पोस्ट

फ़रवरी 28, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

देवभूमि भारत विश्व का मार्गदर्शन करने में सक्षमः इंद्रेश कुमार

इमेज
देवभूमि भारत विश्व का मार्गदर्शन करने में सक्षमः इंद्रेश कुमार अंग्रेजी नववर्ष पर मीडिया के बड़े हिस्से में दीवानगीः अद्वैता काला भारतीय नववर्ष अपनी  कालगणना पर आधारितः नरेंद्र तनेजा नोएडा 16.2.2017. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक इन्द्रेश कुमार ने  भारतीय नव वर्ष को त्योहार के रूप में मनाने पर बल दिया। प्रेरणा जनसंचार एवं शोध संस्थान (नोएडा-उत्तर प्रदेश) की पत्रिका केशव संवाद के चुनाव: लोकतंत्र का पर्व विषयक विशेषांक के लोर्कापण अवसर पर उन्होंने भारतीय नववर्ष की समग्र परिकल्पना पर प्रकाश डाला और कहा कि भारतीय नववर्ष वस्तुतः कालगणना पर आधारित है और पूरे भारत में विभिन्न रूपों में मनाया जाता है। कहीं विक्रमी संवत तो कहीं युगाब्द के रूप में इसकी प्रतिष्ठा है। उन्होंने कहा कि भारतीय नववर्ष वस्तुतः भारतीय संस्कृति और परंपराओं की राष्ट्रीय अभिव्यक्ति है। यह सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की आधारभूमि है। भारत देवभूमि है और वह संपूर्ण विश्व का मार्गदर्शन करने में सक्षम है। इसकी स्वीकार्यता जनमानस में है और इसमें जितनी जनहिस्सेदारी बढ़ेगी, उतना ही भारतीय समाज एकजुट होगा और उसको म