पोस्ट

जनवरी 21, 2018 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बसंत पंचमी : अरविन्द सिसौदिया

इमेज
22 जनवरी 2018  को बसंत पंचमी की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें! - अरविन्द सिसौदिया,जिला महामंत्री भाजपा कोटा ! देश भर में खासतौर से उत्तर भारत में बसंत पंचमी का त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है. बसंत पंचमी के दिन व‍िद्या की देवी सरस्वती का जन्म हुआ था इसलिए इस दिन सरस्वती पूजा का व‍िधान है.किसानों के लिए इस त्योहार का विशेष महत्व है. बसंत पंचमी पर सरसों के खेत लहलहा उठते हैं. चना, मसूर ,धनिया और गेहूं की बालियां ख‍िलने लगती हैं. इस दिन से बसंत ऋतु का प्रारंभ होता है. यूं तो भारत में छह ऋतुएं होती हैं लेकिन बसंत को ऋतुओं का राजा कहा जाता है. इस दौरान मौसम सुहाना हो जाता है और पेड़-पौधों में नए फल-फूल पल्लवित होने लगते हैं. इस दिन कई जगहों पर पतंगबाजी भी होती है. ------------------------------------- बसंत पंचमी 2018 :  इस खास समय में ऐसे करें मां सरस्वती की पूजा माघ माह की शुक्ल पंचमी को बसंत पंचमी का पर्व मनाया जाता है, यह तिथि वागीश्वरी जयंती और श्री पंचमी के नाम से भी जानी जाती है | माघ माह की शुक्ल पंचमी को बसंत पंचमी का पर्व मनाया जाता है. इस माह में गुप्त नवरात्रि भी म