पोस्ट

नवंबर, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

गौरवशाली इतिहास को नयी पीढी को बताना राष्ट्रीय कर्तव्य - परम पूजनीय सरसंघचालक माननीय भागवत जी

इमेज
समाज को अपना सत्व पहचानने का आग्रह  - मोहनराव जी भागवत  ‘राष्ट्रीय तीर्थ-प्रताप गौरव केंद्र, उदयपुर’ का लोकार्पण गौरवशाली इतिहास को सहेज कर नयी पीढी को बताना  यह राष्ट्रीय कर्तव्य - परम पूजनीय सरसंघचालक              उदयपुर : 28 नवम्बर महाराणा प्रताप के जीवन को समर्पित मेवाड एवं भारत के गौरवशाली इतिहास को जीवन्त करने वाले ‘राष्ट्रीय तीर्थ-प्रताप गौरव केंद्र, उदयपुर’ का लोकार्पण आज राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  के परम पूजनीय सरसंघचालक माननीय मोहनराव जी भागवत एवं राजस्थान की मुख्यमंत्री माननीया वसुंधराराजे जी के कर-कमलों द्वारा सम्पन्न हुआ । कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में  केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री भारत सरकार श्री महेश गिरि जी  एवं राजस्थान सरकार के गृहमन्त्री एवं स्थानीय विधायक श्री गुलाबचन्द जी कटारिया  भी मंच पर उपस्थित थे।          कार्यक्रम में परम पूजनीय सरसंघचालक माननीय मोहनराव जी भागवत ने स्वामी विवेकानन्द के बताये दृष्टांत से अपना उद्बोधन प्रारम्भ करते हुए समाज को अपना सत्व पहचानने का आग्रह किया। उन्होने कहा किसी भी देश को आगे

जम्मू और कश्मीर हिंदुत्व की ही बपौती

इमेज
पिछले दिनों , जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नैशनल कॉन्फ्रेंस चीफ फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान अध‍िकृत कश्मीर (पीओके) पर भारत के दावे को लेकर विवादित बयान दिया है। अब्दुल्ला ने कहा कि पीओके भारत की बपौती नहीं है जिसे वह हासिल कर ले। इसके साथ ही उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार को चुनौती दी कि वह पाकिस्तान के कब्जे से पीओके को लेकर दिखाए।        फारूक अब्दुल्ला का यह  बयान  मात्र पाकिस्तान को खुश करने वाला था , वे स्वयं जानते हैं की कश्मीर और उनके भी  पूर्वज  हिन्दू थे ! समस्त जम्बू दीप यानि कि एशिया महादीप सनातन संस्कृति था ! अफगानिस्थान से लेकर सुदूर म्यमांर मलेशिया इंडोनेशिया तक जो बड़ी बड़ी बोद्ध प्रतिमाएं है या नष्ट की हैं वे चीख चीख कर कह रहीं हैं की यह सारा का सारा प्रायदीप सनातन सभ्यता का  हैं ! इसलिये  फारूक अब्दुल्ला ये समझलें कि मानव सभ्यता के जन्म से कश्मीर हिंदुत्व की बपौती है ! - अरविन्द सिसोदिया , कोटा , राजस्थान 9414180151 / 9509559131   मानव सभ्यता के जन्म से ,  जम्मू और कश्मीर हिंदुत्व की ही बपौती  जम्मू और कश्मीर के लिए राजतरंगिणी तथा नीलम पुराण नामक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - गरीबों के हक़ की राशि का उन्हीं के कल्याण में इस्तेमाल

इमेज
गरीबों से लूटी गई राशि का उन्हीं के कल्याण में इस्तेमाल करने के लिए  PM मोदी ने BJP सांसदों-विधायकों से मांगा नोटबंदी के बाद खातों का ब्यौरा By Kishor Joshi Publish Date:Tue, 29 Nov 2016 नई दिल्ली (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के सभी सांसदों तथा विधायकों को निर्देश दिया है कि वे 8 नवंबर से 31 दिसंबर, 2016 के बीच हुए अपने-अपने बैंक खातों के लेनदेन का पूरा ब्यौरा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को सौंपें। भाजपा संसदीय दल की बैठक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लोकसभा में पेश किया गया आयकर संशोधन विधेयक कालेधन को सफेद में बदलने के लिए नहीं, बल्कि गरीबों से लूटी गई राशि का उन्हीं के कल्याण में इस्तेमाल करने के लिए है। दरअसल विपक्षी पार्टियों का आरोप था कि नोटबंदी की जानकारी भाजपा नेताओं को पहले से थी। ऐसे में गृहमंत्री ने सोमवार को कहा था कि उनकी मंशा पर शक न किया जाए। वहीं मंगलवार को पीएम ने अपनी पार्टी के सासंदों और विधायकों का बैंक खातों का ब्यौरा मांगकर विपक्षी पार्टियों को अपनी ईमानदारी का सूबूत देने की कोशिश की है। वैस

नोटबंदी को जनता का समर्थन : गुजरात में भी भाजपा को भारी जीत मिली

इमेज
  गुजरात: नोटबंदी को जनता का समर्थन! निकाय-पंचायत चुनाव में खिला 'कमल', कांग्रेस को झटका By Amitabh Kumar | Updated Date: Nov 29 2016 अहमदाबाद : गुजरात में जिला पंचायत, तहसील पंचायत और नगरपालिका की 125 सीटों पर हुए उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को भारी जीत मिली है. प्राप्त जानकारी के अनुसार 125 सीटों में से भाजपा ने 109 पर कब्जा जमाकर सभी को आश्‍चर्यचकित कर दिया है. इससे पहले 125 में से 64 के करीब भाजपा के पास सीटें थीं. 64 से सीधे 109 सीटों पर आ जाना भाजपा के लिए बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है. इसके उलट कांग्रेस को इस चुनाव  में  125 सीटों में से मात्र 16 सटें मिलीं हैं. इससे पहले कांग्रेस की करीब 52 सीटें थीं. उल्लेखनीय है कि नोटबंदी के फैसले के बाद अनुमान लगाया जा रहा था कि भाजपा को इसकी कीमत चुकानी पड़ सकती है , लेकिन महाराष्ट्र और गुजरात के नतीजों से सारे अनुमान और राजनीति के जानकारों की बातें खोखली साबित होती नजर आ रही है. दरअसल नोटबंदी को लेकर विपक्ष का आरोप है कि जनता को खासी दिक्कत हो रही है और जनता चुनावों में भाजपा को सबक सिखाएगी. यहां बता

भारतबंद बुरी तरह विफल हुआ - अरविन्द सिसोदिया

इमेज
भारतबंद बुरी तरह विफल हुआ है। किसी भी पार्टी के कार्यकर्ता में यह दम नहीुं हुआ कि वे दुकानें बंद करवानें निकल सकें। बंगाल में मामूली असर सिर्फ केरल और त्रिपुरा में रहा बांकी सिर्फ फोटो खिचवाई और न्यूज बनवाई तक ही सीमित रहा बंद । कुल मिलाकर बुरी तरह से फैल हुआ भारत बंद ।  - अरविन्द सिसोदिया, जिला महामंत्री, भाजपा कोटा, राजस्थान 94141 80151  नोटबंदी: विपक्ष का देश भर में विरोध प्रदर्शन, भाजपा बोली, फ्लॉप शो एजेंसी/ नई दिल्लीUpdated Tue, 29 Nov 2016 http://www.amarujala.com नोटबंदी के फैसले के खिलाफ विपक्षी दलों ने सोमवार को देश भर में विरोध प्रदर्शन किया। यूपी, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा समेत अन्य राज्यों में कांग्रेस, लेफ्ट, तृणमूल कांग्रेस व अन्य कई विपक्षी दलों के नेता सड़कों पर उतरे और नोटबंदी के लिए मोदी सरकार की आलोचना की। हालांकि वामदल शासित केरल और त्रिपुरा के बंद को छोड़कर ज्यादातर जगहों पर आम जनजीवन सामान्य रहा। वामदलों ने सोमवार को 12 घंटे के बंद के आह्वान किया था, जिसके चलते केरल और त्रिपुरा में जनजीवन ठप रहा। जबकि कांग्रेस, तृणमूल और अन्य कई दलों ने आक्रोश दिवस

महाराष्ट्र निकाय चुनाव में नोटबंदी की बड़ी जीत

इमेज
नोटबंदी के बाद महाराष्ट्र के नगर पालिका और नगर परिषद के चुनाव के परिणाम आ गये हैं। अब तक के परिणामों के अनुसार कुल 164 सीटों में बीजेपी 57, शिवसेना 27, कांग्रेस 23, एनसीपी 21 और अन्य को अभी तक 25 सीटें मिली हैं। महाराष्ट्र निकाय चुनाव में नोटबंदी की जीत Published: Mon, 28 Nov 2016 मुंबई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले पर महाराष्ट्र की जनता ने मुहर लगा दी है। नोटबंदी के फैसले के 19 दिन बाद रविवार को राज्य के स्थानीय निकाय के लिए हुए चुनावों के परिणाम सोमवार को आ गए। इनमें भाजपा को सहयोगी शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के मुकाबले ज्यादा सीटों पर जीत मिली है। पहले चरण के तहत 25 जिलों में 3,705 सीटों के लिए मत डाले गए थे। अब तक घोषित नतीजों में भाजपा 851 सीटों पर जीत हासिल कर शीर्ष पर है। 147 नगर परिषद अध्यक्ष के लिए भी मतदान हुआ था। 140 पदों के लिए घोषित परिणाम में भाजपा 51 सीटें जीतकर शीर्ष पर है। भाजपा और शिवसेना स्थानीय निकाय चुनाव साथ मिलकर लड़ रही है। नोटबंदी के फैसले को लेकर प्रधानमंत्री विपक्षी दलों के अलावा केंद्र और महार

नरेंद्र मोदी - ‘मन की बात’ : 70 साल की बीमारियों से मुक्ति का अभियान

इमेज
Mann Ki Baat, November 2016 मेरे प्यारे देशवासियो, नमस्कार | पिछले महीने हम सब दिवाली का आनंद ले रहे थे | हर वर्ष की तरह इस बार दिवाली के मौके पर, मैं फिर एक बार जवानों के साथ दिवाली मनाने के लिये, चीन की सीमा पर, सरहद पर गया था | ITBP के जवान, सेना के जवान - उन सबके साथ हिमालय की ऊंचाइयों में दिवाली मनाई | मैं हर बार जाता हूँ, लेकिन इस दिवाली का अनुभव कुछ और था | देश के सवा-सौ करोड़ देशवासियों ने, जिस अनूठे अंदाज़ में, यह दिवाली सेना के जवानों को समर्पित की, सुरक्षा बलों को समर्पित की, इसका असर वहाँ हर जवानों के चेहरे पर अभिव्यक्त होता था | वो भावनाओं से भरे-भरे दिखते थे और इतना ही नहीं, देशवासियों ने जो शुभकामनायें-सन्देश भेजे, अपनी ख़ुशियों में देश के सुरक्षा बलों को शामिल किया, एक अद्भुत response था | और लोगों ने सिर्फ़ सन्देश भेजे, ऐसा नहीं, मन से जुड़ गए थे; किसी ने कविता लिखी, किसी ने चित्र बनाए, किसी ने कार्टून बनाए, किसी ने वीडियो बनाए, यानि न जाने हर घर सेनानियों की जैसे चौकी बन गया था | और जब भी ये चिट्ठियाँ मैं देखता था, तो मुझे भी बड़ा आश्चर्य हो रहा था कि कितनी कल्

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - 'भ्रष्टाचार बंद हो या भारत'?

इमेज
कुशीनगर रैली में पीएम नरेंद्र मोदी, पूछा- 'भ्रष्टाचार बंद हो या भारत'? उन्होंने कहा कि दिल्ली में जो सरकार बैठी है, वह पूरी तरह गरीबों, किसानों, समाज के वंचितों आदि को समर्पित है By Indo-Asian News Service | Published: November 27, 2016 http://www.india.com/hindi-news कुशीनगर, 27 नवम्बर| उत्तर प्रदेश में बुद्घ की धरती कुशीनगर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में जो सरकार बैठी है, वह पूरी तरह गरीबों, किसानों, समाज के वंचितों आदि को समर्पित है। आप लोगों का भरोसा टूटने नहीं दूंगा। मोदी ने कुशीनगर में कसया हवाई पट्टी पर जनसभा को संबोधित किया। मोदी की सभा को लेकर कुशीनगर में जोरदार तैयारियां की गई थीं। मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी भाषा में की। मोदी ने रैली स्थल पर आई भीड़ के बारे में कहा कि आज के बराबर लोकसभा चुनाव में भी भीड़ नहीं आई थी। उन्होंने कहा, “हम सेवक हैं, आपकी सेवा के लिए आए हैं। आपके कष्ट, हमारे कष्ट हैं।” उन्होंने अपने भाषण में चीनी मिल का भी मुद्दा उठाया। मोदी ने कहा, “चीनी मिल के मा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी : देशवासी संकल्प पूर्ण करके ही रहेंगे

इमेज
100 फीसदी कैशलेस संभव नहीं,  लेकिन लेस-कैश तो संभव है :  मन की बात में बोले पीएम नरेंद्र मोदी राजीव मिश्र द्वारा संपादित, अंतिम अपडेट: रविवार नवम्बर 27, 2016 खास बातें :- 1-नोटबंदी : निर्णय सामान्य नहीं है कठिनाइयों से भरा हुआ है. 2-ये निर्णय-पूरा विश्व बहुत बारीक़ी से देख रहा है. 3-भारत को विश्वास है कि देशवासी संकल्प पूर्ण करके ही रहेंगे. नई दिल्ली: देश के नाम अपने संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए कई बातें कहीं. उन्होंने देश की सुरक्षा से लेकर नोटबंदी के मुद्दे पर बात की. पेश है उनके भाषण के मुख्य अंश - देश के सुरक्षा बलों के प्रति आपका जो भाव है, वह प्रशंसनीय है. देशवासियों ने जो शुभकामनायें-सन्देश भेजे,अपनी ख़ुशियों में देश के सुरक्षा बलों को शामिल किया,उसका एक अद्भुत रिसपॉन्स था. देशवासियों ने जिस अनूठे अंदाज़ में यह दिवाली जवानों को समर्पित की इसका असर वहां हर जवानों के चेहरे पर अभिव्यक्त होता था हर वर्ष की तरह इस बार दिवाली पर मैं जवानों के साथ दिवाली मनाने के लिये, चीन की सीमा पर, सरहद पर गया था . कुछ समय पहले

एक और मौका : बेहिसाब धन रखने वालों के लिए

इमेज
एक और मौका: बेहिसाब धन रखने वालों के लिए सरकार लाएगी नई स्कीम इकनॉमिकटाइम्स.कॉम | Updated: Nov 25, 2016 दीपशिखा सिकरवार नोटबंदी के बाद बैंकों में बड़े पैमाने पर अघोषित धन जमा कराने वाले लोगों के लिए मोदी सरकार एक बार फिर से डिसक्लोजर स्कीम लॉन्च कर सकती है। इस योजना के तहत अघोषित आय रखने वाले लोगों के धन पर 50 पर्सेंट का टैक्स लगेगा और उन्हें अपनी राशि को 4 साल के लिए भूलना होगा। यदि इस स्कीम को न मानने वाले लोगों पर 60 पर्सेंट से अधिक तक की पेनल्टी लगाई जा सकती है। इसके अलावा अगले सप्ताह केंद्र सरकार इनकम टैक्स ऐक्ट में संशोधन भी कर सकती है। केंद्र सरकार की ओर से यह योजना कैबिनेट की ओर से टैक्स कानूनों को मंजूर किए जाने के एक दिन बाद सामने आई है। बता दें कि देश भर में 8 नवंबर की रात से 1000 और 500 रुपये के नोट महज 'कागज का टुकड़ा' रह गए हैं। नोटबंदी के बाद से विपक्ष लगातार मोदी सरकार पर 'आम जनता की तकलीफों' को आधार बनाकर निशाना साध रहा है। शुक्रवार को संविधान दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित एक कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचारियों को मौका नहीं मिला

नोटबंदी : फैसला राष्ट्रीय हित में : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

इमेज
नोटबंदी पर मोदी सरकार को मिला आरएसएस का समर्थन, कहा - फैसला राष्ट्रीय हित में भाषा की रिपोर्ट, अंतिम अपडेट: शनिवार नवम्बर 26, 2016 नई दिल्ली: नोटबंदी के फैसले को उचित ठहराते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने शुक्रवार को कहा कि यह पारदर्शी मौद्रिक चलन शुरू करने के 'ईमानदार इरादे' के साथ राष्ट्रीय हित में उठाया गया कदम है जिससे देश की अर्थव्यवस्था सुरक्षित होगी और इसमें तेजी आएगी. आरएसएस के संचार विभाग के प्रमुख मनमोहन वैद्य ने कहा कि देश में सभी राष्ट्रविरोधी, अलगाववादी और आतंकवादी गतिविधियां अचानक ठहर सी गई प्रतीत होती हैं तथा नतीजतन एक लंबे समय बाद कश्मीर घाटी में सामान्य स्थिति बहाल हुई है. उन्होंने कहा कि यह जाहिर है कि लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा क्योंकि देश में वित्तीय सुदृढ़ता और जवाबदेही की दिशा में यह एक सख्त कदम है और इसका मकसद अपनी अर्थव्यवस्था को सुरक्षित और जीवंत बनाना है. वैद्य ने कहा कि नोटबंदी का सरकार का फैसला राष्ट्रीय हित में है. उन्होंने कहा कि इसका असर हर जगह महसूस किया जा रहा है. उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे देश में प

' नोटबंदी का मोदी का कदम बहुत ही साहसिक है। '- चीन की सरकारी मीडिया

इमेज
नोटबंदी: भारत के 'जुए' से सबक सीखेगा चीन,  मोदी के कदम को बताया बहुत साहसिक पीटीआई | Updated: Nov 26, 2016 पेइचिंग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले को 'बहुत साहसिक' कदम बताते हुए चीन की सरकारी मीडिया ने कहा कि भ्रष्टाचार पर इसके असर से चीन सबक लेगा। चीनी सरकारी मीडिया के अनुसार नोटबंदी चाहे सफल हो या असफल लेकिन इससे एक उदाहरण पेश किया गया है और चीन भ्रष्टाचार पर इसके प्रभावों से जरूर सबक लेगा। सरकारी समाचार पत्र 'ग्लोबल टाइम्स' में छपे संपादकीय में लिखा है, ' नोटबंदी का मोदी का कदम बहुत ही साहसिक है। अगर चीन में 50 या 100 युआन के नोट बंद कर दिए जाएं तो, चीन में क्या होगा हम इसके बारे में अभी कल्पना नहीं कर सकते हैं। मोदी ने करंसी रिफॉर्म पर फैसला लेकर एक जुआ खेला है।' गौरतलब है कि 100 युआन चीन की सबसे बड़ी करंसी है। पत्र आगे लिखता है, 'नोटबंदी की खबर को पूरी तरह गुप्त रखा गया था ताकि इसे लागू करने में कोई दिक्कत नहीं हो। नोटबंदी का यह फैसला ब्लैक मनी को खिलाफ है। हालांकि मोदी इसे लागू करने से पहले दुविधा में थे।'

अनलिमिटेड धन जमा करने पर लगेगा 50 प्रतिशत टैक्स लग सकता है

इमेज
अनलिमिटेड धन जमा करने पर लगेगा 50 प्रतिशत टैक्स, चार साल की होगी रोक By haribhoomi.com | Nov 26, 2016      नई दिल्ली. सरकार संसद के मौजूदा सत्र में कर कानून में संशोधन लाने की योजना बना रही है। इसके तहत नोटबंदी के बाद 30 दिसंबर तक घोषित बेहिसाब जमा बैंक राशि पर न्यूनतम 50 प्रतिशत कर लग सकता है। इसके अलावा शेष राशि के आधे हिस्से के निकासी पर चार साल की पाबंदी (लाक इन) होगी।  हालांकि अगर करदाता स्वेच्छा से बेहिसाब राशि के बारे में घोषणा नहीं करता है तो उच्च दर से 90 प्रतिशत कर लगेगा।         मंत्रिमंडल ने शुक्रवार रात आयकर कानून में संशोधन की जो मंजूरी दी है, उसके तहत पुराने 500 और 1,000 रुपये के नोट निर्धारित सीमा से अधिक जमा करने के बारे में अगर आयकर अधिकारियों के समक्ष घोषणा की जाती है तो उस पर 50 प्रतिशत कर लग सकता है।        उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार शेष राशि का आधा हिस्सा या मूल जमा का 25 प्रतिशत को चार साल तक निकालने की अनुमति नहीं होगी। उसने बताया कि अगर इस प्रकार के जमा के बारे में घोषणा नहीं की जाती है और उसका पता कर अधिकारियों को चलता है तो कुल 90 प्रतिशत कर

नोटबंदी पर विरोधी इसलिए दुखी क्योंकि उन्हें वक्त नहीं मिला : पीएम मोदी

इमेज
नोटबंदी पर विरोधी इसलिए दुखी क्योंकि उन्हें वक्त नहीं मिला : पीएम मोदी  November 25, 2016 नई दिल्‍ली : नोटबंदी के मुद्दे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को फिर अपनी राय रखी और इस फैसले के आलोचकों को करारा जवाब दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जो लोग सरकार पर नोटबंदी के लिए तैयारी नहीं करने का आरोप लगा रहे हैं, वे खुद इस कदम के लिए तैयार नहीं थे। पीएम ने मनमोहन सिंह के आरोपों पर भी पलटवार किया। संविधान दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने नोटबंदी के फैसले की आलोचना करने वालों को जमकर आड़े हाथों लिया। बता दें कि गुरुवार को पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा था कि जनता के पैसे की संगठित लूट हो रही है। नोटबंदी का फैसला बिना पूरी तैयारी के लिया गया। नोटबंदी के मुद्दे पर विपक्ष की ओर से सरकार पर हमला तेज किये जाने के बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर इन लोगों को 72 घंटे का वक्त मिल जाता तो वे प्रशंसा करते। यहां एक पुस्तक विमोचन समारोह को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि 500 और 1000 रपये के पुराने नोटों को अमान्य करने के फैसले की बहुत कम आलोचना हुई है। उन्हों