पोस्ट

जून 6, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

भाजपा का महासंपर्क अभियान 2015 शुरू

इमेज
भाजपा का संपर्क अभियान शुरू महासंपर्क अभियान Š लगभग 10.5 करोड सदस्यों के साथ भाजपा दुनिया की सबसे अध्ािक सदस्यों वाली राजनीतिक पार्टी Š संपर्क अभियान 3 महीने चलेगा Š सभी कार्यकर्ताओं तक पहुंचने की कोशिश Š जिला स्तर से राष्टन्न्ीय स्तर तक का एक व्यापक डाटाबेस तैयार होगा Š जन संपर्क अभियान के बाद भाजपा एक बड़ा प्रशिक्षण कार्यÿम चलाएगी Š यह कार्यÿम भी तीन माह चलेगा और उसमें 15 लाख कायकर्ता हिस्सा लेंग ध्ाानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में भाजपा अध्यक्ष श्री अमित शाह ने 1 मई को भारतीय जनता पार्टी का संपर्क अभियान प्रारम्भ किया। प्रध्ाानमंत्री श्री मोदी भाजपा के पहले सदस्य हैं, जिनसे भाजपा ने संपर्क किया है। अभियान के अंतर्गत पार्टी के सभी 10 करोड़ से अध्ािक सदस्यों से संपर्क किया जाएगा। इस दौरान सभी सदस्यों को पार्टी की विचारध्ाारा और सरकार की उपलब्ध्ाियों से सम्बंध्ाित साहित्य व राष्टन्न्ीय अध्यक्ष का पत्र दिया जाएगा। भारतीय जनता पार्टी के संविध्ाान के अनुसार हर छह साल बाद भाजपा सदस्यों को नए सिरे से सदस्यता देकर उसकी पुष्टि की जाती है और साथ ही नए सद

‘भाजपा विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी’

सांगठनिक गतिविधियां: सदस्यता अभियान ‘भाजपा विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी’ गत 30 अप्रैल को दिल्ली में पार्टी मुख्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में भाजपा के राष्टन्न्ीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने वक्तव्य जारी कर पार्टी द्वारा संपन्न सदस्यता अभियान के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि भाजपा दस करोड़ से भी अध्ािक सदस्य वाली विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। दस करोड़ से भी अध्ािक लोगों को पार्टी का सदस्य बनाकर भारतीय जनता पार्टी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बन गयी है। राजनीतिक दलों के अंदर नये सदस्यों की भर्ती-प्रÿिया के विषय में भाजपा ने आध्ाुनिक सूचना तंत्र का कल्पनापूर्ण उपयोग करते हुये नया कीर्तिमान स्थापित किया है। पार्टी ने मोबाइल फोन के माध्यम से टोल ›ी नम्बर का उपयोग करते हुये लगातार 6 महीने यह अभियान चलाया, जिसके चलते पार्टी अब सुदूर अरूणाचल प्रदेश के इस्ट कामेंग जिले से कच्छ तक और कारगिल से कन्या कुमारी तक हर तहसील में उपस्थित है। आध्ाुनिक तकनीक के उपयोग के कारण भारतीय जनता पार्टी का यह अभियान शत-प्रतिशत लोकतांत्रिक, पारदर्शी और सर्वसमावेशी हुआ, जिससे पार्टी का सामा

गोधरा में कैसे गुम हो गए सैकड़ों पाकिस्तानी ? - आईबीएन-7

बड़ा खुलासा: गोधरा में कैसे गुम हो गए सैकड़ों पाकिस्तानी? June 05, 2015  नवज्योत आईबीएन-7 नई दिल्ली। आईबीएन 7 ने एक वर्ल्ड एक्सक्लूसिव खुलासा किया है इस खुलासे की कहानी का एक सिरा जुड़ा है पाकिस्तान से और दूसरा गुजरात के गोधरा से। आप ये जानकर हैरान रह जाएंगे कि अचानक गोधरा आने वाले पाकिस्तानी नागरिकों की गिनती 10 गुना बढ़ गई। 2014 में कुल 2026 पाकिस्तानियों ने गोधरा का रुख किया यानी हर दिन औसतन 6 पाकिस्तानी नागरिक गोधरा पहुंचे। सवाल उठता है क्यों? दरसअल, गोधरा में 13 साल पहले जो कुछ हुआ,  उसका  जिक्र भी नहीं करना चाहते यहां के लोग। उस दशहत को भुला देना चाहते हैं यहां के लोग जो कभी इस शहर की तकदीर बन चुकी थी। बड़ा खुलासा: गोधरा में कैसे गुम हो गए सैकड़ों पाकिस्तानी? 2014 में कुल 2026 पाकिस्तानियों ने गोधरा का रुख किया यानी हर दिन औसतन 6 पाकिस्तानी नागरिक गोधरा पहुंचे। लेकिन कोई है जो वे नाजुक जज्बात फिर कुरेदना चाहता है और उन लोगों का रिश्ता है हमारे उस पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से है। ये खबर पहले भी आती रही हैं कि 2002 के गोधरा दंगों को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने हवा दी थी। ल