रविवार, 30 सितंबर 2012

पाक के लिए जासूसी : दंपति गिरफ्तार

 
Sunday, September 30, 2012
पाक के लिए जासूसी करने वाले दंपति गिरफ्तार, घर से मिले दस्तावेज
अमृतसर/ब्यूरो
au
couple arrested for spying for pakistan

पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले आरोपी दंपति की गिरफ्तारी के बाद शनिवार को तरनतारन जिला पुलिस ने दंपति के घर और महिला के ऑफिस पहुंच वहां काफी रिकार्ड खंगाला।

आरोपी महिला सुखप्रीत कौर सेल टैक्स विभाग के जिस सेक्शन में काम करती थी, पुलिस ने उसका रिकार्ड अपने कब्जे में ले लिया है। दूसरी ओर पुलिस ने दंपति को सहयोग करने वाली भगवंतजीत कौर उर्फ हैप्पी की तलाश के लिए छापामारी शुरू कर दी है। इसके साथ ही सीमांत जिले अमृतसर और तरनतारन में सुरक्षा और खुफिया एजेंसियों को सतर्क कर दिया गया है।

शनिवार को पुलिस ने आरोपी सूरजपाल सिंह और उसकी पत्नी सुखप्रीत कौर के घर थाना भिक्खीविंड के गांव सांदरा में छापामारी करके वहां से काफी रिकार्ड अपने कब्जे में ले लिया। इस रिकार्ड से पुष्टि हुई है कि इस दंपति का संबंध पाकिस्तान के नशीले पदार्थों के मशहूर तस्कर राणा के साथ है।

राणा के संबंध पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ बताए जाते हैं। सुखप्रीत कौर सेल टैक्स विभाग में अधिकारी है। वह अपने पति और एक अन्य साथी भगवंतजीत कौर के साथ मिल कर सीमांत क्षेत्र में मौजूद बीएसएफ और सेना के मोर्चों, छावनियां, दरियाओं के पुल, सुरक्षा एजेंसियों के अड्डों आदि के नक्शे और अन्य खुफिया रिपोर्टें राणा को भेजती थी। राणा यह सामग्री आईएसआई को देता था।

एजेंटों से कर आई सांठगांठ
राणा के साथ सुखप्रीत कौर के संबंध तब बने जब वह धार्मिक जत्थों के साथ सिख गुरुधामों के दर्शन करने के लिए पाकिस्तान गई थी। वह दो बार वहां गई थी। इस दौरान उसका संपर्क वहां राणा के एजेंटों के साथ हो गया और जासूसी शुरू कर दी। जब भिक्खीविंड थाना पुलिस को इसकी सूचना मिली तो सुखप्रीत कौर और उसके पति सूरजपाल सिंह को दबोच लिया।

सेल टैक्स विभाग के कर्मचारियों से भी होगी पूछताछ
फिलहाल इस दंपति के घर से ऐसे काफी दस्तावेज और सेना के साथ संबंधित रिकार्ड बरामद हुआ है, इससे यह पुष्टि हुई है कि आरोपी पाकिस्तान के जासूसी करते थे। तरनतारन के एसएसपी कमलजीत सिंह ने बताया कि रिमांड के दौरान दंपति ने बहुत सारी बातों का खुलासा किया है। अब उसके विभाग के कुछ कर्मचारियों से भी पुलिस पूछताछ करेगी। इसके साथ देश की गुप्तचर एजेंसियों ने अब सीमांत क्षेत्रों में विभिन्न सरकारी विभागों में काम करने वाले कर्मचारियों के पर भी नजर रखने के लिए रणनीति बनानी शुरू कर दी है। शनिवार को कुछ खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों ने भी अमृतसर जिले के सेल टैक्स विभाग का रिकार्ड खंगाला है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें