र प्रेम का संदेश देते हुए कहा कि अच्छे डाॅक्टर बनो, अच्छे इंजीनियर बनो, अच्छे

संघ प्रमुख को फंसानें की कांग्रेसी साजिश बेनकाव

इमेज
संघ प्रमुख को फंसानें की की कांग्रेसी साजिश बेनकाव अपनी और पराई सरकार होने का यही फर्क होता है,ये साफ नजर आनें लगा कि सोनियां गांधी इस देश में ईसाईयत की स्थापना और उसे तेजी से फैलानें के लिये काम कर रहीं हैं और  जो भी उनकी राह की बाधा है उसे फंसां कर जेल में डालने का काम कर रहीं हैं।, यह काम कोई विदेशी ही कर सकता है। स्वदेशी इस तरह के घ्रणित और गलत काम नहीं कर सकता । कांग्रेस अब परोक्ष रूप से विदेशियों के हित साधनें की पार्टी बन गई है। सच्चे देशवासियों के साथ गुलामों जैसा व्यवहार कर रहीं है। अजमेर ब्लास्ट: 'कांग्रेस नेताओं ने संघ का नाम लेने को कहा' आईबीएन-7 | Sep 25, 2013 http://khabar.ibnlive.in.com/news/108720/12 नई दिल्ली। अजमेर धमाके के आरोपी भावेश पटेल ने कांग्रेस के नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए हैं। सूत्रों की मानें तो भावेश पटेल ने एनआईए की स्पेशल कोर्ट को एक चिट्ठी लिखी है। चिट्ठी में भावेश पटेल ने आरोप लगाया है कि केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे और कांग्रेस के चार नेताओं ने उस पर अजमेर धमाके के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत और संघ नेता इंद्रेश कुमार का नाम

सांसदों को बचाने के लिए अध्यादेश पर विचार की संभावना

इमेज
सांसदों को बचाने के लिए अध्यादेश पर विचार की संभावना Tuesday, September 24, 2013 http://zeenews.india.com/hindi नई दिल्ली : सरकार द्वारा दोषी सांसदों और विधायकों को अयोग्य घोषित होने से संरक्षण प्रदान करने के लिए मंगलवार को एक अध्यादेश पर विचार किए जाने की संभावना है । सरकार इस संबंध में संसद में विधेयक पारित कराने में विफल रही है । इस मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले को निष्प्रभावी करने के लिए संसद में विधेयक पारित कराने में विफल रहने के बाद आपराधिक मामलों में दोषी करार दिए गए और दो साल या इससे अधिक की सजा पाने वाले सांसदों और विधायकों पर तुरंत अयोग्य घोषित किए जाने का खतरा मंडरा रहा है । सू़त्रों ने बताया कि भ्रष्टाचार के मामले तथा अन्य अपराधों में कांग्रेस सांसद राशिद मसूद को दोषी ठहराए जाने के बाद सरकार इस संबंध में अध्यादेश लाने के विकल्पों को तौल रही है । सूत्रों ने यह भी दावा किया कि केंद्रीय कैबिनेट अपने विवेक के आधार पर अध्यादेश लाने के खिलाफ भी फैसला कर सकती है । सीबीआई अदालत द्वारा अगले माह सजा घोषित किए जाने पर मसूद के अपनी राज्यसभा सदस्यता गंवा देने की आ

महाफेंकू चिदम्बरम जी ,सरकार के मंत्री और पार्टी के प्रवक्ता में र्फक रहना चाहिये

इमेज
महाफेंकू चिदम्बरम जी ,सरकार के मंत्री और पार्टी के प्रवक्ता में र्फक रहना चाहिये हाल ही केन्द्र सरकार के जिम्मेवार मंत्री पी चिदम्बरम ने मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी को असंसदीय भाषा का उपयोग करते हुये फेंकू कह दिया ! यह करके उन्होनें अपनी ही संसदीय मर्यादा और सरकार की गंभीरता को अपमानित कर लिया है। जबाव में उन्हे महा फेंकू कह दिया गया । यूपीए 2 की सरकार विफल है तो इसके लिये सरकार के प्रधानमंत्री और मंत्री जिम्मेवार हैं, अपनी विफलता के लिये पूर्ववर्ती सरकारों के आंकडों के साथ आप हेराफेरी कैसे कर सकते हैं ? अटलबिहारी वाजपेयी की सरकार में आम आदमी की जरूतों का पूरा - पूरा ध्यान रखनें एवं देश को तेजगति से विकसित करने पर ध्यान दिया गया था। आप रिपोर्ट कार्ड उठा कर देखलें या बहस करलें। इसलिये देश की विकास दर ऊंची थी। आपने चीन,अमरीका और यूरोप के हितों की चिंता की, उनका माल भारत में ज्यादा से ज्यादा बिके इसकी चिंता की, आम भारतवासी को लूट का साधन मान लिया, देश के संसाधनों से लेकर आम आदमी की जेब तक नहीं छोडी, इसलिये आप की विकास दर है ही नही , ....तो बढ़ेगी कैसे ? माफ करना चिदम्बरम जी आपकी बकव