पोस्ट

अक्तूबर 25, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

नेताजी सुभाषचन्द्र बोस, मास्को जेल में..?

इमेज
खे लेने दो नाव आज माँ, कल पतवार रहे न रहे .. जीवन सरिता की नदियों में, फिर ये धार बहे न बहे .. जीवन पुष्प चढ़ा चरणों पर, मांगे मातृभूमि से यह वर .. तेरा वैभव सदा रहे माँ, हम दिन चार रहे न रहे ....   सही तथ्य सामने आने चाहिए...! मास्को  जेल में क्या हुआ .....!! - अरविन्द सीसोदिया       राजस्थान के कोटा जिले में आयोजित प्रबुद्ध जन सम्मलेन को संबोधित करते हुए ; राष्ट्रिय स्वयसेवक सघ के पूर्व सरसंघ चालक कु. सी. सुदर्शन जी ने अपने संबोधन में एक रहस्य उजागर किया क़ी , नेताजी सुभाषचन्द्र बोस  का निधन हवाई दुर्घटना में नहीं हुआ था.., बल्कि वे १९४९ तक जीवित थे और उनसे मास्को जेल में विजयलक्ष्मी पंडित और सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने भेंट की थी.....!  वे (  विजयलक्ष्मी पंडित  ) एक जगह यह रहस्य उजागर भी करने वाली थी.., मगर जवाहरलाल नेहरु ने उन्हें रोक दिया...!! सुदर्शन जी का कहना था की नेताजी ने कूटनीतिक तोर  पर यह खबर फेलाई थी कि उनकी मृत्यु हो गई...! सच यह है कि वे पनडुब्बी और पैदल मार्ग से सोवियत संघ पहुचे थे, वहां उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया.., क्यों कि तब तक सोवियत संघ भ