पोस्ट

फ़रवरी 2, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

महापुरूषों की प्रेरणा से समाज आगे बढ़ता है : मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे

इमेज
जनता हमारी भगवान, हम उसके पुजारी 2 फरवरी, 2017 मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि जनता ही हमारे लिए भगवान है। एक सच्चे पुजारी की तरह हम जनता की सेवा करते हुए राजस्थान को विकास में सिरमौर बनाएंगे। उन्होंने कहा कि ईश्वर की कृपा, संत-महात्माओं के आशीर्वाद तथा कड़ी मेहनत से हम इस काम में जरूर कामयाब होंगे। श्रीमती राजे गुरूवार को बाड़मेर के बायतू चिमनजी में श्री खेमाबाबा मंदिर के प्राण-प्रतिष्ठा एवं भागवत कथा महोत्सव के अवसर पर हजारों की संख्या में उपस्थित श्रद्धालुओं को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि हमने अपने काम के दम पर राजस्थान को कई क्षेत्रों में अव्वल पायदान पर ला दिया है। सौर ऊर्जा, भामाशाह योजना, कौशल विकास, स्वच्छ भारत अभियान आदि क्षेत्रों में राजस्थान अग्रणी है। महापुरूषों की प्रेरणा से  समाज आगे बढ़ता है मुख्यमंत्री ने कहा कि खेमाबाबा के इस पावन धाम में आकर मैं अभिभूत हूं। यहां के दर्शन मात्र से ही लोगों की मनोकामना पूरी होती है। वे ऐसे महान संत थे, जिनकी पूजा सिर्फ बायतू-बाड़मेर में ही नहीं, सम्पूर्ण मारवाड़ और गुजरात में होती है। पूरे मालानी क्षेत्र क

किसानों, गांवों , गरीबों एवं युवाओं को समर्पित बजट : मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे

इमेज
किसानों, गांवों , गरीबों एवं युवाओं को समर्पित बजट : मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे 1 फरवरी, 2017 मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने केन्द्रीय वित्त मंत्री श्री अरूण जेटली द्वारा बुधवार को संसद में प्रस्तुत आम बजट का स्वागत करते हुए कहा कि यह बजट किसानों, गरीबों एवं युवाओं को समर्पित है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बजट में अन्त्योदय योजना के तहत महात्मा गांधी की 150वी जयंती (वर्ष 2019) तक एक करोड़ परिवारों को गरीबी से निजात दिलाने और अगले पांच वर्षों में किसानों की आय दुगनी करने के लक्ष्य रखे गये हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि गांव, गरीब और किसान प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में हैं। उन्होंने कहा कि पूंजीगत व्यय में बढ़ोतरी में ढांचागत विकास बढ़ेगा व रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। श्रीमती राजे ने कहा कि किसानों को 60 दिन की ब्याज माफी, नाबार्ड में स्थापित दीर्घावधि सिंचाई निधि को 20 हजार करोड़ रुपये से बढ़ाकर 40 हजार करोड़ रुपये करना, 5000 करोड़ रुपये की आरंभिक निधि के साथ नाबार्ड में सूक्ष्म सिंचाई निधि की स्थापना, कृषि विज्ञान के

राजनैतिक चंदे के धंधे पर सर्जीकल स्ट्राईक - अरविन्द सिसोदिया

इमेज
राजनैतिक चंदे के धंधे पर सर्जीकल स्ट्राईक साबित होगा मोदी सरकार का बजट राजनैतिक चंदे की स्वतंत्रता , स्वच्छंदता और भ्रष्टता पर कोई सरकार कार्यवाही नहीं कर पाई । यहां तक सारे दल स्वार्थवश अपनी तन्खाह - भत्ते बढ़ानें में भी सदन में एक जुट होते ही रहे है। यह दम एक निस्वार्थी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी में ही था जो कि उन्होने राजनैतिक स्वच्छता का बिगुल बजाते हुये । राजनैतिक चंदे को लेकर कठोर नियम बनानें की पहल की। जो राजनीति गरीब को लोकतंत्र से लगभग बाहर कर चुकी है। उसमें अब गरीब का स्थान भी बन सकता हे। इस तरह की उम्मीद की जा सकती है। लूटतंत्र बन चुके हमारे लोकतंत्र का इस निर्णय से पर्याप्त स्वच्छता और पवित्रता मिलेगी। - अरविन्द सिसोदिया, जिला महामंत्री भाजपा, जिला कोटा शहर 9414180151/9509559131 ‘उत्तम’ बजट - किसानों और गरीबों के लिए, पारदर्शिता लाने और  उद्योग के लिए, शहरों के कायाकल्प और ग्रामीण विकास के लिए बजट : पीएम मोदी February 01, 2017               हमारे देश के वित्तमंत्री अरुण जेटली जी को उत्तम बजट देने के लिए बहुत-बहुत बधाई देता ह