पोस्ट

मार्च, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

चैत्र नवरात्रि : 40 साल से व्रत रख रहे हैं पीएम नरेंद्र मोदी

इमेज
चैत्र नवरात्रि 2017: 40 साल से व्रत रख रहे हैं पीएम नरेंद्र मोदी,  योगी आदित्य नाथ पहली बार गोरखपुर से बाहर कर रहे नवरात्र पूजा प्रधानमंत्री मोदी की तरह की यूपी के नए सीएम योगी आदित्य नाथ भी है। योगी साल में दोनों बार नवरात्रि का व्रत रखते हैं और देवी मां की साधना करते हैं। जनसत्ता ऑनलाइन नई दिल्ली | March 28, 2017             हिन्दू नववर्ष और चैत्र नवरात्रि पर्व मंगलवार से प्रारंभ हो गया है। 28 मार्च मंगलवार को कलश स्थापना (घट स्थापना) के साथ 9 दिन तक आराधन का पर्व चलेगा। नवरात्र 28 मार्च से 5 अप्रैल तक चलेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्य नाथ ने हर बार की तरह इस बार भी नवरात्रि का व्रत रखा। पीएम मोदी 40 सालों से नवरात्रि का व्रत रखते आ रहे हैं। साल 2012 में पीएम नरेंद्र मोदी ने ब्लॉग के जरिए बताया था कि वह पिछले 35 सालों से यह व्रत रखते हैं। इस दौरान वह अन्न और किसी भी तरह के मसालों का सेवन नहीं करते हैं। पूरे दिन काम करने के बाद वह शाम को नीबू पानी और कुछ फल खाते हैं। पूरे नवरात्र भर उनका यही शेड्यूल रहता है। देवी मां की भक्ति के साथ पीएम मोदी इस दौरा

संघ : पश्चिम बंगाल में बढ़ती जिहादी गतिविधियाँ पर प्रस्ताव

इमेज
कोयंबटूर (तामिलनाडु) 19 मार्च 17.   राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की निर्णय लेने वाली सर्वोच्च इकाई  “अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा”  का विधिवत शुभारंभ मा.सरसंघचालक डॉ. मोहन जी भागवत तथा सरकार्यवाह श्री भय्या जी जोशी ने किया. श्री अमृता विश्व विध्याश्रम, कोयंबटूर (तामिलनाडु) के परिसर मे आयोजित तीन दिवसीय प्रतिनिधि सभा बैठक के दौरान देश व समाज से जुड़े अहम विषयों पर चर्चा हुई , साथ ही प्रांत अनुसार संघ कार्य का अवलोकन भी किया गया  और आगामी कार्य योजना पर चर्चा हुई . अनुसांगिक संगठनों से प्रमुख रूप में विश्व हिंदू परिषद, राष्ट्र सेविका समिति, स्वदेशी जागरण मंच, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विश्व विभाग, संस्कार भारती, भारत विकास परिषद, भाजपा के प्रमुख पदाधिकारी सहित अन्य संगठन  इस बैठक मे भाग लिया।    राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा-2017- में   पश्चिम बंगाल में बढ़ती जिहादी गतिविधियाँ  पर प्रस्ताव अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा, पश्चिम बंगाल में जिहादी तत्वों के निरन्तर बढ़ रहे हिंसाचार, राज्य सरकार द्वारा मुस्लिम वोट-बैंक की राजनीति के चलते राष्ट्र-विरोध

संघ की अ.भा.प्रतिनिधि सभा 2017 : वार्षिक प्रतिवेदन

इमेज
कोयंबटूर (तामिलनाडु) 19 मार्च 17.   राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की निर्णय लेने वाली सर्वोच्च इकाई  “अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा”  का विधिवत शुभारंभ मा.सरसंघचालक डॉ. मोहन जी भागवत तथा सरकार्यवाह श्री भय्या जी जोशी ने किया. श्री अमृता विश्व विध्याश्रम, कोयंबटूर (तामिलनाडु) के परिसर मे आयोजित तीन दिवसीय प्रतिनिधि सभा बैठक के दौरान देश व समाज से जुड़े अहम विषयों पर चर्चा हुई , साथ ही प्रांत अनुसार संघ कार्य का अवलोकन भी किया गया  और आगामी कार्य योजना पर चर्चा हुई . अनुसांगिक संगठनों से प्रमुख रूप में विश्व हिंदू परिषद, राष्ट्र सेविका समिति, स्वदेशी जागरण मंच, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद, विश्व विभाग, संस्कार भारती, भारत विकास परिषद, भाजपा के प्रमुख पदाधिकारी सहित अन्य संगठन  इस बैठक मे भाग लिया।  राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की  अ.भा. प्रतिनिधि सभा 2017  – सरकार्यवाह जी द्वारा प्रस्तुत वार्षिक प्रतिवेदन, कार्य स्थिति व विशेष कार्यक्रम पू. सरसंघचालक जी, आदरणीय अखिल भारतीय पदाधिकारी गण, अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल के सदस्य, निमंत्रित एवं विशेष निमंत्रित बंधु, अखिल भारतीय प्रतिनिधि स

विश्व क्षितिज पर भारत का गौरव स्थापित करना है : साध्वी ऋतम्भरा

इमेज
विश्व क्षितिज पर भारत का गौरव स्थापित करना है -साध्वी ऋतम्भरा उपाख्य दीदी मां, संस्थापक, वात्सल्य ग्राम, वृन्दावन पूर्णाहुति समारोह में दीदी मां के वक्तव्य के प्रमुख अंश- परम पूज्य श्री गुरुजी कहा करते थे कि निष्क्रियता सभी प्रकार के श्रेष्ठत्व को नष्ट कर देती है। इसलिए सज्जनों को सक्रिय, संगठित और समाज के लिए अपनी योग्यता का योगदान देना बहुत जरूरी है। आज आवश्यकता यह है कि भारत, भारत के रूप में स्थापित हो। भारत को भारत के रूप में देखने की दृष्टि हमारे ऋषि-पुरखों ने कुछ यूं बताई है- कोई खुशी नहीं अपनी भर, कोई पीड़ा नहीं पराई, चाहे मरघट का मातम हो, चाहे बजे कहीं शहनाई, हर घटना मुझमें घटती है, मैं सबका मानस विराट हूं, सात स्वरों की बांसुरिया में, कहीं हंसी है कहीं रुलाई, जग मुझमें हंसता गाता है, मैं सबका मानस मंथन हूं, चाहे कोई जगे योग से, समझो मैं समयुक्त हो गया, कोई बुद्ध हुआ क्या जैसे, मुझमें ही कुछ बुद्ध हो गया, कोई मुक्त हुआ क्या जैसे, मुझमें ही कुछ मुक्त हो गया, हर पनघट मेरा पनघट है, हर गागर मेरी गागर है, चाहे कोई भी पानी पिए, कंठ

योगी आदित्यनाथ : जीवन परिचय

इमेज
योगी आदित्यनाथ 1_ उत्तराखंड के पौड़ी जिले में आदित्यनाथ का जन्म हुआ था. 2 _ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान आदित्यनाथ एबीवीपी से जुड़े. 3 _2014 में पांचवी बार दो लाख से ज्यादा वोटों से जीतकर सांसद चुने गए. 4 _19 मार्च 2017: योगी आदित्यनाथ देश के सबसे बड़ी विधानसभा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने !. योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय ,  जन्म से लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री तक का सफर https://khabar.ndtv.com अभिषेक कुमार द्वारा लिखित : रविवार मार्च 19, 2017 गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अब तक लोग एक सांसद के रूप में जानते थे, लेकिन उन्हें इतना बड़ा पद मिलने के बाद लोग उनके बारे में जानना चाहते हैं. हम आपके लिए योगी आदित्यनाथ के जीवन के अब तक के सफर की कहानी लेकर आए हैं. आप नीचे जान पाएंगे किस साल अजय सिंह नेगी ने संन्यास अपनाकर योगी आदित्यनाथ बन गए. आप जान पाएंगे कि गणित का तेज तर्रार छात्र के साथ ऐसा क्या हुआ जो वह पहले संन्यासी और फिर राजनेता के रूप में अपनी पहचान बनाने में सफल रहा. ऐसे ही सवालों के जवाब के लिए नीचे टाइमलाइन में पढ़ें योगी आदि

जितना बड़ा अपराधी, उतनी ऊपर पहुंच:प्रधान न्यायाधीश जे एस खेहर

इमेज
भारत के प्रधान न्यायाधीश, न्यायमूर्ति जे एस खेहर की तारीफ करनी होगी कि उन्होने अन्याय के सच को बडी बेवाकी से व्यक्त किया । अन्याय छेल रहे पीडितों के पक्ष में काम करने का आव्हान किया । उनकी साहसी पहल को सलाम करते हुये , आशा कर सकता हूं कि बडे अपराधियों ओर बडे पूजीपतियों एवं बडे लोगों की गिरफ्त से भारतीय न्याय व्यवस्था को मुक्त करानें में उनकी पहल अहम सफलता का मार्ग प्रशस्त करेगी। - अरविन्द सिसोदिया, कोटा 9414180151 सीजेआई खेहर ने भारत को बताया अनूठा देश,  कहा- जितना बड़ा अपराधी, उतनी ऊपर पहुंच Last Updated: Saturday, March 18, 2017 http://zeenews.india.com नयी दिल्ली: देश के प्रधान न्यायाधीश जे एस खेहर ने शनिवार (18 मार्च) को विधि कार्यकर्ताओं का आह्वाहन किया कि वे 2017 को अपराध पीड़ितों के लिए काम करें. उन्होंने दुष्कर्म पीड़ितों या तेजाबी हमले के शिकार अथवा अपने घर के एकमात्र रोजी रोटी कमाने वाले को गंवाने वालों की परिस्थितियों पर हैरानी व्यक्त करते हुये कहा कि अपराधियों की तो आखिरी उपाय तक न्याय के लिये पहुंच होती है. प्रधान न्यायाधीश ने विधि कार्यकर्ताओं से ऐ

प्रणब मुखर्जी ने नरेंद्र मोदी और अटल बिहारी वाजपेयी की खुलकर तारीफ की

इमेज
   प्रणव मुखर्जी : - ' मोदी का काम करने का अपना तरीका है। हमें इसके लिए उन्हें क्रेडिट देना चाहिए कि उन्होंने किस तरह से चीजों को जल्दी सीखा है। एक शख्स सीधे स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन से आता है और यहां आकर केंद्र सरकार का हेड बन जाता है। इसके बाद वह दूसरे देशों से रिश्तों, एक्सटर्नल इकाेनॉमी में महारत हासिल करता है। वह बड़े मसलों से निपटता है। किसी भी प्रधानमंत्री को इसकी इनडेप्थ नॉलेज हासिल करनी होती है। मोदी ने यह किया।' मोदी ने तेजी से काफी कुछ सीखा है: प्रणब;  वाजपेयी के बारे में भी की तारीफ Dainikbhaskar.com | Mar 17, 2017 नई दिल्ली. प्रणब मुखर्जी ने नरेंद्र मोदी और अटल बिहारी वाजपेयी की शुक्रवार को खुलकर तारीफ की। इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में प्रणब ने कहा कि स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन से आए मोदी ने केंद्र में तेजी से चीजों को सीखा और नए रोल में खुद को बखूबी ढाला। प्रणब ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की तारीफ में भी कहा कि उनका काम करने का तरीका एकदम अलग था। वे अपने साथियों की फिक्र किया करते थे। और क्या बोले प्रणब... मोदी राज्य से आए और केंद्र में महारत हासिल कर ली

पीएम मोदी हैं 'मैन ऑफ द मैच'

इमेज
विधानसभा चुनाव 2017: नतीजों के राष्ट्रीय राजनीति पर होंगे ये 10 असर टाइम्स न्यूज नेटवर्क | Updated: Mar 11, 2017 नई दिल्ली पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में बीजेपी की बंपर जीत के मायने निकाले जाने लगे हैं। हर कोई 4  राज्यों में बीजेपी के शानदार प्रदर्शन को मोदी की जीत करार दे रहा है। इसमें कुछ अतिशयोक्ति भी नहीं लगता। वहीं, पंजाब में अपनी झाड़ू से अकाली-बीजेपी की सफाया करने गई आम आदमी पार्टी पंजाब में फ्लॉप होने के साथ ही गोवा में खाता तक नहीं खोल पाई। हालांकि यूपी में महज 7 सीटें हासिल करने वाली कांग्रेस ने पंजाब में जरूर अपनी लाज बचा ली। जानें, इस जीत से देश की राजनीति पर होंगे कौन से 10 बड़े असर... 1. पीएम मोदी हैं 'मैन ऑफ द मैच' राजनीतिक पंडितों के कयासों को गलत साबित करते हुए 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों ने साबित किया है कि पीएम मोदी की लहर कम नहीं हुई है, बल्कि और तेज रफ्तार पकड़ चुकी है। यदि 2014 में पीएम मोदी की जीत की वजह उनका करिश्मा था तो आज यह और बढ़ चुका है। बीजेपी ने यूपी और उत्तराखंड में बड़ी जीत हासिल की है। इन दोनों

देश के गरीबों की ताकत को समझता हूं : नरेंद्र मोदी

इमेज
खास बातें ०१_'चुनाव में कौन जीता, कौन हारा, मैं इस दायरे में सोचने वालों में नहीं हूं' ०२-'जिन्होंने वोट दिया भाजपा सरकार उनकी भी, जिन्होंने नहीं दिया उनकी भी' ०३-'मैं ऐसा पीएम हूं जिससे पूछा जाता है, इतनी मेहनत क्यों करते हो' देश के गरीबों की ताकत को समझता हूं,  जीत के बाद और अधिक नम्र होना हमारी जिम्मेदारी : पीएम मोदी सुनील कुमार सिरीज द्वारा लिखित, अंतिम अपडेट: रविवार मार्च 12, 2017 https://khabar.ndtv.com/news/assembly-polls-2017/pm-narendra-modis-assembly-elections-victory-speech-at-bjp-headqaurter-1668901         नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के बाद बीजेपी हेडक्वार्टर में आयोजित अभिनंदन समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में चुनाव सिर्फ सरकार बनाने के लिए नहीं होते हैं, बल्कि यह लोकशिक्षण का माध्यम भी है. उन्होंने कहा कि अकल्पनीय भारी मतदान के बाद अकल्पनीय भारी विजय होता है, यह पोलिटिकल पंडितों के लिए विचार करने को मजबूर करता है. भावनात्मक मुद्दों के अलावा विकास एक कठिन चुनावी मुद्दा हो

प्रदेश के विकास के लिए हर चुनौती मंजूर : मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे

इमेज
राज्यपाल के अभिभाषण पर मुख्यमंत्री का जवाब जयपुर, 2 मार्च 2017 मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा है कि जहां चाह है, वहां राह है। इसीलिए हमें भी प्रदेश के विकास के लिए हर चुनौती मंजूर है। उन्होंने कहा कि उन्हें अपने आप पर, अपनी पार्टी पर, विपक्ष पर और प्रदेश की जनता पर पूरा भरोसा है कि वह विकास की ओर उठाए गए हर कदम में हमारा भरपूर साथ देंगे। मुख्यमंत्री गुरूवार को विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब दे रही थीं। उन्होंने कहा कि यह अभिभाषण मात्र एक वर्ष की उपलब्धियां नही बल्कि पिछले तीन वर्ष में निष्ठा और लगन से किये गये टीम राजस्थान के प्रयासों का परिणाम है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने भेदभाव से ऊपर उठकर हर क्षेत्र में विकास को गति देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि जो विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस पार्टी के गढ़ माने जाते हैं उन क्षेत्रों के विकास में हमने कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने कहा कि झुंझुनूं विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस 11 बार जीती, जबकि हमारी पार्टी को दो बार ही मौका मिला। सुराज संकल्प यात्रा के दौरान हमने उनकी अधिक