पोस्ट

फ़रवरी 21, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

हम सभी भारत माता के पुत्र हैं - परम पूज्य सरसंघचालक भागवत जी

इमेज
स्मारक  के अवलोकन के  समय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक  डा. मोहन जी भागवत  ने अपने सन्देश में लिखा कि "शाश्वत सनातन भारत की रक्षा तथा संवर्धन के लिए सतत प्रेरणा देने वाले इस स्थल का उसी रूप में विकास करने का कार्य हो रहा है , सभी कार्यकर्ताओ का अभिनन्दन ".    कार्यक्रम की अध्यक्षता संत बालकदास महाराज ने की। उन्होंने कहा कि मुनि और ऋषियों के काम को संघ आगे बढ़ा रहा है। ईश्वर मनुष्य का भाग्य बनाता है और संघ मनुष्य का सौभाग्य। संघ हमें जीना सिखाता है।  कार्यक्रमके विशिष्ट अतिथि धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के अध्यक्ष ओंकारसिंह लखावत ने कहा कि इतिहास को पुन: लिखने की आवश्यकता जताई। उन्होंने कहा कि अभी तक अबुल फजल और कर्नल टाड का लिखा विकृत इतिहास पढ़ाया जा रहा है। इसमें भारत के पक्ष को ठीक से प्रस्तुत नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार देश की एकता और अखंडता का संदेश देने वाले स्मारक खड़े कर रही है। इसी कड़ी में करीब 35 स्मारक राजस्थान में बनाए जा रहे हैं।   इस अवसर पर पर विशिष्ट अतिथि पर्यटन मंत्री कृष्णेंद्र कौर दीपा  ने   लोकार्पण टिकट खरीदने