पोस्ट

जनवरी 24, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

कोंग्रेस को राजनैतिक षणयंत्र में सरकारी तंत्र के दुरउपयोग से रोक जाये

इमेज
- अरविन्द सिसोदिया  कोंग्रेस को  राजनैतिक षणयंत्र में सरकारी तंत्र के  दुरउपयोग से रोक जाये , गैर कोंग्रेसी दलों को गंभीरता से सोचना चाहिए  । भारतीय जनता पार्टी जिस दिन अपना राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी को चुनने जा रही थी,ठीक उसके एक दिन पहले राजनैतिक दुर्भावना से कांग्रेस की सरकार ने आयकर विभाग से षडयंत्र के तहत गडकरी से जुडें ठिकानों पर रेड डलवाई। इस तरह के पाखण्ड में कांग्रेस को पहली बार लिप्त देखा गया। यह नैतिकता की तमाम सीमाओं से गिरा हुआ कृत्य था। इस गिरे दुष्कृत्य पर बडी राजनैतिक प्रतिक्रिया होनी चाहिये थी ताकि दुबारा कभी इस तरह का दुष्कृत्य न हो। अन्यथा यह खेल हर दल को अपमानित करने के लिये कांग्रेस सरकार बेरोकटोक जब तब करने लगेगी। इससे पूर्व में भी सी बी आई के दुरूपयोग के अनेक मामले सब के सामनें हें , लालूप्रसाद यादव , मुलायम सिंह , मायावती , चौटाला बन्धु ...सबके सब राजनैतिक कारणों से ....अटकाए और लटकाये  गएँ हें।।। ======== हम सत्ता में आए तो  आयकर अधिकारियों को बचाने सोनिया नहीं आएंगी : गडकरी जनवरी 24, 2013 नागपुर: बीजेपी अध्यक्ष की कुर्सी छोड़ने के बाद नितिन गडक

भाजपा के अब तक रहे राष्ट्रिय अध्यक्ष

इमेज
  अब तक के भाजपा अध्यक्ष  नयी दिल्लीः भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक में भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह को राष्ट्रिय अध्यक्ष बनाने के प्रस्ताव पर मुहर लगी.उसके बाद पार्टी द्वारा औपचारिक रूप से उन्हें अध्यक्ष चुन लिया गया. पार्टी के अब तक अध्यक्षः अटल बिहारी वाजपेयी भाजपा बनने के बाद 1980 से 1986 तक पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी भाजपा अध्यक्ष रहे. लालकृष्ण आडवाणी 1986 से 1991 तक लालकृष्ण आडवाणी भाजपा अध्यक्ष रहे. 1993 से 1998 तक एक बार फिर लाल कृष्ण आडवाणी को अध्यक्ष बने. 2004 में आडवाणी की एक बार फिर ताजपोशी हुई. वह 2006 तक रहे. उसके बाद जिन्ना प्रकरण के चलते उनको इस्तीफा देना पड़ा.  मुरली मनोहर जोशी 1991 से 1993 तक भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी अध्यक्ष रहे. इस दौरान इन्होंने भारत एकता यात्रा की. इसी दौरान बाबरी मस्जिद गिरी. कुशाभाऊ ठाकरे 1998 से 2000 तक रहे. बंगारू लक्ष्मण 2000 से 2001 तक भाजपा अध्यक्ष रहे. स्टिंग ऑपरेशन के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया. जेना कृष्णमूर्ति बंगारू लक्ष्मण के हटने के बाद 2001 से 2002 तक जेना कृष्णमूर्ति रहे. वेंकैया

राजनाथ सिंह जी भाजपा के निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए

इमेज
राजनाथ सिंह जी भाजपा के निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए http://prabhatkhabar.com  नयी दिल्लीः वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह को भारतीय जनता पार्टी का नया अध्यक्ष बनाया गया है. पार्टी के चुनाव अधिकारी थावरचंद गहलौत ने पार्टी मुख्यालय में इसकी घोषणा हुई. राजनाथ सिंह वर्ष 2013-15 के लिए निर्विरोध रूप से अध्यक्ष चुने गए हैं. इस मौके पर लालकृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली और वैंकेया नायडू के अलावा पार्टी के पूर्व अध्यक्ष नितिन गडकरी भी मौजूद थे, जो भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं. राजनाथ सिंह दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद संसदीय क्षेत्र से आते हैं जहां से दिल्ली पहुंचे उनके समर्थक पार्टी मुख्यालय के बाहर गाजे-बाजे के साथ जश्न मना रहे थे. वे साल 2004 से 2009 तक भाजपा के अध्यक्ष रहे. उनकी जगह नितिन गडकरी को अध्यक्ष बनाया गया था जिन्हें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का पूरा आशीर्वाद प्राप्त था. इस मौके पर गडकरी ने दोहराया कि उन्हें भ्रष्टाचार के मामलों में फंसाया जा रहा है और ये उन्हें और पार्टी को बदनाम करने की साजिश है. राजनाथ ने अध्यक्ष बनते ही गृहमंत्री पर साधा निशाना रा