पोस्ट

सितंबर 27, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

संयुक्त राष्ट्र संघ में नरेन्द्र मोदी विश्व नेता के रूप में उभरे

इमेज
संयुक्त राष्ट्र में मोदी का आह्वान, चलिए 'जी-ऑल' बनाते हैं सितम्बर 27, 2014 संयुक्त राष्ट्र: नई शब्दावलियों का उपयोग करने और बेहतरीन वक्ता के तौर पर पहचान रखने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज संयुक्त राष्ट्र में 'जी-ऑल' के रूप में नयी शब्दावली का इस्तेमाल किया और कहा कि कई तरह की चुनौतियों का सामना करने के लिए अलग अलग समूहों को मिलकर ठोस प्रयास करना चाहिए। मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 69वें सत्र को संबोधित करते हुए कहा, 'आज, हम अब भी कई 'जी' (समूहों) में विभिन्न संख्या में काम कर रहे हैं। भारत भी इनमें से कई में शामिल है। परंतु हम जी-1 या जी-ऑल के रूप मिलकर काम करने में कितना सफल हुए हैं।' उन्होंने कहा कि जी-5, जी-20 जैसे समूहों के नाम बदलते रहते हैं, लेकिन हमें जी-ऑल की जरूरत है, ताकि कई लक्ष्यों को पूरा किया जा सके और पूरे विश्व में लोगों के जीवन में सुधार किया जा सके। प्रधानमंत्री ने कहा, 'एक तरफ हम कहते हैं कि हमारे भाग्य एक दूसरे से जुड़े हुए हैं, दूसरी तरफ हम अब भी नफा-नुकसान की शतो' में सोचते हैं। अगर दूसरे को लाभ होता है,